×
विज्ञापन

Winter In UP : यूपी में इस बार पड़ेगी कड़ाके की ठंड, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, माइनस में जाएगा पारा

विज्ञापन

यूपी में इस बार मानसून की विदाई औसत से 20 दिनों की देरी से हुई, अंत में हुई बारिश ने पिछले 37 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया. अब मौसम विभाग ने यूपी में कड़ाके की ठंड पड़ने की चेतावनी जारी की है.

Up Weather News Today : यूपी में इस बार देर तक हुई मानसूनी बारिश के चलते ठंड भी जोरदार पड़ने का अनुमान है.मौसम विशेषज्ञों का पूर्वानुमान है कि अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में ठंड की दस्तक होगी. इस बीच ओस का असर भी दिखाई देगा.

साथ ही कोहरा भी परेशानी बढ़ा सकती है. इससे पहले मंगलवार को पूरे प्रदेश में मौसम शुष्क रहा. यूपी की राजधानी लखनऊ में भी आसमान साफ रहा और न्यूनतम तापमान सामान्य से 3 ज्यादा 21 डिग्री सेल्सियस, जबकि अधिकतम तापमान सामान्य के बराबर 32.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ. दूसरी तरफ यूपी के ज्यादातर शहरों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 'संतोषजनक से मध्यम' श्रेणी में रिकॉर्ड हुआ है.

विज्ञापन
विज्ञापन

दरअसल, इस साल अक्टूबर के शुरुआती दूसरे सप्ताह में उत्तर प्रदेश के कई शहरों में पारा 20 से 25 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया है.जो अमूमन 20 या 25 अक्टूबर के बाद जाता है. मौसम वैज्ञानिक की मानें तो इस समय जहां वातावरण में नमी का लेवल अच्छा होगा, वहां ठंडक का एहसास ज्यादा होगा.यूपी के उत्तराखंड से सटे जिलों में ठंडक बढ़ गई है. cold in up

किसानों के लिए घातक है मौसम का ये ट्रेंड

मौसम विभाग के अनुसार, इस बार 18 अक्टूबर को मानसून की विदाई हुई। इससे पहले 2018 में 29 सितंबर को मानसून विदा हुआ था। इसके बाद 2019 में 9 अक्टूबर को मानसून की विदाई हुई.यह इतिहास में सबसे ज्यादा देरी से थी.इस साल 2019 का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सबसे ज्यादा देरी से 18 अक्टूबर हो विदाई हुई है.मौसम वैज्ञानिक जेपी गुप्ता बताते हैं कि ये ट्रेंड किसानों के लिए सबसे ज्यादा डराने वाला है. Up weather news today

मौसम वैज्ञानिक कहते हैं कि मानसून की तारीख बार-बार बदलने का सबसे ज्यादा असर किसानों पर पड़ा.वो बुआई-रोपाई की तारीख तय नहीं कर पाते हैं.कब और कितनी बारिश होगी, अब ये बता पाना भी कठिन हो रहा है winter in up

ये भी पढ़ें- UP Weather News In Hindi : क्या यूपी में अभी फ़िर होगी बारिश जानें क्या कहते हैं मौसम वैज्ञानिक

ये भी पढ़ें- Fatehpur illegal Madarasa : मदरसों की जांच में फतेहपुर में भी हुआ बड़ा खुलासा कार्रवाई की तैयारी

ये भी पढ़ें- Dhanteras पर क्यों ख़रीदी जाती है झाड़ू


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।