Kanpur School Bomb Threat News: दिल्ली-जयपुर के बाद कानपुर के 10 स्कूलों को बम से उड़ाने की मिली धमकी ! पुलिस ने शुरू की पड़ताल

दिल्ली (Delhi), लखनऊ के बाद यूपी (Up) के कानपुर (Kanpur) से हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है. कानपुर के 10 नामचीन स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी (School Bomb Threat) भरे ईमेल्स (Emails) भेजे जाने के बाद हड़कम्प मच गया है. स्कूल प्रशासन ने आये हुए मेल की सूचना पुलिस को दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने समस्त स्कूलों में बम निरोधक दस्ता व डॉग स्क्वॉड के साथ पहुंचकर स्कूल परिसर में जांच-पड़ताल की. लेकिन वहां से कुछ नहीं मिला है. पुलिस के आलाधिकारियों की माने तो यह मेल रूस के सर्वर से जनरेट हुआ है, हर एंगल से जांच जारी है.

Kanpur School Bomb Threat News: दिल्ली-जयपुर के बाद कानपुर के 10 स्कूलों को बम से उड़ाने की मिली धमकी ! पुलिस ने शुरू की पड़ताल
स्कूलों को मिली धमकी, image credit original source

कानपुर के स्कूलों को मिली धमकी

राजधानी दिल्ली के बाद उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) से भी दिल दहलाने देने वाली खबर सामने आई है. जहां कानपुर के 10 नामचीन स्कूलों को बम से उड़ने की धमकी देने के बाद हड़कम्प मच गया है. स्कूल प्रशासन ने आए हुए इस मेल की कॉपी को पुलिस प्रशासन को भेजा है जिसके बाद जिन-जिन स्कूलों को बम से उड़ने की धमकी भरे मेल भेजे गए, वहां पर पुलिस ने बम निरोधक दस्ता और डॉग स्क्वायड लेकर पूरे परिसर की जांच पड़ताल शुरू की. हालांकि अभी तक पुलिस को जांच में कोई भी ऐसी चीज नहीं मिली है.

इन स्कूलों में भेजे गए धमकी भरे ईमेल्स

फिलहाल इस तरह के संदिग्ध मेल दिल्ली, जयपुर और लखनऊ के स्कूलों में भी भेजे जा चुके हैं, लेकिन वहां पर भी कोई भी गिरफ्तारी नहीं हुई और न ही इस बात का पता चला कि यह जानबूझकर किया है. फिलहाल पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेते हुए हर पहलुओं की गंभीरता से जांच कर रही है. कानपुर के जिन स्कूलों में धमकी भरे मेल भेजे गए उनमें बर्रा के केडीएमए, नौबस्ता के गुलमोहर स्कूल, सनातन धर्म स्कूल व बिठूर का चिन्तल्स स्कूल समेत 10 स्कूल शामिल हैं.

आये हुए मेल्स की जांच में जुटी पुलिस की टीमें

पुलिस की कई टीमें व क्राइम ब्रांच की टीमें इन ईमेल्स की जांच में लग गयी है. एहतियातन स्कूलों की जांच भी कराई गई. हालांकि, कहीं से कोई गड़बड़ी नहीं मिली ईमेल की जांच में पता चला कि यह वाईफाई नेटवर्क या फिर वीपीएन के जरिए भेजा गया. यह भी कहा जा रहा है कि यह मेल रूस के सर्वर से जरनेट हुआ है. 
अपर पुलिस आयुक्त हरिश्चंद्र ने बताया कि स्कूलों को मेल्स के माध्यम से बम से उड़ाने की धमकी दी गई है.

Read More: Kanpur News In Hindi: ससुराल से प्रताड़ित बेटी को दिलवाया तलाक ! फिर ढोल व गाजे-बाजे की धुन पर ससुराल से विदा कर लाये मायके, ऐसा सिखाया बेटी के पिता ने सबक

जिस पर पुलिस की टीमें सक्रिय होकर जांच पड़ताल कर रही हैं. पहले भी दिल्ली, नोएडा के स्कूलों में इस तरह के मेल भेजे गए थे वहां के अधिकारियों से यहां आए मेल्स की जानकारी की गई कि आये हुए मेल्स क्या एक जैसे या फिर अलग हैं, जिस पर जांच की जा रही है. कानपुर पुलिस ने समस्त अभिभावकों से अपील करते हुए कहा कि आप घबराए नही पुलिस आपके साथ है. हर पहलुओं की गहनता से जांच कर रहे हैं.

Read More: Amit Shah In Kanpur: कानपुर पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ! लोकसभा चुनाव को लेकर करी बैठक

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Deoria Crime News: पुलिस चौकी में युवक की बेहरमी से पिटाई ! खून की उल्टियां करने के बाद हो गयी मौत, दरोगा पर आरोप दर्ज किया गया मुकदमा Deoria Crime News: पुलिस चौकी में युवक की बेहरमी से पिटाई ! खून की उल्टियां करने के बाद हो गयी मौत, दरोगा पर आरोप दर्ज किया गया मुकदमा
यूपी (Up) के देवरिया (Deoria) में पुलिस कर्मियों ने एक युवक को इतनी बेरहमी से पीटा कि वह खून की...
Kannauj Crime In Hindi: 17 वर्षीय लड़की ने बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर पिता की कर डाली निर्मम हत्या ! घर के बाकी सदस्य भी थे निशाने पर
Kanpur Crime In Hindi: बदले की आग में जल रहे सास-ससुर ने बेटी को बनाया विधवा ! हत्या की ऐसी खौफ़नाक कहानी किसी वेब सीरीज से कम नहीं
Farukhabad Crime In Hindi: दोस्तों के साथ मिलकर कलयुगी पिता नाबालिग बेटी से करता रहा गैंगरेप ! कोर्ट ने सुनाया अपना फैसला
Motorola Edge 50 Fusion: 22 मई को लांच होने जा रहा मोटोरोला का यह किलर फोन ! फीचर्स और परफॉर्मेंस है लाजवाब
Tips To Manage Sugar Level : मधुमेह रोगियों को नुकसान पहुंचा सकती है ये गर्मी ! ऐसे करें कंट्रोल और बचाव
Fatehpur Lok Sabha Voting 2024: फतेहपुर में फंस गया चुनाव ! आपसी अंतर्द्वंद्व ने कम कर दिया जीत का आंकड़ा, सवर्ण मतदाता हुआ निर्णायक

Follow Us