×
विज्ञापन

फतेहपुर:लाखों के माल सहित शातिर चोरों का एक बड़ा गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा..मोबाइल टॉवरों से था कनेक्शन..!

विज्ञापन

फतेहपुर पुलिस को सोमवार को एक बड़ी सफलता हाँथ लगी है..शातिर चोरों का एक बड़ा गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है..इस गिरोह के कुल 6 अभियुक्त लाखों के माल सहित गिरफ्तार हुए हैं..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फतेहपुर:सोमवार को ज़िले की धाता थाना पुलिस टीम को बड़ी सफलता हाँथ लगी है।लम्बे समय से चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे शातिर चोरों का एक गैंग पुलिस के हत्थे चढ़ गया है।पकड़े गए अभियुक्तों के पास से स्कॉर्पियो और बोलेरो गाड़ी, देशी कट्टे व जिंदा कारतूस तथा चोरी किया हुआ माल बरामद हुआ है।थाना पुलिस की इस सफलता पर एसपी प्रशान्त वर्मा ने पुलिस टीम के उत्साहवर्धन के लिए 15000 के नगद ईनाम देने की घोषणा की है।Fatehapur news

ये भी पढ़ें-अभिनेत्री कंगना रनौत को मिली Y श्रेणी की सुरक्षा..गृह मंत्री अमित शाह को कही ये बात..!

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पकड़ा गया चोरों का गिरोह मोबाइल टावरों में लगी हुई बैटरियों की चोरी करता था।ये चारों जनपद के अलावा पड़ोसी जनपद कौशाम्बी में भी ऐसी ही चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे।सोमवार को मुखबिर की सटीक सूचना पर गैंग के सभी 6 सदस्यों को धाता थाना क्षेत्र के अढौली नहर पुलिया के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है।पुलिस को इनके पास से विभिन्न मोबाइल टॉवरों से चोरी की गई कुल 53 बैटरियां मिली हैं।जिनकी कीमत लाखों में है। fatehpur dhata police arrested 6 

ये भी पढ़ें-फतेहपुर:भाजपा विधायक कोरोना संक्रमित.!

गिरफ्तार हुए अभियुक्त अजीत सिंह उर्फ़ अंशू सिंह, आकाश सिंह, रत्नेश कुमार सिंह धाता थाना क्षेत्र के सरसौली गाँव के निवासी हैं।लोकेंद्र सिंह कारीकन धाता, सूरज सिंह गोढ़वापर कस्बा धाता, धर्मेंद्र सिंह नरिहाई कस्बा धाता के निवासी हैं।

ये भी पढें-UP:लापता लता जिंदा निकली..हत्या कर शव ग़ायब करने का लगा था आरोप..घटनास्थल पर मिला था खून..!

अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि धाता थाना अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह औऱ उनकी पुलिस टीम द्वारा 6 शातिर चोरों को पकड़ा गया है।पकड़े गए अभियुक्तों के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्यवाही की जा रही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।