History Of Kanpur Name: क्या आप जानते हैं 'कान्हपुर' से कैसे बना कानपुर अब तक बीस बार बदल चुका है नाम?

सुनने में जितना भौकाली यहाँ के लोगों की बात है उतनी ही निराली इसकी पहचान है शायद इसीलिए उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े इस शहर को यहाँ के लोगों की मस्ती और सादगी शहरों से अलग करती है.गंगा किनारे बसे इस शहर में दिनभर गाड़ियों का शोर शराबा है तो वहीं गंगा किनारे की शांति है. यहाँ के मंदिरों में सुबह शाम होने वाली भगवान की आरती तो मस्जिदों में होने वाली नमाज शहरवासियों को एक दूसरे से जोड़े रखती है. इसीलिए गंगा किनारे बसे इस शहर को गंगाजमुनी तहजीब के लिए भी जाना जाता है.ये वही शहर है जहां से स्वतंत्रता की अल

History Of Kanpur Name: क्या आप जानते हैं 'कान्हपुर' से कैसे बना कानपुर अब तक बीस बार बदल चुका है नाम?
कान्हपुर से कानपुर बनने का इतिहास : फाइल फोटो

हाईलाइट्स

  • कान्हपुर से कैसे बना कानपुर 20 बार बदला है शहर का नाम
  • 1700 दशक से 1948 तक कानपुर के बदला नाम
  • पूरब का मैनचेस्टर भी शहर को कहा जाता है

Kanpur city name change 20 times : कानपुर ने 1857 से लेकर 1947 तक अंग्रेजी हुकूमत के हमेशा नाक में दम कर रखा , 1700 दशक से लेकर अबतक इस शहर नाम 20 बार बदला जा चुका है ऐसी है इस शहर की कहानी.

इतिहासकार बताते है कि कानपुर का नाम 20 बार बदला है, ऐसा भी बताते है कि यहां राजा कान्हपुर के नाम से शहर का नाम पहले पड़ा कन्हापुर, वर्ष 1803 में कानपुर शहर की स्थापना हुई थी, 220 वर्ष के हो चुके कानपुर शहर को औद्योगिक कारखानो व मीलों व ऐतिहासिक इमारतों के लिए भी जाना जाता है, इसे एशिया का कभी मेनचेस्टर भी कहा जाता था हालांकि हर इतिहासकार के कुछ अलग ही बताने के अपने तरीके है फिर भी इस शहर का नाम सबसे पहले 1770 में बदला गया तब यहां अंग्रेज ग्रेबियल होपर ने CAWNPOOR नाम दिया, इस नाम का कई दस्तावेजो में ज़िक्र भी है. 

सचेंडी के राजा हिन्दू सिंह ने की शहर की स्थापना

उधर सचेंडी के राजा हिन्दू सिंह को भी शहर का जनक माना जाता है,जिन्होंने शहर की स्थापना की जिसका सबसे पहले मूल नाम कान्हपुर था, तो वहीं महाभारत काल से भी इस शहर का नाता रहा है. अंग्रेजी हुकूमत में शहर के नाम बदलने का सिलसिला 1770 से 1948 तक चला. अंग्रेजो के जाने के बाद शहर की आबोहवा भी बदली, इस शहर से कई बड़े नेता भी शीर्ष कुर्सी तक पहुंचे और यहां का रहन सहन अपने आप में मिलनसार है

Read More: Fatehpur Naresh Uttam Won: फतेहपुर के Exit Poll में युगान्तर प्रवाह का सर्वे सबसे सटीक ! नरेश उत्तम जीते चुनाव, चौथे नंबर पर रहा Nota

कानपुर के पुराने नाम

Read More: Fatehpur News: फतेहपुर में बेखौफ बदमाशों से हाहाकार ! 12 घंटे में दो घटनाओं से दहला जनपद

  • 1- 1770 में ग्रवियल हार्पर ने CAWNPOOR दिया.
  • 2-1776 में CAUNPOUR
  • 3-1785 में CAUNPORE
  • 4-1788 में CAWNPOUR
  • 5-1790 में KAWNPORE, 1788 में CAWNPORE 1857 की क्रांति के बाद से 1948 तक प्रचलित.
  • 6-1795 में CAWNPOR
  • 7-1798 में CAWNPOR
  •  8-KAUNPOOR
  • 9-KHANPORE
  • 10-KHANPURA
  • 11-KHANPORE
  • 12-KHANPURA
  • 13-KHANPORE
  • 14-1815 -CAUNPOOR
  • 15-1825-KHANPOOR
  • 16-1857-KANHPUR,1857 की क्रांति के उपरांत
  • 17-CAWNPOUR
  • 18-1879-CAAWNPORE
  • 19-CAWNPOR
  • 20-COWNPOUR,और 1948 में आखिर नाम KANPUR पड़ा जो वर्तमान में भी बोला जाता है.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur Malwan Accident: फतेहपुर में खड़े ट्रक से टकराई डीसीएम ! एक की मौत कई घायल, गैस कटर से काट कर निकालती पुलिस Fatehpur Malwan Accident: फतेहपुर में खड़े ट्रक से टकराई डीसीएम ! एक की मौत कई घायल, गैस कटर से काट कर निकालती पुलिस
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में तेज रफ्तार डीसीएम अनियंत्रित होकर खड़े ट्रक से टकरा गई. हादसे में...
Fatehpur News Today: फतेहपुर के फूफा ने भतीजी से रचा ली शादी ! पत्नी ने ऐसा पीटा फूफा से निकल गया फू..
UP Fatehpur News: फतेहपुर में गंगा स्नान करने गए तीन युवक डूबे ! दो की हो गई मौ'त, परिजनों में मचा ह'ड़कंप
Fatehpur News: फतेहपुर की मोहिनी ने तोड़ दिया दम ! दो घंटे बिना इलाज के डॉक्टरों ने रोका, फिर किया रैफर
Fatehpur News Today: फतेहपुर के पिछड़े गांव का बेटा सेना में बना लेफ्टिनेंट ! किसान पिता के छलके आंसू
Pradeep Mishra Radha Rani Controversy: राधा रानी टिप्पणी पर फंसे कथावाचक प्रदीप मिश्रा ! Premanand Maharaj ने दिया करारा जवाब
NEET 2024 NTA Supreme Court Judgment In Hindi: नीट परीक्षा 2024 के लिए सुप्रीम कोर्ट ने दिया ये निर्णय ! अब बदल जाएगी मेरिट लिस्ट

Follow Us