×
विज्ञापन

Srinivas B.V:एक बार फ़िर आगे आए युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास बी. वी. चौतरफ़ा हो रही सराहना

विज्ञापन

कोरोना की आई दूसरी लहर में लोगों की मदद कर चर्चा में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. औऱ उनकी टीम एक बार फ़िर चर्चा में है. Shrinivas b.v. letest news

Srinivas B.V: जब देश में कोरोना की दूसरी लहर कहर बरपा रही थी।अधिकांश राजनेता औऱ सत्ताधारी दल के लोग डर व दहशत से घरों में दुबके हुए थे।उस दौरान एक नाम पूरे देश में चर्चा में था वह थे युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बी.वी. जिसने भी उनसे मदद मांगी तत्काल उनके और उनकी टीम द्वारा मदद की गई।ज़रूरतमन्दो को ऑक्सीजन सिलेंडर, रेमेडीसीवर इंजेक्शन, प्लाज्मा, अस्पताल में बेड दिलाना आदि नेक काम उनके द्वारा लगातार किए गए।ट्वीटर सहित सोशल मीडिया के माध्यम से जिन लोगों ने उनसे मदद मांगी तत्काल उनकी मदद हुई।यहाँ तक की सत्ता से जुड़े कई बड़े लोगों को ट्वीटर पर श्रीनिवास से मदद मांगते देखा गया।shrinivas b v indian youth congress will immerse the ashes of 500 people killed due to corona in ganga

विज्ञापन
विज्ञापन

अब एक बार फ़िर श्रीनिवास औऱ उनकी टीम ने एक नेक काम करने का बीड़ा उठाया है।बृहस्पतिवार को उन्होंने कहा कि वह और उनकी टीम कोविड-19 के कारण मरने वाले उन 500 लोगों की अस्थियां 11 जून को हरिद्वार में गंगा नदी में विसर्जित करेगी, जिनका अंतिम संस्कार दिल्ली के निगमबोध घाट में किया गया था और जिनके परिवार का कोई सदस्य उनकी अस्थियां लेने नहीं पहुंचा।srinivas b v indian youth congress will immerse the ashes of 500 people killed due to corona in ganga

आईवाईसी अध्यक्ष श्रीनिवास बी. वी. ने ट्वीट किया,

"एसओएसआईवाईसी टीम कोविड-19 के कारण जान गंवाने वाले उन 500 लोगों की अस्थियों को हिंदू परंपरा के अनुसार प्रवाहित करेगी, जिनका अंतिम संस्कार दिल्ली के निगम बोध घाट में किया गया था।’’

श्रीनिवास ने एक वीडियो और तस्वीरें भी साझा की हैं, जिसमें कांग्रेस पार्टी की युवा शाखा के कार्यकर्ता अस्थि कलश तैयार करते दिखाई दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें- UP IPS Transfer: दस का तबादला अश्लील वीडियो मामले में सस्पेंड हुए IPS वैभव कृष्ण को भी मिली तैनाती

ये भी पढ़ें- IYC Srinivas BV: श्रीनिवास से दिल्ली पुलिस की पूछताछ Congress ने कहा बचाने वाला हमेशा मारने वाले से बड़ा होता है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।