×
विज्ञापन

Umar Gautam Fatehpur: सक्रिय है ज़िले में धर्मांतरण गैंग पंथुआ में ही हुए चौकानें वाले ख़ुलासे

विज्ञापन

धर्मांतरण के मामले में एटीएस द्वारा गिरफ्तार किया गया उमर गौतम अपने गृह जनपद फतेहपुर में लगातार सक्रिय रहा है ऐसी खबरें सामने आ रहीं हैं, उसके गाँव पंथुआ से ही कुछ नए तथ्य सामने आए हैं. Dhram Parivartan In Up Umar Gautam Fatehpur Letest News

Fatehpur News: ज़िले में धर्म परिवर्तन कराने वाला गैंग लगातार सक्रिय है, इसके सबूत उमर गौतम के पैतृक गाँव पंथुआ से मिले हैं।उल्लेखनीय है कि धर्मांतरण के मामले में एटीएस द्वारा गिरफ्तार किया गया मौलाना उमर गौतम ख़ुद साल 1984 में अपना धर्म परिवर्तन कर ठाकुर श्याम सिंह से उमर बना था।उमर गौतम फतेहपुर ज़िले के पंथुआ मजरे रमवा गाँव का रहने वाला है। Fatehpur Umar Gautam Latest News

विज्ञापन
विज्ञापन

श्याम सिंह (उमर) के धर्म परिवर्तन करने के बाद पंथुआ गाँव के ही दो औऱ लोगों द्वारा धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनने की बात सामने आई है।हालांकि इन दोनों को मुस्लिम धर्म की तरफ़ ले जाने में उमर की भी कोई भूमिका थी इसकी पुष्टि नहीं हो सकी है।

ग्रामीणों ने बताया कि गाँव का ही रहने वाला विजय उर्फ़ विज्जे मौर्या पुत्र रामा मौर्या कुछ सालों पहले फतेहपुर के होटल में काम करने के लिए गया हुआ था।एक दिन जब वह गाँव पहुँचा तो उसने ख़ुद के मुस्लिम धर्म अपनाने की बात बताई।जिसके बाद परिवार के लोगों ने काफ़ी समझाया बुझाया औऱ फ़िर से हिन्दू धर्म मे आने की बात कही लेकिन वह नहीं माना।इसके बाद उसने फतेहपुर में ही किसी तलाकशुदा मुस्लिम महिला से शादी कर ली थी।वर्तमान में वह फतेहपुर में ही कंही अपने परिवार के साथ रहता है।

विजय के बारे में उसके चचेरे भाई ओम प्रकाश बताते हैं कि उसने मुस्लिम धर्म स्वीकार कर एक मुस्लिम महिला से शादी कर ली है।कभी कभी गाँव आता जाता है।हालांकि परिवार में उससे अब कोई मतलब नहीं रखता है।जब यह जानने की कोशिश की गई कि किन लोगो के प्रभाव में आकर उसने मुस्लिम धर्म अपनाया है तो इसकी जानकारी वह नहीं दे पाए।

इसी तरह पंथुआ के ही रहने वाले 35 वर्षीय खेल्लन पाल  पुत्र रामधनी पाल के बारे में ग्रामीणों ने बताया कि क़रीब दस साल पहले खेल्लन एक दिन कुर्ता पायजामा औऱ टोपी पहनकर गांव आया औऱ उसने बताया कि वह अब मुस्लिम बन गया है।इसके एवज में मुझे रुपए भी मिले हैं।लेकिन खेल्लन ज़्यादा दिन तक मुस्लिम नहीं रहा वह क़रीब तीन महीने के बाद ही टोपी पायजामा आदि किसी को दे आया था।वर्तमान में खेल्लन अब कानपुर में कंही रहता है औऱ किसी काँटा बांट की दुकान में काम करता है।ग्रामीण बताते हैं कि वह मनमौजी स्वभाव का व्यक्ति था।अब वह पूरी तरह से हिन्दू ही है औऱ शादी करने के बाद कानपुर में रहकर अपने परिवार का पालन पोषण करता है।गाँव मे उसने अपने हिस्से का घर भी बेच दिया है।

विज्ञापन
विज्ञापन

उमर के सम्पर्क में रहे इलाक़े के लोग..

पंथुआ का खेल्लन जो कुछ महीनों के लिए मुस्लिम बना था उसको रुपए भी मिले थे ऐसी जानकारी गाँव के लोग देते हैं।नाम न छापने की शर्त पर कुछ ग्रामीण बताते हैं कि उमर गौतम के प्रभाव में अन्दौली,हंसवा, हथगाम, खागा, सनगांव आदि के कई पैसे वाले मुस्लिम धर्म के लोग रहे।इन लोगों के माध्यम से अंदर ही अंदर पूरे ज़िले में धर्मांतरण का खेल चलता रहा है।उमर के जब भी गाँव आया इलाक़े के रसूखदार मुस्लिम उसके साथ मौजूद रहते थे।उमर के सम्पर्क में ये लोग लगातार रहते थे।

एटीएस लिंक खोजने में जुटी..

सोमवार रात एटीयस की एक टीम पंथुआ पहुँची थी।जहाँ उसने उमर के परिवारिजनों से बातचीत की थी।गुरुवार को भी एटीएस के आने की उम्मीद थी।सूत्र बताते हैं कि एटीएस औऱ पुलिस की टीमें ज़िले में उमर के लिंक खोजने में जुटी हुईं हैं।जल्द ही उसके संर्पक में रहे लोगों से एटीएस पूछताछ कर सकती है।विदेशी फ़ंडिंग के तार भी एटीएस की जांच में शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें- Umar Gautam Fatehpur: ग्राउंड रिपोर्ट-पंथुआ में कैसा है माहौल औऱ क्या बताते हैं वहां के लोग

ये भी पढ़ें- UP Dharm Parivartan News: धर्मांतरण की आड़ में संचालित थीं आतंकी गतिविधियां डॉ. उमर गौतम उगल रहा सच्चाई!


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।