जेल में चिदंबरम-काम न आई वकीलों की फ़ौज..तिहाड़ पहुंचे पूर्व गृह मंत्री!

मनी लांड्रिंग के केस में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए पी.चितम्बरम को आख़िरकार गुरुवार रात तिहाड़ जेल भेज दिया गया..पढ़े पूरी खबर विस्तार से युगान्तर प्रवाह पर।

डेस्क:आईएनएक्स मीडिया मनी लांड्रिंग के आरोप में पिछले दिनों सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए गए देश के पूर्व गृह और वित्त मंत्री रहे वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पी.चिदंबरम को सीबीआई कोर्ट ने गुरुवार रात तिहाड़ जेल भेज दिया जहां वह आम कैदियों की तरह ही 19 सितंबर तक के लिए जेल भेज दिया है।जहां वह आम कैदियों की तरह ही बन्द रहेंगे।
सीबीआई की कस्टडी में रहे चिदंबरम बरम को जेल जाने से बचाने के लिए लगी वकीलों की फ़ौज भी काम न आई और आखिरकार गुरुवार रात उनको तिहाड़ पहुंचा दिया गया।

ये भी पढ़े-दिल्ली:नए ट्रैफिक नियमों पर पहली बार बोले केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी!क्या 2023 तक सड़को से हटा लिए जाएंगे पेट्रोल डीज़ल वाहन.?

एक मीडिया वेबसाइट में प्रकाशित ख़बर के अनुसार सात नंबर जेल में चिदंबरम एक सामान्य कैदी की तरह रहेंगे। उन्हें बिछाने के लिए तिहाड़ में बने कंबल और चादर मुहैया कराए जाएंगे। सामान्य कैदी एक कंबल का इस्तेमाल बतौर तकिया करते हैं, लेकिन चिदंबरम को हल्के फोम वाला तकिया दिया गया है। उन्हें सात कंबल दिए गए हैं। खास बात है कि चिदंबरम के कमरे में जो भी वस्तुएं रहेंगी, उनका निर्माण तिहाड़ के कैदियों द्वारा ही किया गया है।जैसे,तख्त,कंबल,तकिया और चद्दर तिहाड़ की फैक्ट्री में ही निर्मित होते हैं। जेल नंबर सात की जिस बैरक के सेल को खाली कराया गया है, उसमें केवल चिदंबरम का ही तख्त रहेगा। उस सेल के दोनों तरफ दीवार नहीं है,बल्कि लोहे की सलाखें हैं।

ये भी पढ़े-मिड डे मील नून रोटी प्रकरण-पत्रकारों पर डीएम मिर्जापुर का दिया हुआ ज्ञान पढ़कर सिर पकड़ लेंगे आप..प्रिंट मीडिया के लिए बताए नियम!

एक मीडिया वेबसाइट के अनुसार यहां पर एक पर्दा लगाकर चिदंबरम के सेल को दूसरे सेल से थोड़ा अलग बनाने का प्रयास किया गया है। आर्थिक अपराध से जुड़े दूसरे कैदी भी इसी जेल में रखे गए हैं। जेल में युवाओं को फर्श पर एक गद्दा दे दिया जाता है, जबकि बुजुर्ग कैदियों या वीवीआईपी को लकड़ी का तख्त मुहैया करा देते हैं। चिदंबरम को भी वही तख्त दिया गया है।

फतेहपुर:ज़िले में पहुंची राज्यपाल आनंदी बेन पटेल..कल करेंगी जनपद के कई स्थानों का भ्रमण.पढें पूरा कार्यक्रम।
Loading...
Comment As:

Comment (0)

-->