×
विज्ञापन

Hriday Narayan Dixit:यूपी विधानसभा स्पीकर ने राखी सावंत के कम कपड़े पहनने पर कही ये बात वीडियो वायरल

विज्ञापन

यूपी के विधानसभा स्पीकर ह्रदय नारायन दीक्षित (Hriday Narayan Dixit)का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें वह राखी सावंत के कम कपड़े पहनने पर महात्मा गांधी का जिक्र कर रहे हैं.क्या है पूरा मामला आइए जानते हैं. UP Latest News

Hriday Narayan Dixit:राखी सावंत एक बार फ़िर से चर्चा में हैं।इस बार उनकी चर्चा यूपी की राजनीति में हो रही है।यूपी विधानसभापति (UP Vidhansabha Adhyaksh) ह्रदय नारायण दीक्षित की बयान की वजह से वह चर्चा में हैं वहीं विधानसभा स्पीकर की बयान की वजह से काफ़ी किरकिरी हो रही है।उन्होंने पूरे मामले पर ट्वीट कर सफ़ाई भी दी है। UP Latest News 

विज्ञापन
विज्ञापन

क्या कहा है ह्रदय नारायण दीक्षित..

दरअसल ह्रदय नारायण दीक्षित रविवार को उन्नाव ज़िले में भाजपा द्वारा आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में शिरकत करने पहुँचें थे।यहाँ उन्होंने सम्बोधित करते हुए कहा कि गांधी जी कम कपड़े पहनते थे, धोती ओढ़ते थे, गांधी जी को देश ने बापू कहा, अगर कपड़े उतारने से कोई महान बन जाता तो राखी सावंत महान बन जाती। UP Latest News

अपने बयान पर दी सफ़ाई..

वीडियो वायरल होने के बाद ह्रदय नारायण दीक्षित (Hriday Narayan Dixit) ने इस बारे में सफ़ाई भी दी उन्होंने कहा कि- सोशल मीडिया पर कुछ मित्र मेरे भाषण के एक वीडियो अंश को अन्यथा अर्थों के संकेत के साथ प्रसारित कर रहे हैं। वास्तव में यह उन्नाव के प्रबुद्ध सम्मेलन में मेरे भाषण का अंश है। जिसमें सम्मेलन संचालक ने मेरा परिचय देते हुए मुझे प्रबुद्ध लेखक बताया था। UP Latest News

मैंने इसी बिंदु से बात आगे बढ़ाते हुए कहा कि कुछ पुस्तकों और लेखों के लिखने से ही कोई प्रबुद्ध नहीं हो जाता। महात्मा गांधी कम कपड़े पहनते थे। देश ने उन्हें 'बापू' कहा। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं राखी सावंत भी गांधी जी हो जाएंगी। Hriday Narayan Dixit Statement On Rakhi Sawant

ये भी पढ़ें- UP Election 2022:बसपा ने घोषित किया इस सीट पर प्रत्याशी

ये भी पढ़ें- Charanjit Singh Channi Biography: पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी के बारे में ये बातें भी जान लीजिए


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।