×
विज्ञापन

Navratri: जय अम्बे गौरी आरती हिंदी में Jay Ambe Gauri Arati In Hindi अंबे माता जी की आरती

विज्ञापन

नवरात्रि में मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए वैसे तो कई आरतियां पढ़ी जाती है. लेकिन सबसे अधिक चर्चित आरती 'जय अम्बे गौरी' है.पढ़ें पूरी आरती. Jay Ambe Gauri Arati In Hindi अंबे माता जी की आरती

दुर्गा जी की आरती Jay Ambe Gauri Arati

जय अंबे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी। तुमको निशिदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी॥ओम जय अंबे गौरी

मांग सिन्दूर विराजत, टीको मृगमद को। उज्जवल से दो‌उ नैना, चन्द्रवदन नीको॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

कनक समान कलेवर, रक्ताम्बर राजै। रक्तपुष्प गल माला, कण्ठन पर साजै॥
ओम जय अंबे गौरी Jay Ambe Gauri Arati

केहरि वाहन राजत, खड्ग खप्परधारी। सुर-नर-मुनि-जन सेवत, तिनके दुखहारी॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

कानन कुण्डल शोभित, नासाग्रे मोती। कोटिक चन्द्र दिवाकर, सम राजत ज्योति॥
ओम जय अंबे गौरी Durga Ji ki arati

शुम्भ-निशुम्भ बिदारे, महिषासुर घाती। धूम्र विलोचन नैना, निशिदिन मदमाती॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

चण्ड-मुण्ड संहारे, शोणित बीज हरे। मधु-कैटभ दो‌उ मारे, सुर भयहीन करे॥
ओम जय अंबे गौरी Jay Ambe Gauri Arati

ब्रहमाणी रुद्राणी तुम कमला रानी। आगम-निगम-बखानी, तुम शिव पटरानी॥
ओम जय अंबे गौरी jay ambe gauri maiya jay shyama gauri

चौंसठ योगिनी मंगल गावत, नृत्य करत भैरूं। बाजत ताल मृदंगा, अरु बाजत डमरु॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

तुम ही जग की माता, तुम ही हो भरता। भक्‍तन की दु:ख हरता, सुख सम्पत्ति करता॥
ओम जय अंबे गौरी

भुजा चार अति शोभित, वर-मुद्रा धारी। मनवान्छित फल पावत, सेवत नर-नारी॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

कंचन थाल विराजत, अगर कपूर बाती। श्रीमालकेतु में राजत, कोटि रतन ज्योति॥
ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

श्री अम्बेजी की आरती, जो को‌ई नर गावै। कहत शिवानन्द स्वामी, सुख सम्पत्ति पावै॥
ओम जय अंबे गौरी, ओम जय अंबे गौरी (अंबे माता जी की आरती)

ये भी पढ़ें- Shardiya Navratri 2022: अद्भुत है लौंग का ये प्रयोग शारदीय नवरात्रि में होगी धन वर्षा

ये भी पढ़ें- Navratri Shailputri Mata Ki Aarti:नवरात्रि के प्रथम दिन होती है मां शैलपुत्री की पूजा.जानें शैलपुत्री माता की आरती

ये भी पढ़ें- Navratri Arati:काली माता की आरती अम्बे तू है जगदम्बे काली Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Arati In Hindi

ये भी पढ़ें- shardiya navratri 2022 parana time : पूरे नवरात्र व्रत रखने वाले कब करे पारण जानें सही डेट टाइम


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।