West Bengal Brave Boy: रेलवे ट्रैक पर 12 वर्षीय बच्चे ने किया कुछ ऐसा ! दुनिया भर में हो रही उसकी चर्चा

पश्चिम बंगाल के मालदा रेलवे ट्रैक पर एक ऐसा मामला देखने को मिला है, जिसकी चर्चा पूरा देश कर रहा है. दरअसल ट्रेन बड़ी तेजी से ट्रैक पर चली आ रही थी, और कुछ दूर पर ही रेलवे ट्रैक टूटा हुआ था, तभी एक 12 साल के बच्चे की सूझबूझ के चलते एक बड़ा हादसा टल गया, बच्चे ने अपनी लाल कमीज उतारकर ट्रैक पर आ रही ट्रेन के ड्राइवर को दिखाया जिसके बाद चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दी. उधर किशोर की बहादुरी और बुद्धिमानी को लेकर देश भर में चर्चाएं हो रही है.

West Bengal Brave Boy: रेलवे ट्रैक पर 12 वर्षीय बच्चे ने किया कुछ ऐसा ! दुनिया भर में हो रही उसकी चर्चा
12 वर्षीय किशोर की सूझबूझ से टला हादसा, फोटो साभार सोशल मीडिया

हाईलाइट्स

  • पश्चिम बंगाल के मालदा में 12 वर्षीय किशोर की सूझबूझ के चलते टला बड़ा हादसा
  • रेलवे ट्रैक टूटा हुआ था, चली आ रही थी तेज रफ्तार से ट्रेन, किशोर ने अपनी लाल कमीज उतारकर ड्राइवर को
  • टला बड़ा हादसा, किशोर की सूझबूझ और बहादुरी की हो रही प्रशंसा

The Train was moving on the Malda yard : हमारे देश की अर्थव्यवस्था में सबसे बड़ा योगदान भारतीय रेल का है, जिसमें रोजाना लाखों लोग सफर करने के साथ-साथ करोड़ों रुपए का माल एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाया जाता है, लेकिन कभी-कभी रेलवे कर्मचारियों की लापरवाही के चलते बड़े हादसे हो जाते हैं, तो कभी कुछ जिम्मेदार रेलवे कर्मचारियों की सूझबूझ से यह हादसे टल भी जाते हैं.

 अक्सर आप सभी ने किताबों और कहानियों में किस्से सुने होंगे कि, तेज रफ्तार से आ रही ट्रेन को लोगों ने लाल कपड़ा दिखाकर रोक दिया, एक ऐसा ही वाक्या पश्चिम बंगाल के मालदा में देखने को मिला, जहां एक 12 साल के बच्चे की सूझबूझ के चलते एक बड़ा हादसा टल गया, बच्चे की बहादुरी को लेकर देश भर में चर्चाएं हो रही है.

क्या है पूरा मामला

दरअसल बीते दिनों पश्चिम बंगाल के मालदा के भालुका रोड यार के पास तेजी से एक्सप्रेस ट्रेन चली आ रही थी कि तभी एक 12 वर्षीय लड़के ने देखा कि आगे रेलवे ट्रैक टूटा पड़ा हुआ है, जिसके बाद उस किशोर ने अपनी बुद्धि का परिचय देते हुए पहनी हुई लाल टीशर्ट को उतारा और ट्रेन के सामने लेकर दौड़ने लगा.

Read More: New Criminal Laws In Hindi: आज से पूरे भारत में बदल गए अंग्रेजों के जमाने के कानून ! BNS से होगा लोगों का न्याय

उधर ट्रेन अपनी रफ्तार से चलती आ रही थी कि, तभी लोको पायलट की नजर उस बच्चे पर पड़ी लोको पायलट उसे बच्चे के हाथ में लाल टीशर्ट देखकर समझ गया कि, यह उसे रोकने का इशारा है. जिस पर लोको पायलट ने तुरंत ही ट्रेन में इमरजेंसी ब्रेक अप्लाई कर दी. देखते ही ट्रेन की रफ्तार धीमी पड़ गई और ट्रेन रुक गई, जब लोको पायलट को जानकारी हुई कि उस बच्चे ने ऐसा क्यों किया, जो उसने सुना वह भी उसकी बुद्धि की प्रशंसा करने लगा. जिस वजह से एक बड़ा हादसा होने से टल गया. 

