oak public school

यूपी में लागू हुआ एस्मा क़ानून आख़िर है क्या..!

यूपी सरकार ने तत्काल प्रभाव से राज्य में एस्मा क़ानून लागू कर दिया है..इसके लागू होने से किन लोंगो पर इसका असर होगा..आइए जानते हैं युगान्तर प्रवाह की इस रिपोर्ट में..

यूपी में लागू हुआ एस्मा क़ानून आख़िर है क्या..!

लखनऊ:कोरोना के चलते देश की अर्थ व्यवस्था पर सीधा असर हो रहा है।राज्यों में भी आर्थिक संकट के बादल मंडरा रहे हैं।जानकार बताते हैं कि आने वाले दिनों पर यह समस्या और बड़ी हो सकती है।राज्य की योगी सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को मिलने वाले कई तरह से भत्तों को पहले एक साल के लिए समाप्त किया था फ़िर पूरी तरह से समाप्त कर दिया है।जिसके विरोध में कर्मचारी सांकेतिक रूप से विरोध दर्ज करा रहे हैं।

ये भी पढ़े-UP:जंगल में मिला युवती का शव..पुलिस ने कुछ घण्टों में ही कर दिया खुलासा..प्रेमी निकला क़ातिल..!

कर्मचारियों के सांकेतिक विरोध से नाराज होकर राज्य सरकार ने प्रदेश में एस्मा क़ानून (अनुरक्षण क़ानून) लागू कर दिया है।इस कानून के लागू होने के बाद अब अगले 6 महीनों तक कर्मचारी विरोध प्रदर्शन या हड़ताल नहीं कर सकेंगे।

अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल ने बताया कि हड़ताल पर रोक के बावजूद यदि कर्मचारी नहीं मानते और आंदोलन आदि करते हैं तो सरकार इस क़ानून का प्रयोग करते हुए सख्त कार्रवाई कर सकेगी।

Read More: UP Anganwadi Bharti 2024 Last Date: जानिए आपके जिले में कितने पद, फॉर्म कब तक भरे जायेंगे

क्या है एस्मा क़ानून..

Read More: Road Accident In Pratapgarh: विंध्याचल दर्शन करने जा रही श्रद्धालुओं से भरी बस हुई हादसे का शिकार ! चारों तरफ मची चीख-पुकार तीन की मौत, 10 घायल

राज्य सरकार ने मौजूदा हालातो को देखते हुए प्रदेश में एस्मा क़ानून लागू किया है।कर्मचारी विरोध-प्रदर्शन और हड़ताल आदि न कर सकें इस पर पूरी तरह से रोक के लिए राज्य सरकार ने अत्यावश्यक सेवाओं का अनुरक्षण अधिनियम, 1966 के अंतर्गत प्राप्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए हड़ताल पर रोक लगाई है।

Read More: Gorakhpur Crime In Hindi: दहेज के लोभियों ने विवाहिता से 5 लाख रुपये की करी मांग ! रकम न मिलने पर भाभी के साथ दो देवरों ने किया रेप

एस्मा कानून के लागू होने के बाद प्रदेश सरकार के कार्यकलापों से संबंधित किसी लोक सेवा, राज्य सरकार के स्वामित्व व नियंत्रण वाले किसी निगम के अधीन सेवाओं तथा किसी स्थानीय प्राधिकरण के अधीन सेवाओं के लिए छह महीने के लिए हड़ताल निषिद्ध हो गई है।

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Lsd 2 Trailer Released: बोल्डनेस के तड़के के साथ लव, सेक्स और धोखा 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज ! पहली बार ट्रांसजेंडर मुख्य भूमिका में आएंगी नजर Lsd 2 Trailer Released: बोल्डनेस के तड़के के साथ लव, सेक्स और धोखा 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज ! पहली बार ट्रांसजेंडर मुख्य भूमिका में आएंगी नजर
अपकमिंग फिल्म (Upcoming Film), लव-सेक्स और धोखा टू (LSD2) का ट्रेलर (Trailer) रिलीज कर दिया गया है. 2 मिनट 33...
Vishu Kya Hota Hai: विशु क्या होता है ? मलयाली इसे नववर्ष के रूप में क्यों मनाते हैं, श्री कृष्ण से जुड़ी है आस्था
Haryana Crime In Hindi: ठेके के सेल्समैन से उधार मांग रहा था शराब ! फिर छिड़ा विवाद, सेल्समैन के साथी ने मार दी गोली
Mirzapur Vindhyavasini Temple: क्या है मां विंध्यवासिनी मंदिर और अष्टभुजा कालीखोह मन्दिर का इतिहास ! जानिए पौराणिक मान्यताओं के पीछे की कहानी
Fatehpur AI Voice call Scam: मैं तुम्हारा जीजा बोल रहा हूं ! 16 हज़ार भेज दो, जानिए ठगी का नया तरीका
CUET PG 2024 RESULT: सीयूईटी पीजी का परिणाम जारी ! ऑफिशियल वेबसाइट पर देखें अपना स्कोरकॉर्ड
Chaitra Navratri Par Laung Ke Totke: चैत्र नवरात्रि पर आजमाएं लौंग के टोटके व उपाय ! बन जाएंगे बिगड़े और रुके काम

Follow Us