×
विज्ञापन

बड़ी ख़बर:कोरोना के चलते फतेहपुर में सम्पूर्ण लॉकडाउन..पूरे नियम जान लें..!

विज्ञापन

ज़िले में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच जिला प्रशासन ने ज़िले में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी है..पढ़ें पूरी खबर विस्तार से युगान्तर प्रवाह पर...

फतेहपुर:ज़िले में खतरनाक तरीक़े से बढ़ रहे कोरोना केसों से हड़कम्प मचा हुआ है।मंगलवार को उस वक़्त ज़िले में सनसनी फैल गई जब एक साथ 26 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाज़िटिव आई।फतेहपुर के लोग यह मांग करने लगे कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन को सम्पूर्ण लॉकडाउन लगा देना चाहिए।जिसके क्रम बुधवार को डीएम की अध्यक्षता में जिले के व्यापारी नेताओं के साथ बैठक हुई।जिला प्रशासन ने व्यापारियों के साथ चर्चा कर सर्वसम्मति से लॉकडाउन की रूप रेखा तय की।

क्या रहेंगे नियम..

फ़िलहाल लॉकडाउन अभी अगले चार दिनों तक यानी बुधवार रात 12 से रविवार रात 12 बजे तक के लिए लगाया गया है।इसके बाद एक बार फिर प्रशासन समीक्षा करेगा और लॉकडाउन को लेकर आगे का निर्णय होगा।बुधवार रात 12 बजे से लागू हो रहे इस लॉकडाउन में सभी प्रकार की दुकानें बंद रहेंगी।केवल मेडिकल स्टोर को छोड़कर, मेडिकल स्टोर 24 घण्टे खोले जा सकते हैं।

दोपहर 12 बजे से तीन बजे के बीच लॉकडाउन में थोड़ी राहत मिलेगी इस दौरान केवल किराना और मिठाई की दुकानें खोली जा सलतीं हैं।सड़को पर पुलिस का पहरा सख़्त होगा।बिना काम के घूमने वालों पर पुलिस शिंकजा कसेगी।यदि सड़को पर गाड़ियां दिखी तो पुलिस सीधे सीज की कार्यवाही करेगी।बाइक पर चालक के अलावा कोई नहीं बैठेगा।लॉकडाउन के दौरान समस्त सरकारी कार्यालय भी बन्द रहेंगे।जिला न्यायालय सत्र भी 12 जुलाई तक बन्द रहेगा।

बैठक में मौजूद रहे व्यापारी नेता वीरेन्द्र पांडेय ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा व्यापारियों के साथ बैठक कर लॉकडाउन का जो निर्णय लिया गया है।उसका सभी व्यापारी समर्थन करते हैं।

व्यापारी नेता रविप्रकाश दुबे ने कहा कि प्रशासन ने व्यापारियों के साथ बैठक कर लॉकडाउन का निर्णय सर्वसम्मत से लिया है।कोरोना को देखते हुए यह निर्णय हम सबके स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है।उन्होंने कहा कि व्यापारी प्रशासन का पूरा सहयोग करते हुए लॉकडाउन की गाइडलाइन का पालन करेंगे।

इस दौरान व्यापारी नेता किशन मेहरोत्रा भी मौजूद रहे।इसके अलावा पुलिस कप्तान प्रशांत वर्मा,सीएमओ,एसडीएम प्रमोद झा,सीओ कपिल देव मिश्रा, नगर पालिका ईओ, शहर कोतवाल सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।