×
विज्ञापन

भारत-चीन तनाव:धोखेबाज चीनियों ने ऐसे हथियारों से किया था हमला.वायरल तस्वीर में क्या वही हथियार दिख रहे हैं..!

विज्ञापन

भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव जारी है।15-16 जून की रात हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने की पुष्टि हुई है..पढ़े युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट।

डेस्क:भारत चीन तनाव के बीच गुरुवार सुबह से सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर एक तस्वीर तेज़ी से वायरल हो रही है।इस तस्वीर में कुछ लोहे की रॉड एक जगह पर रखीं हुईं हैं।लेक़िन सबसे ख़ास बात यह है कि रॉड के एक हिस्से में नुकीले कील लगे हैं।दावा किया जा रहा है कि यह रॉड वहीं हैं जिनसे चीनी सैनिकों ने भारतीय जवानों पर हमला किया था।

ये भी पढ़े-भारत-चीन तनाव:हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 भारतीय सैनिकों के नाम की जारी हुई सूची..!

आर्मी में कर्नल रहे और डिफेंस मामलों के जानकार, बिजनेस स्टैंडर्ड से जुड़े अजय शुक्ला ने इन रॉड्स की तस्वीर ट्विटर पर शेयर की है।उन्होंने लिखा जवानों को गलवान घाटी से ऐसी रॉड्स मिली हैं।

इनके अलावा ढ़ेर सारे लोगों ने ट्वीटर, फेसबुक व अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म में इस तस्वीर को शेयर किया।बीबीसी हिंदी की रिपोर्ट के अनुसार भारत-चीन सीमा पर मौजूद भारतीय सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने भी बीबीसी को ये तस्वीर भेजी है और कहा है कि इसी हथियार से चीनी सैनिकों ने भारतीय सैनिकों पर हमला किया था।

ये भी पढ़े-UP Board Result 2020:इस बार अंकपत्र में दिखेगा ये बदलाव..जान लें परिणाम किस समय घोषित होगा..!

लेक़िन यहाँ ये स्पष्ट कर दे कि अभी तक भारतीय सेना द्वारा इस तस्वीर के बारे में आधिकारिक तौर पर कुछ भी नहीं बताया गया है।

हालांकि जानकार बताते हैं कि यह तस्वीर सही नहीं है।लेकिन ऐसी ही रॉड से हमला हुआ है यह सही है।तस्वीर में दिख रहे कील लगे लोहे के रॉड वह नहीं हैं जिनसे चीनियों ने हमला किया है।हालांकि इसी तरह कुछ दिखने वाले नुकीले कील लगे लोहे की रॉड से हमला हुआ है।इसकी पुष्टि आधिकारिक तौर पर भी हुई है।

ये भी पढ़े-कोरोना:फतेहपुर में दिल्ली से लौटे जीजा और साली निकले कोरोना पाज़िटिव..संख्या पहुँची 105.!

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, 15 जून की शाम जब 16 बिहार कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू चीन के सैनिकों से बातचीत कर रहे थे कि वो वापस चले जाएं, उस दौरान चीन के सैनिकों ने हमले की तैयारी कर रखी थी।आर्मी के सूत्रों का कहना है कि चीन के सैनिकों ने ऊंचाई पर पत्थर जमा कर रखे थे। भारतीय सैनिक ज़मीन पर थे।चीन के सैनिकों के पास प्रोटेक्टिव गियर भी थे।उन्होंने इस तरह की नुकीली आयरन रॉड जमा कर रखी थी।उन्होंने पत्थरबाजी भी की।इससे पहले डिफेंस कवर करने वाले पत्रकारों ने बताया था कि झड़प के दौरान किसी तरह की गोली नहीं चली।आयरन रॉड, नुकीले हथियार इस्तेमाल करने की बात सामने आई थी।रिपोर्ट के मुताबिक, 18-19 मई को हुई झड़प में भी चीन की तरफ से ऐसी आयरन रॉड का इस्तेमाल किया गया था।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।