×
विज्ञापन

farmer protest updates:रो पड़े राकेश टिकैत कहा क़ानून रद्द नहीं हुए तो कर लूंगा आत्महत्या

विज्ञापन

यूपी के गाजियाबाद में गाजीपुर बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत गुरुवार देर रात मीडिया से बातचीत करते हुए रो पड़े.पढ़ें युगान्तर प्रवाह की रिपोर्ट..

नई दिल्ली:गाजीपुर बॉर्डर पर दो महीने से आंदोलन रत किसानों के धरने को समाप्त करवाने के लिए राज्य सरकार द्वारा बुधवार रात से तैयारियां शुरू कर दीं गईं थीं।धरना स्थल पर बिजली और पानी की सप्लाई बंद कर दी गई थी।गुरुवार को बार्डर पर भारी संख्या में पुलिस औऱ अर्धसैनिक बल को बढ़ा दिया गया था।गुरुवार रात होते होते भारी मात्रा में फोर्स की तैनाती कर दी गई है।

विज्ञापन
विज्ञापन

इस बीच रात में मीडिया से बातचीत करते हुए राकेश टिकैत रो पड़े उन्होंने कहा कि सरकार साज़िश के तहत किसानों को डरा धमका कर ज़बरन धरना समाप्त कराने की तैयारी कर रही है।उन्होंने कहा कि किसानों का धरना समाप्त नहीं होगा।तीनों कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते तो वह आत्महत्या कर लेंगे।

सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार टिकैत के रोने के बाद पूरी तरह से माहौल गर्मा गया है।पश्चिमी यूपी में खाप पंचायतें एक्टिव हो गई हैं।

राकेश टिकैत के बड़े भाई नरेश टिकैत ने शुक्रवार को मुजफ्फरनगर ने किसानों की महापंचायत बुलाई है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।