×
विज्ञापन

फतेहपुर:बाबा की कही एक बात ने ग्राम प्रधान की बेटी को बना दिया एसडीएम.!

विज्ञापन

यूपी लोक सेवा आयोग ने शुक्रवार को पीसीएस 2018 का फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया.फतेहपुर की एक बेटी एसडीएम के पद पर चयनित हुई है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फतेहपुर:पीसीएस परीक्षा 2018 का रिजल्ट जब शुक्रवार को घोषित हुआ तो फतेहपुर जनपद भी गौरवांवित हो उठा।क्योंकि यहाँ की एक बेटी का चयन सीधे एसडीएम के पद पर हुआ है। fatehpur news

ये भी पढ़ें-यूपी:PCS परीक्षा का रिजल्ट घोषित..अनुज नेहरा ने किया टॉप..!

जनपद के हँसवा विकास खण्ड के रमवाँ गाँव की प्रधान सीमा सिंह पति जयराज सिंह की बेटी भावना सिंह एसडीएम पद पर चयनित हुईं हैं।उल्लेखनीय है कि भावना साल 2018 में घोषित हुए पीसीएस 2016 को क्वालीफाई कर वर्तमान में कानपुर में कामर्सियल टैक्स अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं।कामर्सियल टैक्स अधिकारी बनने के बाद भी उनकी तैयारी लगातार जारी रही।उन्होंने साल 2018 की पीसीएस परीक्षा भी दी और जब शुक्रवार को इस परीक्षा के फाइनल रिजल्ट घोषित हुए तो वह ऊंची रैंक हासिल कर एसडीएम के पद पर चयनित हुईं। fatehpur pcs bhavna singh sdm

कैसे पहुँची सफलता के मुक़ाम तक..

युगान्तर प्रवाह से बातचीत करते हुए भावना के पिता जयराज सिंह बताते हैं कि उनकी बेटी बचपन से ही पढ़ने में तेज थी।हाईस्कूल तक कि शिक्षा फतेहपुर से प्राप्त कर इंटरमीडिएट बीएनएसडी शिक्षा निकेतन कानपुर से किया है।इंटर के बाद एचबीटीआई कानपुर से ही बीटेक किया।बीटेक के बाद उन्हें तुरंत अच्छी सैलरी पर बंगलौर की एक निजी कम्पनी में नौकरी मिल गई।लेकिन एक दिन जब वह घर में थी तो बेटी के बाबा प्रताप सिंह ने कहा कि बेटा हमारी इच्छा है कि हम तुम्हे नीली बत्ती में देखें।बाबा की इस बात ने भावना के अंदर अधिकारी बनने का जज़्बा पैदा कर दिया और बंगलौर की जॉब को एक साल में ही छोड़कर वह दिल्ली तैयारी करने के लिए चली गई। up pcs result 2018

ये भी पढ़ें-UP:फतेहपुर के दो प्रमुख होटलों में हो रहा था गंदा काम..कई गिरफ्तार.होटल सीज.!

पिता जयराज सिंह ने कहा कि जब साल 2018 में बेटी ने पीसीएस की परीक्षा पास की तो सभी को बहुत ख़ुशी हुई और बेटी कामर्सियल टैक्स अधिकारी बन गई।लेकिन बेटी को इससे बड़ा मुक़ाम हासिल करना है इसी लिए वह लगातार तैयारी में जुटी हुई है।आज उसका चयन एसडीएम के पद पर हुआ है तो बेटी पर बहुत गर्व हो रहा है।जयराज आगे बताते हैं कि उनका विश्वास है बेटी अभी इससे भी बड़ा मुक़ाम हासिल करेगी।उन्होंने बताया इस समय वह अक्टूबर में होने वाली आईएएस प्री परीक्षा की तैयारी के लिए दिल्ली में है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।