×
विज्ञापन

फ़तेहपुर:राज्यमंत्री धुन्नी सिंह की शिकायत पर कार्रवाई..मुन्ना सिंह के मौरंग खनन पट्टे की निरस्तीकरण की प्रक्रिया शुरू.!

विज्ञापन

भाजपा नेता अभय प्रताप उर्फ़ पप्पू सिंह के बड़े भाई व पूर्व कापरेटिव चेयरमैन उदय प्रताप उर्फ़ मुन्ना सिंह का चरित्र प्रमाण पत्र लखनऊ के जिलाधिकारी द्वारा निरस्त कर दिया गया है.पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फ़तेहपुर:पूर्व कॉपरेटिव चेयरमैन उदय प्रताप सिंह उर्फ़ मुन्ना सिंह का चरित्र प्रमाण पत्र लखनऊ के जिलाधिकारी द्वारा निरस्त कर दिया गया है।उन पर आरोप है कि उन्होंने अपना आपराधिक इतिहास छिपाकर लखनऊ के पते के आधार पर चरित्र प्रमाण पत्र बनवा खागा तहसील क्षेत्र के कोट में मौरंग खनन का पट्टा लिया था। fatehpur news

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस मामले की शिकायत यूपी सरकार में राज्य मंत्री व ज़िले की हुसैनगंज विधानसभा सीट से विधायक रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ़ धुन्नी सिंह ने की थी।

उन्होंने अपनी शिकायत में कहा था कि मुन्ना सिंह ने अपना फ़तेहपुर का आपराधिक इतिहास छिपाकर लखनऊ के पते से चरित्र प्रमाण पत्र जारी करा लिया है। fatehpur dhunni singh news

इस शिकायत के बाद लखनऊ डीएम ने फतेहपुर के जिलाधिकारी को पत्र लिख जाँच कराने को कहा था।इसके बाद डीएम ने तत्कालीन एसपी प्रशान्त वर्मा से जाँच करवाई थी।

लखनऊ डीएम द्वारा मुन्ना सिंह का चरित्र प्रमाण पत्र निरस्त किए जाने के बाद उनके द्वारा खागा तहसील के कोट में लिया गया मौरंग खनन का पट्टा निरस्त किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

फतेहपुर के खनन अधिकारी मिथलेश पांडेय ने मीडिया में जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि चरित्र प्रमाण पत्र के निरस्त होने का पत्र प्राप्त हुआ है।इसी आधार पर मौरंग खदान का पट्टा निरस्त किया जा रहा है।पट्टे के लिए जमा की गई पौने दो करोड़ की धनराशि भी जब्त की जा रही है। fatehpur munna singh 

ग़ौरतलब है कि उदय प्रताप सिंह उर्फ़ मुन्ना सिंह एक बड़े व्यवसाई व ज़िले के रसूखदार व्यक्ति हैं।वह पूर्व में कॉपरेटिव के चैयरमैन रह चुके हैं।वर्तमान में उनके छोटे भाई भाजपा नेता अभय प्रताप सिंह उर्फ़ पप्पू सिंह की पत्नी निवेदिता सिंह जिला पंचायत अध्यक्ष हैं।

लखनऊ डीएम द्वारा मुन्ना सिंह का चरित्र प्रमाण पत्र निरस्त किए जाने के बाद उनके द्वारा खागा तहसील के कोट में लिया गया मौरंग खनन का पट्टा निरस्त किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

फतेहपुर के खनन अधिकारी मिथलेश पांडेय ने मीडिया में जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि चरित्र प्रमाण पत्र के निरस्त होने का पत्र प्राप्त हुआ है।इसी आधार पर मौरंग खदान का पट्टा निरस्त किया जा रहा है।पट्टे के लिए जमा की गई पौने दो करोड़ की धनराशि भी जब्त की जा रही है। fatehpur munna singh 

ग़ौरतलब है कि उदय प्रताप सिंह उर्फ़ मुन्ना सिंह एक बड़े व्यवसाई व ज़िले के रसूखदार व्यक्ति हैं।वह पूर्व में कॉपरेटिव के चैयरमैन रह चुके हैं।वर्तमान में उनके छोटे भाई भाजपा नेता अभय प्रताप सिंह उर्फ़ पप्पू सिंह की पत्नी निवेदिता सिंह जिला पंचायत अध्यक्ष हैं।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।