×
विज्ञापन

UP:अब यूपी बोर्ड का एक नया कारनामा आया सामने..शुरू हुई किरकिरी..!

विज्ञापन

अनामिका केस के बाद सुर्खियों में बना हुआ यूपी का शिक्षा विभाग एक बार फ़िर चर्चा में आ गया है..इस बार मामला यूपी बोर्ड से जुड़ा हुआ है..पढ़े पूरी खबर विस्तार से युगान्तर प्रवाह पर।

लखनऊ:अनामिका शुक्ला केस के बाद से पूरे देश में चर्चा में आया यूपी का शिक्षा विभाग एक बार फ़िर से सवालों के घेरे में है।ताज़ा मामला माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) से जुड़ा हुआ है।

ये भी पढ़े-CTET Exam 2020:क्या बदल जाएगी परीक्षा की तिथि..!

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल यूपी बोर्ड में पंजीकृत दो अलग अलग परीक्षार्थियों ने एक ही रोल नम्बर से परीक्षा दी है।इनमें से एक छात्र है दूसरी छात्रा।इसका खुलासा बुधवार को प्रायोगिक परीक्षा के दौरान हुआ।

जानकारी के अनुसार आगरा के राजकीय इंटर कॉलेज शाहगंज में बुधवार को इंटरमीडिएट के परीक्षार्थियों की छूटी हुई प्रायोगिक परीक्षा हुई। लाखन सिंह इंटर कॉलेज बाह के विद्यार्थी कुलदीप और एसजीएसबी गर्ल्स इंटर कॉलेज बरारा की छात्रा आरती भी परीक्षा देने पहुंची।

ये भी पढ़े-ग्राउंड रिपोर्ट:25 जिलों में एक साथ सरकारी नौकरी कर करोड़ो रुपए हड़प करने का आरोप जिस शिक्षिका पर उसकी सच्चाई भी जान लीजिए..!

दोनों का रोल नंबर 0094522 है। एक रोल नंबर के दो परीक्षार्थी मिलने से हैरान राजकीय इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य अरुण कुमार सिंह ने इसकी जानकारी जिला विद्यालय निरीक्षक को दी।

कुलदीप और आरती के विद्यालयों के प्रधानाचार्यों ने बताया कि उन्होंने नियमित पढ़ाई की है, उनका पंजीकरण है। कुलदीप ने लिखित परीक्षा हरप्रसाद राजाराम इंटर कॉलेज, बाह में और आरती ने किशन सिंह इंटर कॉलेज, पथौली में दी थी। दोनों विज्ञान वर्ग के विद्यार्थी हैं।

ये भी पढ़े-UP:फतेहपुर पत्रकार उत्पीड़न मामला गर्माया..प्रियंका गाँधी समेत विपक्षी दलों ने सरकार व प्रशासन पर साधा निशाना.!

जिला विद्यालय निरीक्षक रवींद्र सिंह कहते हैं कि इस पूरे मामले की जानकारी बोर्ड को दी जाएगी।रोल नम्बर में गलती कैसे हुई इसकी जानकारी कराई जाएगी।

आपको बता दे कि एक साथ 25 जगहों पर नौकरी करने वाले मामले अनामिका केस की वजह से वैसे भी शिक्षा विभाग की जमकर किरकिरी हुई है।विपक्षी दल इस मामले को लेकर सरकार पर हमलावर हैं।दो परीक्षार्थियों द्वारा एक ही रोल नम्बर से परीक्षा दिये जाने वाला मामला सामने आने के बाद फिर से किरकिरी शुरू हो गई है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।