×
विज्ञापन

Farrukhabad news:संस्था को बदनाम करने की रची गई थी साजिश, जाँच में पाई गई सही.!

विज्ञापन

फर्रुखाबाद में किसानों की भलाई के लिए काम कर रही एक संस्था पर कुछ दिनों पहले धोखाधड़ी सहित कई गम्भीर आरोप लगे थे, जिसकी जाँच डीएम द्वारा कराई गई, संस्था जांच में पूरी तरह से सही पाई गई है.पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फर्रुखाबाद:कुछ दिनों पहले जिस संस्था के खिलाफ कुचक्र रचकर उसे बदनाम करने की साज़िश की गई थी वह संस्था डीएम की निगरानी में गठित हुई तीन सदस्यीय जाँच कमेटी में सही पाई गई।Farrukhabad news

जांच कमेटी के सदस्य जिला कृषि अधिकारी डॉ राकेश कुमार ने बताया कि सोसायटी के रूप में इस संस्था का पंजीकरण भारत सरकार के कृषि मंत्रालय की तरफ़ से हुआ है।इस सम्बंध में इनके द्वारा कागज़ दिखाए गए हैं।जो सही पाए गए हैं।हालांकि अभी तक इनके पास उर्वरक, कीट नाशक आदि बेचने का लाइसेंस इनके पास नहीं है।

बता दें कि दि यूपी किसान विकास कृषि बहु राज्यीय सहकारी समिति लिमिटेड पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगा था जिसकी जांच डीएम मानवेंद्र सिंह की निगरानी में बनी तीन सदस्यीय समिति द्वारा की गई थी।इस समिति में जिला कृषि अधिकारी डॉ राकेश कुमार,कृषि निदेशक राजकुमार व आर एन वर्मा शामिल थे। जांच करने पर पता चला कि, किसान विकास कृषि 

संस्था कृषि मंत्रालय भारत सरकार की समिति है जो कि MSCS ACT 2002 के अनुसार कार्य कर रही है।जिसमें कृषि सम्बन्धी सामग्री जैसे कि बीज खाद कीटनाशक पशु आहार आदि को बिक्री किया जाना है।

चीफ़ प्रमोटर चंदन सिंह एमडी सौरभ सिंह गंगवार ने जानकारी देते हुए बताया गया U.P.K.D.C.S का रजिस्टर्ड ऑफिस भीम नगर विजय खंड 2 गोमती नगर लखनऊ उत्तर प्रदेश में है।ब्रांच ऑफिस बाईपास कंपिल रोड नियर शिव धर्म कांटा कायमगंज फर्रुरुखाबा में है।संस्था का रजिस्ट्रेशन नंबर MSCS/CR/1298/2020 है, डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर, ब्लॉक कोऑर्डिनेटर. को नियुक्त करने के बाद बीज खाद कीटनाशक एवं पशु आहार आदि को विक्रय किया जाना है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।