Rajnath Singh In Kanpur: कानपुर दौरे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ! गुरु का लिया आशीर्वाद, जानिए शंकराचार्यों की एक राय न होने पर क्या बोले रक्षा मंत्री?

राजनाथ सिंह का कानपुर दौरा

देश के रक्षा मंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) 2 दिनों के कानपुर दौरे पर हैं. जहां सबसे पहले वे श्याम नगर स्थित हरिहर धाम पहुंचे जहां उन्होंने अपने गुरु से आशीर्वाद प्राप्त किया. आश्रम से निकलकर वे मीडिया से रुबरु हुए, राजनाथ सिंह ने इंडिया गठबंधन पर मचे बवाल पर बयान देते हुए कहा कि यह उनका अपना आंतरिक मामला है. इस पर टिप्पणी करने की जरूरत फिलहाल नहीं है. जैसे करना चाहते है करें हमें कोई दिक्कत नहीं है. प्राण-प्रतिष्ठा में शंकराचार्यों (ShankaraCharya) की एक राय न होने पर कहा कि यह सब मुहूर्त के आधार पर हुआ है.

Rajnath Singh In Kanpur: कानपुर दौरे पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ! गुरु का लिया आशीर्वाद, जानिए शंकराचार्यों की एक राय न होने पर क्या बोले रक्षा मंत्री?
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का कानपुर दौरा

कानपुर दौरे पर पहुंचे, रक्षा मंत्री गुरू आश्रम पहुंचकर किए दर्शन

देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) शनिवार को 2 दिन के कानपुर दौरे पर पहुंचे. उनके आगमन से पहले ही चारों तरफ कड़ी सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे. भारी पुलिस बल के साथ एयरफोर्स के जवान और आर्मी के भी जवान भी तैनात रहे. कानपुर पहुंचते ही रक्षा मंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) सबसे पहले अपने गुरु के आश्रम श्याम नगर स्थित हरिहर धाम पहुंचे जहां उनका आशीष (Blessings) प्राप्त किया. वहां से बाहर निकलते ही वे उत्तर प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना (Satish Mahana) के आवास पर भी पहुंचे. राजनाथ सिंह ने मीडिया से भी बात की.

इंडिया गठबंधन में मचे घमासान पर बोले रक्षा मंत्री

उन्होंने इंडिया गठबंधन (India Alliance) पर मचे घमासान पर पूछे गए प्रश्न को लेकर कहा कि यह उनका आंतरिक मामला (Internal Matter) है इस पर टिप्पणी करने की जरूरत नहीं है.

वे एक साथ लड़ना चाहते या अलग-अलग या फिर अकेले हमें कोई दिक्कत नहीं है. हमारे एनडीए गठबंधन का प्रश्न है तो हम लोग पॉजिटिव थिंकिंग के आधार पर राजनीति करते हैं. कौन क्या कर रहा है या नहीं कर रहा है यह उनका अपना आंतरिक मामला है.

Read More: Kanpur News In Hindi: यातायात नियमों का उल्लंघन कर रहे 'रामभक्त' ने कानून से किया खिलवाड़ ! खतरनाक रील का वीडियो सामने आने के बाद, पुलिस ने सिखाया सबक

शंकराचार्यों की एक राय न होने के सवाल पर बोले राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री (Defence Minister) राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में चार मठों के शंकराचार्यो (Shankaracharyas) की एक राय न होने के सवाल पर कहा कि यह सब मुहूर्त (Muhurt) के आधार पर हुआ है. पश्चिम बंगाल में साधु संतों पर हुए हमले पर बोलते हुए कहा कि सरकार की ओर से बहुत ठोस कदम उठाए जा रहे हैं बाद में वे सर्किट हाउस (Circuit House) के लिए रवाना हो गये जहां रात्रि विश्राम करेंगे.

Read More: Loksabha Chunav 2024: कांग्रेस से बगावत कर लाल बहादुर शास्त्री के पौत्र Vibhakar Shastri बीजेपी में शामिल, फतेहपुर से रहा है गहरा नाता

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Hamirpur Shadi News : हमीरपुर से अजब-गजब मामला ! शादी के तय दिन से एक दिन पहले बारातियों संग दूल्हे को देख आश्चर्यचकित हुए लड़की वाले, फिर किया ऐसा अब हो रही चर्चा Hamirpur Shadi News : हमीरपुर से अजब-गजब मामला ! शादी के तय दिन से एक दिन पहले बारातियों संग दूल्हे को देख आश्चर्यचकित हुए लड़की वाले, फिर किया ऐसा अब हो रही चर्चा
यूपी के हमीरपुर (Hamirpur) से एक बेहद अनोखा और अजीब तरह का मामला सामने आया है. जहां शादी की तय...
SSC Recruitment 2024: सरकारी नौकरी का ख़्वाब देखने वालों के लिए अच्छी खबर ! 2 हज़ार से ज्यादा पदों पर एसएससी ने निकाली भर्ती, क्या है योग्यता और आवेदन प्रक्रिया?
Jaya Prada Arrest Warrant: अभिनेत्री जयाप्रदा फरार घोषित ! कोर्ट ने पुलिस को दिए ये आदेश
Saharanpur Crime In Hindi: सनकी युवक ने गर्भवती पत्नी की गोली मार कर दी हत्या ! भाई की गर्दन पर भी मारी गोली पुलिस कर रही तलाश
UP Shahjahanpur Accident: शाहजहांपुर में बड़ा हादसा ! UP Board की परीक्षा देने जा रहे चार Students की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत, बड़ी संख्या में घायल
Ghaziabad News In Hindi: 3 महीने पहले हुई शादी ! साथ घूमने गए पति की हार्ट अटैक से हुई मौत, पत्नी ने किया कुछ ऐसा सब हुए हैरान
Fatehpur News: फतेहपुर में यूपी बोर्ड का कठिन पेपर ! नकलची विद्यालयों पर प्रशासन की संजय दृष्टि

Follow Us