Read More: Arvind Kejriwal Interim Bail: तिहाड़ से बाहर आएंगे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ! सुप्रीम कोर्ट ने 1 जून तक दी अंतरिम जमानत, 2 जून को करना होगा सरेंडर

कौन है यह 12 वर्षीय बहादुर बच्चा

Read More: Anand Mahindra Help: पिता के निधन के बाद 10 साल का बच्चा लगाने लगा रेहड़ी ! कंधे पर बड़ी जिम्मेदारी देख आनंद महिंद्रा आये सामने

यह 12 वर्षीय लड़का कोई और नहीं बल्कि पास के गांव का ही एक प्रवासी श्रमिक का बेटा है, जिसका नाम मुरसलीन शेख है. बच्चे ने बताया कि, उसने अपनी किताब में पढ़ा था कि, यदि किसी ट्रेन को लाल कपड़ा दिखाया जाए तो रुक जाती है. जब वह सुबह रेलवे ट्रैक के किनारे टहल रहा था, तभी उसने देखा कि, रेलवे ट्रैक टूटा पड़ा हुआ है, जब उसे कुछ समझ में नहीं आया तो उसने किताब में पढ़ी हुई बात को सच साबित कर दिया. तेजी से आ रही ट्रेन के सामने उसने कमीज को लहराना शुरू कर दिया. वहीं उसके इस बहादुरी भरे कम से देश भर में चर्चा भी हो रही है.

रेलवे ने किया सम्मानित

बच्चों की इस बुद्धिमत्ता और बहादुरी के लिए रेलवे अधिकारियों ने बच्चों को बुलाकर उसे प्रमाण पत्र के साथ-साथ नगद पुरस्कार भी दिया है, साथ ही रेलवे के अधिकारियों ने शासन को पत्र लिखकर यह मांग करते हुए कहा है कि, रेलवे की ओर से बच्चों को पुरस्कार के रूप में उसकी पढ़ाई का खर्चा भी रेलवे उठाये ताकि बच्चे का भविष्य उज्ज्वल बन सके.

कैसे टूटा रेलवे ट्रैक

दरअसल बीते कुछ दिनों से रुक-रुक कर हो रही बारिश की वजह से रेलवे ट्रैक किनारे मिट्टी और कंकड़ जमा हो गए थे, जिसकी वजह से पटरियो में जंग लग गई और लगातार वहां से गुजर रही ट्रेनों के दबाव की वजह से रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया था, हालांकि इस पूरे मामले में कहीं ना कहीं रेल कर्मचारियों की चूक भी देखी जा रही है, क्योंकि जब ट्रैक क्षतिग्रस्त था, तो किसी ने ध्यान क्यों नहीं दिया, वही इस घटना के बाद अब रेलवे की ओर से ट्रैक को भी सुधारा जा रहा है.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में सड़क हादसे में बाइक सवार दो लोगों की मौत हो गई. घटना...
Fatehpur Brajesh Pathak: फतेहपुर पहुंचे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक क्यों भड़क उठे ! एक दिन का काटा वेतन
फतेहपुर थाना न्यूज़: मां-बेटे ने मिलकर पिता को लगाया 50 लाख का चूना ! तिकड़म जान कर रह जाएंगे भौचक्के
Fatehpur News: फतेहपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौ'त ! परिजनों ने लगाया ह'त्या का आरोप
UPSC EPFO APFC Result 2024: फतेहपुर की विप्लवी बनी असिस्टेंट कमिश्नर ! गांव में ख़ुशी की लहर, जानिए लोगों ने क्या कहा
Fatehpur UPPCL News: फतेहपुर के बिजली विभाग में 14 सालों से जमा बुद्धराज बाबू हटाया गया ! इस एक्सईन का था राइट हैंड
Fatehpur Snake News In Hindi: नौ बार तुम्हें काटूंगा 8 बार तू बच जाएगा ! कोई नहीं बचा पाएगा तुझे, जानिए फतेहपुर की रहस्यमय घटना

Follow Us