Up News: STF के साथ हुई मुठभेड़ में गोरखपुर का मोस्टवांटेड माफिया विनोद उपाध्याय ढेर ! यूपी के टॉप माफियाओं की सूची में था शामिल

Vinod Upadhyay Encounter STF

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले (Gorakhpur) का टॉप मोस्ट वांटेड (Most Wanted) 1 लाख रुपये का इनामी बदमाश (Rewarded Criminal) विनोद उपाध्याय (Vinod Upadhyay) एसटीएफ से हुई मुठभेड़ में ढेर हो गया. यह मुठभेड़ सुल्तानपुर में तड़के हुई थी. विनोद पर हत्या, लूट, अपहरण और फिरौती समेत 35 मामले अलग-अलग जनपदों में दर्ज थे.

Up News: STF के साथ हुई मुठभेड़ में गोरखपुर का मोस्टवांटेड माफिया विनोद उपाध्याय ढेर ! यूपी के टॉप माफियाओं की सूची में था शामिल
गोरखपुर का इनामी बदमाश विनोद उपाध्याय मुठभेड़ में ढेर, फोटो साभार सोशल मीडिया

1 लाख का इनामी बदमाश पुलिस मुठभेड़ में ढेर

उत्तर प्रदेश के 61 टॉप माफियाओं की सूची में शामिल गोरखपुर का इनामी बदमाश (Rewarded Criminal) विनोद उपाध्याय (Vinod Upadhyay) को शुक्रवार तड़के एसटीएफ (Stf) से हुई मुठभेड़ में सुल्तानपुर (Sultanpur) में ढेर (Encounter) कर दिया गया. आपको बता दें कि विनोद उपाध्याय गोरखपुर अपराध जगत में बड़ा नाम था. उसके ऊपर 3 दर्जन मामले दर्ज थे. 

पुलिस को कई दिनों से थी तलाश, लोकेशन मिली सुल्तानपुर में

विनोद उपाध्याय पिछले कई दिनों से पुलिस को चकमा देकर फरार था. एसटीएफ लगातार इसकी तलाश में थी. एसटीएफ को तड़के सुबह सुल्तानपुर में विनोद उपाध्याय के कहीं छिपे होने की सूचना मिली थी. पुलिस ने बताए गए ठिकाने पर पहुंचकर जैसे ही दरवाजा खोला तो अंदर से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू हो गयी. पुलिस की टीम ने अलग-थलग होकर जवाबी फायरिंग की जिसमें अंदर से फॉयरिंग कर रहा विनोद इस गोलीबारी में घायल हो गया.

अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उसकी मौत हो गयी. मौके से पुलिस ने एक स्टेनगन, मैगजीन, 30 एमएम की चाइनीज पिस्टल और स्विफ्ट डिजायर कार बरामद की है. विनोद उपाध्याय पर 35 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे. गोरखपुर के गुलरिहा थाने में दर्ज मामले में वह फरार चल रहा था.

कौन था माफिया विनोद उपाध्याय (Who Is Vinod Kumar Upadhyay)?

गोरखपुर जिले का मोस्ट वांटेड विनोद उपाध्याय (Vinod Upadhyay) अपराध जगत में बड़ा नाम था. मूल रूप से अयोध्या के मया पुरवा का निवासी था. शार्प शूटर के साथ ही गैंग बनाकर वारदात को अंजाम देता था. वर्ष 2007 में गोरखपुर सदर से विधायक का चुनाव भी लड़ा लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा. 

Read More: UP Paper Leak News: युवाओं के हित में सीएम योगी का बड़ा फैसला ! सिपाही भर्ती परीक्षा की निरस्त, 6 माह के भीतर दोबारा आयोजित होगी परीक्षा

जिले के टॉप 10 माफियाओं की सूची में शामिल और उत्तर प्रदेश के 61 टॉप माफियाओं की सूची में भी शामिल था. हत्या, लूट, अपहरण और फिरौती समेत 35 मामले अलग-अलग जनपदों में दर्ज थे. पिछले काफी दिनों से यह फरार चल रहा था. गोरखपुर से सटे कई जिलों में आतंक का पर्याय बना हुआ था. पिछले वर्ष ही जून में पुलिस ने इसका मकान भी ध्वस्त किया था. पुलिस के साथ लगातार आंख-मिचौली खेलता रहा. पुलिस ने पहले इसके ऊपर 50 हज़ार का इनाम रखा, बाद में बढ़ाकर 1 लाख रुपये कर दिया था. तड़के सुबह करीब साढ़े 3 बजे सुल्तानपुर में हुई पुलिस के साथ मुठभेड़ में इनामी बदमाश मारा गया.

Read More: Fatehpur News: फतेहपुर में आकाशीय बिजली गिरने से 167 भेड़ों की मौत ! कई गंभीर रूप से झुलसी, मौके पर पहुंची राजस्व टीम

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी
पेपर लीक का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब यूपी बोर्ड परीक्षा में पेपर लीक का मामला...
Anant Ambani-Radhika Pre Wedding: अनन्त अम्बानी-राधिका की प्री वेडिंग सेरेमनी में दुनिया भर से दिग्गजों का आना हुआ शुरू ! जानिए कौन-कौन हस्तियां हो रही इस भव्य समारोह में शामिल
Banshidhar Tobacco Company IT Raid: तम्बाकू कम्पनी के कानपुर समेत कई ठिकानों पर IT की रेड ! दिल्ली-गुजरात में भी छापेमारी, क्या-क्या मिला?
Mahashivratri 2024: कब हैं 'महाशिवरात्रि' का महापर्व? क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि ! जानिये पौराणिक महत्व
March Muhurat 2024: विवाह-गृह प्रवेश व मुंडन संस्कार के जान लीजिए मार्च माह के शुभ मुहूर्त और तिथि
Fatehpur Sadar Asptal: मैं मना करती रही और वो हथौड़ी चलाता रहा ! डॉक्टर की करतूत बताते हुए भावुक हो गई सिस्टर इनचार्ज
Cardiac Arrest Treatment: कार्डियक अरेस्ट आने पर नहीं मिलता है जान बचाने का मौका ! इसलिए हो जाइए सचेत

Follow Us