Ram Mandir Ayodhya: यूपी की जेलों में बंद कैदियों के लिए प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम का होगा सीधा प्रसारण ! कैदियों को उपलब्ध कराई जाएंगी धार्मिक पुस्तकें

UP Jail Live Ayodhya Ram Mandir

उत्तर प्रदेश के जेल मंत्री धर्मवीर प्रजापति (Dharmveer Prajapati) ने एलान करते हुए कहा है कि, जेलों में 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा (Life Consecration) का सीधा प्रसारण दिखाया जाएगा. इसके साथ ही दीपोत्सव का कार्यक्रम भी बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा. यही नहीं जेल में बंद कैदियों को हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) व सुंदरकांड (Sundar Kand) की पुस्तक भी दी जाएगी.

Ram Mandir Ayodhya: यूपी की जेलों में बंद कैदियों के लिए प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम का होगा सीधा प्रसारण ! कैदियों को उपलब्ध कराई जाएंगी धार्मिक पुस्तकें
जेलों में होगा प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का सीधा प्रसारण, फोटो साभार सोशल मीडिया

जेलों में प्राण-प्रतिष्ठा के कार्यक्रम का होगा लाइव प्रसारण

आगामी 22 जनवरी को अयोध्या (Ayodhya) में होने वाले राम मंदिर (Ram Mandir) के प्राण-प्रतिष्ठा (Life Consecration) को लेकर तैयारियां जोरों शोर पर है. ऐसे में इस कार्यक्रम को लेकर सभी लोग अपनी सहभागिता सुनिश्चित करने का काम कर रहे हैं तो वहीं अलीगढ़ जिला कारागार का निरीक्षण करने पहुँचे जेल मंत्री ने पहले तो जेल का जायजा लिया फिर जेल में सजा काट रहे 10 बंदियों को रिहा किया गया. क्योंकि जुर्माने की रकम अदा न कर पाने की वजह से वो बन्द थे. यहाँ जेलों में प्राण-प्रतिष्ठा का लाइव प्रसारण (Live Telecast) किया जाएगा.

सभी कैदियों को दी जाएगी धार्मिक पुस्तकें

उन्होंने कहा कि, 22 जनवरी के पहले सभी कैदियों को हनुमान चालीसा व सुंदरकांड भी दी जाएगी. पीएम द्वारा कहे जाने के बाद से ही जगह-जगह दीपोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे. यूपी की जेलों में भी इस दीपोत्सव कार्यक्रम को आयोजित करने की जिम्मेदारी जेलर (Jailer) को सौंपी गई है, इसके लिए पूरे जेल परिसर को व्यवस्थित रूप से सजाया जाएगा ताकि माहौल भक्तिमय हो सके.

उन्होंने ये भी कहा कि हम सभी के लिए बड़े ही सौभाग्य की बात है, कि हमारे देश मे राम मंदिर का निर्माण हो रहा है. हम सभी को इसका हिस्सा बनना चाहिए, साथ ही 22 जनवरी को होने वाले प्राण-प्रतिष्ठा (Life Consecration) कार्यक्रम देखने के लिए मंदिर में सैकड़ों लोग मौजूद रहेंगे, लेकिन घर बैठे लोगों के लिए भी इसका विशेष ध्यान रखा गया है. इसलिए टेलीविजन के माध्यम से इसका सीधा प्रसारण आम लोगो के लिए किया जाएगा.

अन्य धर्मों की पुस्तकों का भी कराया गया है इंतज़ाम

जेल में बंद हिन्दू कैदियों के साथ-साथ बड़ी संख्या में दूसरे धर्म के कैदी भी है. इस बात का भी विशेष ध्यान रखते हुए अन्य धर्मों की पुस्तकें भी जेल की लाइब्रेरी में उपलब्ध कराई गई है. इसका उद्देश्य ये है कि, जेल में बन्द कैदियों को अध्यात्म के साथ जोड़ा जाए जिससे कि उनके अंदर धर्म प्रति अच्छी भावना उत्पन्न हो सके.

Read More: Kannauj News In Hindi: पेपर लीक होने से हताश एक युवक ने कर ली आत्महत्या ! सुसाइड नोट पढ़कर छलक उठेंगे आंसू, अखिलेश यादव की सामने आयी प्रतिक्रिया

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Amrit Bharat Station Scheme: अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 550 से अधिक रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास ! प्रधानमंत्री ने किया शिलान्यास Amrit Bharat Station Scheme: अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 550 से अधिक रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास ! प्रधानमंत्री ने किया शिलान्यास
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रेलवे स्टेशनों के पुनर्निर्माण के लिए कई परियोजनाओं का उद्घाटन और...
Pankaj Udhas Biography In Hindi: चिट्ठी आई है गाने वाले पंकज उधास का निधन ! जानिए उनके जीवन का सफ़र
India Vs England Test Series 2024: अंग्रेज हुए पस्त ! शानदार जीत के साथ भारत ने सीरीज की अपने नाम, सीरीज में 3-1 से आगे
History Of Bhutiya Bhangarh Kila: भानगढ़ किला भारत का सबसे हांटेड प्लेस ! जहाँ शाम होने के बाद नहीं मिलता प्रवेश, क्योंकि रात में सजती है भूतों की महफ़िल
Parenting Tips: बच्चों की बेहतर परवरिश और उनके भविष्य को संवारने के लिए अपनाएं ये टिप्स
Aaj ka Rashifal 26 फरवरी 2024: इस राशि के जातक को पुराना पैसा मिल सकता है ! जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal
Oneplus 12R Refund: वनप्लस 12R सीरीज में आई ये समस्या ! अब कंपनी देगी फुल रिफण्ड, बस करना होगा ये काम

Follow Us