×
विज्ञापन

Fatehpur news:नगर पालिका के खिलाफ बजरंग दल का गुस्सा बढ़ा..एफआईआर में हुआ खेल विहिप ने दी आंदोलन की धमकी.!

विज्ञापन

नगर पालिका फतेहपुर के विरुद्ध बजरंग दल औऱ विश्व हिंदू परिषद का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है, कूड़े के ढ़ेर में मवेशी के जलने के मामले में दर्ज हुई एफआईआर में भी गड़बड़झाला कर दिया गया है.पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर.

फतेहपुर:बीते दिनों कूड़े के ढ़ेर में मृत मवेशी के जलने का वीडियो वायरल हुआ था।जिसके बाद बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद औऱ स्थानीय लोगों द्वारा उक्त घटना पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया गया था।इस मामले में एफआईआर भी दर्ज हुई है। fatehpur news

क्या कहा वीरेन्द्र पांडेय ने..

विहिप नेता वीरेंद्र पांडेय ने कहा कि नगर पालिका फतेहपुर द्वारा गौवंश स्वामियों से मृत गौवंश के समुचित निस्तारण के लिए एक हज़ार रुपया लिया जाता है।लेकिन मृत गौवंशों को कूड़े के ढ़ेर में डीज़ल डालकर जलाया जा रहा है।औऱ ऐसा कृत्य करके हिंदुओ को अपमानित करने का प्रयास किया जा रहा है।गौवंश का मामला बहुत ही गम्भीर है यह करोड़ों हिंदुओ की आस्था का विषय है।यदि इस बार जिला प्रशासन नहीं चेता तो आगे आंदोलन तेज़ होगा।दोषी अधिकारियों, कर्मचारियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की हम सभी मांग करते हैं।

विज्ञापन
विज्ञापन

एफआईआर में क्या लिखा गया..

वायरल वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि कूड़े के ढ़ेर में जल रहा मवेशी गौवंश है।लेकिन गाजीपुर थाने में पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की है उसमें मृत कुत्ता आदि कूड़े के ढ़ेर में जलाए जाने की बात लिखी है।बजरंग दल औऱ स्थानीय लोगों का भी दावा है कि कूड़े के ढ़ेर में जल रहा मृत मवेशी गौवंश है।

एफआईआर नगर पालिका की अधिशासी अधिकारी द्वारा दर्ज कराई गई है।यह एफआईआर नगर पालिका के स्थाई कर्मचारी सन्तराम, अमित औऱ वाहन चालक रामविशाल के विरुद्ध दर्ज हुई है।

उल्लेखनीय है कि ईओ मीरा सिंह ने इसी मामले में स्थाई सफाई कर्मचारी संतराम व अमित तथा आउट सोर्सिंग सफाई कर्मी रोहित, रामविशाल, मो. आशिफ को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था।

क्या है पूरा मामला..

नगर पालिका फतेहपुर का गाजीपुर थाना क्षेत्र के मलाका गाँव में शहर का कूड़ा डालने का प्लांट है।वहां हर रोज़ शहर का कचरा नगर पालिका द्वारा पहुंचाया जाता है।बीते दिनों उसी कचरे के ढ़ेर में एक मृत मवेशी(गौवंश) जलता हुआ स्थानीय लोगों ने देखा था।जिसके बाद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने मौक़े पर पहुचकर जमकर हंगामा किया था।

बजरंग दल जिला संयोजक शानू सिंह ने कहा कि गाजीपुर थाने में एक औऱ तहरीर दी गई है।क्योंकि अभी जो एफआईआर दर्ज हुई है उसमें मुख्य दोषियों को बचा लिया गया है।जब तक इस पूरे प्रकरण के प्रमुख आरोपियों के विरुद्ध कार्यवाही नहीं होती तब तक बजरंग दल शांत नहीं बैठेगा।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।