×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: फतेहपुर में बढ़ते कोरोना और बचाव के क्या हैं तरीके सुनिए क्या कहा जिले के सीनियर डॉक्टरों ने?

विज्ञापन

फतेहपुर में कोरोना के मामलों को लेकर जिला पुरुष अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों ने युगान्तर प्रवाह से ख़ास बातचीत करते हुए जिले के लोगों को बचाव के तरीक़े बताएं हैं जिनको आपको एक बार जरूर पढ़ना चाहिए।पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट (Fatehpur UP News Doctors at District Hospital Fatehpur gave advice and methods of rescue to prevent the growing effects of Corona)

Fatehpur UP News: देश मे कोरोना महामारी ने चारों ओर तबाही मचा रखी है वहीं इसके बदलते तरीकों ने लोगों को सोंच में डाल दिया है।ब्लैक फंगस और अब व्हाइट फंगस ने धीरे धीरे पांव पसारने शुरू कर दिए हैं।ऐसे में डॉक्टरों की सलाह से ही लोगों सही समय पर बचाया जा सकता है। जिला पुरूष अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों की एक टीम ने युगान्तर प्रवाह से ख़ास बातचीत करते हुए कोरोना महामारी से बचाव के कई तरीके बताएं हैं। जिला पुरुष अस्पताल में इसके लिए पोस्ट कोविड केयर सेंटर भी बनाया गया है जिसमें कोरोना के बाद भी लोगों को Corona से बचाव के तरीके बताए जाते हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

चेस्ट एस्पेसलिस्ट डॉ0 आर0एम0 गुप्ता ने क्या कहा...

फतेहपुर जिला पुरूष अस्पताल के सीनियर डॉक्टर और चेस्ट एस्पेसलिस्ट डॉ0आर0एम0 गुप्ता ने बताया कि Corona के नए म्यूटेंट की वज़ह से ज्यादा Corona के नए केश ज्यादा देखने को मिल रहे हैं। इससे इतर लोग शरुआती दौर में खुद अपना इलाज़ करते रहते हैं जबकि उनके अंदर कोरोना संक्रमण हो चुका होता है।ग्रामीणांचलों में लोग झोला छाप डॉक्टरों से इलाज कराते रहते हैं और जब सांस फूलने लगती है और संक्रमण बढ़ जाता है तो लोग बड़े अस्पतालों और डॉक्टरों के पास जाते हैं। जो कि बिल्कुल गलत है। उन्होंने कहा कि लोग समझ नहीं पाते और उनकी मौत हो जाती है।नया म्यूटेंट ज्यादा तर फेफड़ों में सीधे संक्रमण करता है लेकिन उसके लक्षण दिखने लगते हैं इसलिए क्वालीफाइड डॉक्टरों से जरूर परामर्श लेना चाहिए।

हृदयरोग विशेषज्ञ डॉ0 राजीव तिवारी ने क्या कहा..

जिला अस्पताल के हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ0 राजीव तिवारी बताते हैं कि कोरोना में दिल के मरीजों को ज्यादा बचाव की आवश्यकता है ख़ासकर पोस्ट कोविड के दौर पर।उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि कोविड के मरीजों को हार्ड अटैक आता है।बहुत से मरीजों को ये पता ही नहीं होता कि वो हृदय रोग के शुरुआती दौर से गुजर रहे हैं। और चिंता औऱ डिप्रेशन की वज़ह से उन्हें हार्ड अटैक हो जाता है।उन्होंने कहा कि लोगों अपने आपको डराने वाली ख़बरों से दूरी बनाते हुए अपने परिवार के साथ समय विताते हुए व्यस्त रहना चाहिए जिससे उन्हें मेंटर हेडेक नहीं होता है साथ ही योगा प्रणायाम नियमित करना चाहिए।

सीनियर फिजीशियन डॉ0एन0के0 सक्सेना ने कोरोना पर क्या कहा..

जिला पुरूष अस्पताल के वरिष्ठ परामर्शदाता डॉ0 एन0के0 सक्सेना ने बताया कि जो मरीज पहले से किसी भी बीमारी से जैसे कैंसर, शुहर, एचआईवी, हृदय रोग या सर्जरी के अलावा अन्य रोगों के मरीज हैं उन्हें बेहद सावधानी की आवश्यकता है क्योंकि ऐसे मरीजों का इम्यून सिस्टम बेहद कमजोर होता है।साथ ही जो नया वायरस है ब्लैक फंगस और व्हाइट फंगस उसकी एक बड़ी वज़ह है लोगों द्वारा एक ही मास्क का लम्बे समय तक प्रयोग करना या एक ही मास्क को कई घण्टों लगाए रखना जिससे उसमें गंदगी और नमी रहती है और उसका दुष्प्रभाव शरीर पर पड़ता है और वह नए रूप में संक्रमण फ़ैलता है।

मानसिकरोग विशेषज्ञ डॉ0 ललित प्रताप सिंह ने बचाव के क्या बताए उपाय..

फतेहपुर जिला पुरूष अस्पताल के मानसिक रोग विशेषज्ञ डॉ0 ललित प्रताप सिंह बताते हैं कि पोस्ट कोविड के दौर में लोगों के अंदर एक डर बैठ जाता है जिससे निजात माना बेहद ही जरूरी है।उन्होंने बताया कि मानसिक बीमारी से शारीरिक और शारीरिक बीमारियों की वज़ह से मानसिक बीमारियां जन्म लेती हैं।इस दौर से निजात पाने के किए मरीज को सकारात्मक विचार रखने होंगे।सावधानी रखते हुए अपने विचारों को बदलना चाहिए साथ ही जिन माध्यमो से नकारात्मक जानकारी प्राप्त हो रही हैं उनसे दूरी बनाते हुए अपने आपको व्यस्त रखना चाहिए।

आपको बतातें दे कि जिला पुरूष अस्पताल में पोस्ट कोरोना के मरीजों के लिए पोस्ट कोविड केयर सेंटर की शुरुआत की गई है जिसमें मरीज़ अपनी समस्याओं को टेलिफोन के जरिए या खुद आकर बता सकते हैं।इस पैनल में चेस्ट एस्पेसलिस्ट डॉ0 आर0एम0 गुप्ता, सीनियर फिजीशियन डॉ0 एन0के0 सक्सेना, हृदयरोग विशेषज्ञ डॉ0 राजीव तिवारी, आई एस्पेसलिस्ट डॉ0 आदर्श मिश्रा सहित फिजियोथेरेपी मोहित श्रीवास्तव सहित अन्य डॉक्टरों की एक टीम लगाई गई है जो लोगों को प्रतिदिन सलाह दे रही है।

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: केंद्रीय मंत्री Sadhvi Niranjan Jyoti ने किया Coronil का वितरण कहा पंचायत चुनाव की वज़ह से बिगड़े थे हालात।

ये भी पढ़ें- कौन थे पद्मश्री Dr KK Aggarwal जिन्होंने कहा था कि पिक्चर अभी बांकी है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।