×
विज्ञापन

Fatehpur News: बीडीसी प्रत्याशी सहित हुसेनगंज में बड़ी संख्या में मौत.तेज बुख़ार औऱ सांस की हो रही तकलीफ़।

विज्ञापन

फ़तेहपुर के हुसेनगंज में पिछले बीस दिनों में तेज बुख़ार और सांस की तकलीफ से लगभग 15 से 20 मौतों की बात कही जा रही है।बीती रात एक बीडीसी प्रत्याशी की तेज बुख़ार के चलते मौत हो गई।पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट..(Fatehpur Latest News Today)

फतेहपुर(Fatehpur News): जिले में लगातार कोरोना का ग्राफ बढ़ता जा रहा है ख़ासकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोग कोरोना(Corona Virus)से पीड़ित हो रहे हैं।कुछ मामलों में कोरोनो सक्रंमण की जांच के बाउजूद पॉजिटिव रिजल्ट नहीं आ रहे हैं।फिर भी उन लोगों को तेज़ बुख़ार और सांस लेने की तकलीफ देखी जा रही है। (Fatehpur Latest News Today )

ये भी पढ़ें- Fatehpur News:फ़तेहपुर का टॉप टेन अपराधी शराब माफ़िया अमरजीत पुलिस के हत्थे चढ़ा।

विज्ञापन
विज्ञापन

जिले के हुसेनगंज(Husenganj News)क्षेत्र के वार्ड नं0 39 छेंउका हुसेनगंज तृतीय से बीडीसी प्रत्याशी रीता देवी(51)पत्नी रामशरण की बीती रात मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक पिछले एक हप्ते से रीता तेज़ बुख़ार से पीड़ित थी और उसे सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। सोमवार की रात हुसेनगंज सीएससी से लौटने के बाद मौत हो गई थी। (Fatehpur Latest News Today )

हुसेनगंज क्षेत्र में तेज़ बुख़ार और सांस की तकलीफ से मर रहे लोग..

तेज़ बुख़ार और सांस की तकलीफ के चलते जिले में कई मौतें हो चुकी हैं।हुसेनगंज क्षेत्र में पिछले 20 दिनों में 15 से 20 बीस लोगों की मरने की बात कही जा रही है जिनमें हिन्दू और मुस्लिम परिवारों के लोग शामिल थे जिन्हें तेज़ बुख़ार के साथ साथ सांस की तकलीफ भी थी।

भिटौरा(Bhitaura) ब्लॉक के इंचार्ज डॉ0 विमल चौरसिया ने युगान्तर प्रवाह को जानकारी देते हुए कहा कि लोगों के अंदर कोरोनो से मिलते जुलते हुए लक्षण दिखाई दे रहे हैं।लेकिन जब उनसे क्षेत्र में हो रही मौतों के लिए पूंछा गया कि क्या कोरोना की वज़ह से मौतें हुईं हैं तो उन्होंने अपना बचाव करते हुए कहा कि जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे(IAS Apurva Dubey)द्वारा इसकी जानकारी दी जाती है।इस संबंध में मैं कुछ नहीं कह सकता हूं। (Fatehpur Latest News Today)

जगतपुर आदिल गांव में एक हप्ते में दूसरी मौत..

हुसेनगंज थाना क्षेत्र के जगतपुर आदिल (Jagatpur Adil)गांव में एक हप्ते के अंदर दो मौतें हो गई हैं। गांव के रहने वाले प्रेमसागर मिश्रा बताते हैं कि  गांव के  अधिकतर लोग तेज बुख़ार से पीड़ित हैं जिन्हें सांस लेने में भी परेशानी हो रही है। सीएम हेल्पलाइन नम्बर में कई बार इसकी शिकायत की जा चुकी है लेकिन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी गलत रिपोर्ट लगाकर भेज देते हैं। उन्होंने कहा गांव में किसी भी प्रकार की साफ सफाई नहीं की जाती है और ना ही दवा का छिड़काव होता है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।