×
विज्ञापन

कोरोना:कानपुर में भर्ती रहे फतेहपुर के एक व्यक्ति की रिपोर्ट मौत के बाद आई पॉजिटिव..सील किया गया गाँव..!

विज्ञापन

फतेहपुर में कोरोना के मामले सामने आने के बाद हड़कम्प मच गया है।शनिवार को एक और मामला प्रकाश में आया है..पढ़े पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर।

फतेहपुर:ज़िले में गुरुवार तक सब कुछ ठीक था।अब ऐसा लगने लगा था कि जनपद कोरोना मुक्त रहेगा और ग्रीन जोन वाली स्थिति बरकरार रहेगी।लेक़िन शुक्रवार का दिन जनपद के लिए अच्छा नहीं रहा।इस दिन से शुरुआत हुई जनपद में कोरोना पॉजिटिव मिलने की।शुक्रवार को ही अलग अलग क्षेत्रों में कुल दो कोरोना पॉजिटिव मिलने से ज़िले में हड़कम्प मच गया।शनिवार को भी एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।लेकिन यह रिपोर्ट उसके मरने के चार दिन बाद आई है।मृतक का अंतिम संस्कार 5 मई को ही किया जा चुका है।

ये भी पढ़े-कोरोना:फतेहपुर में एक और व्यक्ति निकला कोरोना संक्रमित..!

दैनिक जागरण में प्रकाशित ख़बर के अनुसार ज़िले के अमौली विकास खण्ड क्षेत्र के भगौनापुर-सलेमपुर गाँव निवासी 65 वर्षीय एक बुजुर्ग जोकि टीवी रोग से पीड़ित था।उसका इलाज़ जहानाबाद के एक निजी अस्पताल में चल रहा था।बीते 30 अप्रैल को तबियत अचानक से बिगड़ गई जिसके बाद परिजनों ने अमौली में दिखाया जहां से डॉक्टरों ने उसे कानपुर हैलट के लिए रेफर कर दिया।इलाज़ के दौरान बुजुर्ग की बीते चार मई की रात मौत हो गई।चूंकि टीवी के चलते उक्त बुजुर्ग को सांस लेने में भी तकलीफ थी।जिसके कारण मेडिकल कॉलेज कानपुर के डॉक्टरों ने मौत से पहले बुजुर्ग का सैम्पल भी कोरोना जांच के लिए भेजा था।

ये भी पढ़े-कोरोना:फतेहपुर-गाँवो में पहुँच रहे परदेशियों ने बढ़ाई दहशत..बेरोक टोक घूम रहे..!

चार मई को बुजुर्ग की मौत के बाद परिजन अगले दिन शव को गाँव लेकर आ गए और वही खेतो में अंतिम संस्कार कर दिया।शुक्रवार देर रात उक्त मृतक बुजुर्ग की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई जिसकी सूचना जिला प्रशासन को मिली तो आनन फानन में शनिवार सुबह से मेडिकल और पुलिस की टीम भगौनापुर गाँव पहुँची औऱ पूरे गाँव की थर्मल स्क्रीनिंग शुरू की।बुजुर्ग के अति नजदीकी रहे उसके तीन बेटों और भाइयों को नेवलापुर क्वारण्टाइन भेज दिया गया है।इन सभी के भी सैम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं।इसके अलावा बुजुर्ग के संपर्क में रहे परिवार व गाँव के 26 लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में क्वारंटीन किया गया है।

सीएमओ उमाकांत पांडेय द्वारा बताया गया है कि बुजुर्ग के संपर्क में आए व्यक्तियों को चिन्हित कर सबकी जाँच कराई जा रही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।