Kanpur Unique Bridge : दाल और गुड़ से बना है कानपुर का ये पुल-कभी देखा है ऐसा अनोखा पुल,जानिए खासियत

कानपुर की धरती अपने इतिहास के लिए काफी मशहूर है,इस शहर में 100 वर्ष से ज्यादा पुरानी धरोहरें आज भी चट्टानों की तरह खड़ी हुई है जिनका कोई सानी नहीं है. कानपुर का ये अनोखा पुल अपने आप में नायाब नमूना है, जिसकी कारीगिरी को देखकर हर कोई आश्चर्यचकित है.

Kanpur Unique Bridge : दाल और गुड़ से बना है कानपुर का ये पुल-कभी देखा है ऐसा अनोखा पुल,जानिए खासियत
कानपुर के ये अनोखा पुल

हाईलाइट्स

  • कानपुर का अनोखा पुल जिसके ऊपर से गुजरती है नहर
  • ब्रिटिश काल में हुआ था इस पुल का निर्माण
  • इंजीनियरिंग का एक नायाब नमूना है ये पुल

This brigde of kanpur is unique : आज के आधुनिक परिवेश में जहां बड़े-बड़े पुल एक्सप्रेसवे तैयार किए जा रहे हैं, कानपुर में एक ऐसा पुल है जो सीमेंट से नहीं बल्कि दाल के पानी और गुड़ के सीरे से बना है और आज भी चट्टान की तरह मौजूद है, इस पुल की खास बात यह है कि कोई भी इसे देखता है तो अचरज में पड़ जाता है कि आखिर इस तरह की नक्काशी डिजाइन का ख्याल आया कैसे होगा, इस अनोखे पुल  पुल के नीचे से नदी गुजरती है तो ऊपर से नहर गुजरती है अब सोचने वाली बात तो है कि कैसे पुल के ऊपर से नहर को निकाला गया होगा.

पुल के ऊपर से गुजरती है नहर

कानपुर नगर के बर्रा क्षेत्र में मेहरबान सिंह पुरवा गांव है यह अनोखा पुल इसी क्षेत्र में है इस पुल को बने 100 वर्ष से ज्यादा हो चुके है जिसका निर्माण ब्रिटिश काल में हुआ था,पुल जिस तरह से निर्माण किया गया है वह अपने आप में अलग ही सवाल खड़ा करता है ,कभी आपने ऐसा सुना है कि किसी पुल के ऊपर से कोई नदी या नहर गुजरती है, यदि नहीं सुना है तो सुन लीजिए इस पुल के ऊपर से एक नहर गुजरती है तो नीचे से पांडु नदी गुजरती है तो पुल के पास से ही आवागमन का रास्ता भी है.इंजीनियरिंग के ऐसे नायाब नमूने को जो भी देखता है अचंभित हो जाता है, यहां पर अक्सर लोग सैर सपाटा के उद्देश्य से भी आते है और तस्वीरें खींचते है.

दाल के पानी व गुड़ के सीरे से किया गया पुल का निर्माण

Read More: Kanpur News In Hindi: कानपुर में एंटीकरप्शन के हत्थे चढ़ा करोड़पति सिपाही ! संपत्ति देख उड़ गए सभी के होश

ब्रिटिश समय का ये पुल करीब 100 वर्ष का बताया जाता है जो बिल्कुल अब भी नया सा लगता है. जानकारों की माने तो इस पुल में सीमेंट और सरिया का प्रयोग नही किया गया अब अब सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे सम्भव है, जी हां वास्तव में इस पुल में सीमेंट नही बल्कि चूना, ईटो ,दाल का पानी,गुड़ के सीरे का प्रयोग किया गया है,जो अपने आप मे इंजीनियरिंग का नायाब नमूना है.

Read More: Kanpur Congress Posters News: कानपुर में राहुल गांधी की न्याय यात्रा के दौरान चर्चा में आये पोस्टर्स ! पोस्टर में राहुल गांधी को भगवान श्री कृष्ण और अजय राय बने अर्जुन

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Parenting Tips: बच्चों की बेहतर परवरिश और उनके भविष्य को संवारने के लिए अपनाएं ये टिप्स Parenting Tips: बच्चों की बेहतर परवरिश और उनके भविष्य को संवारने के लिए अपनाएं ये टिप्स
बच्चों की सही परवरिश (Upbringing) और उन्हें सही सीख देने की हर मां-बाप की ख्वाहिश होती है कि उनका बच्चा...
Aaj ka Rashifal 26 फरवरी 2024: इस राशि के जातक को पुराना पैसा मिल सकता है ! जानिए सभी राशियों का Kal Ka Rashifal
Oneplus 12R Refund: वनप्लस 12R सीरीज में आई ये समस्या ! अब कंपनी देगी फुल रिफण्ड, बस करना होगा ये काम
Kaushambi Patakha Blast: कौशाम्बी की पटाखा फैक्ट्री में ब्लास्ट ! 4 की मौत, कई घायल, बढ़ सकती है मौत की संख्या
UP Gehu Kharid 2024-25: यूपी में गेहूं खरीद पर बड़ी अपडेट ! इस तारीख़ से खुलेंगे सेंटर, जाने गेहूं का प्राइस
India Vs England Test Series: रांची टेस्ट में भारत मजबूत स्थिति में ! अश्विन और कुलदीप की फिरकी के आगे पस्त हुए अंग्रेज, भारत जीत से 152 रन दूर
Katni-Mohas Hanuman Mandir: मध्यप्रदेश के कटनी में है एक ऐसा चमत्कारिक हनुमान मन्दिर ! जहां दूर-दूर से टूटी हड्डियों का इलाज कराने पहुंचते हैं भक्त, राम-नाम जप व बूटी ग्रहण करने से जुड़ जाती है टूटी हड्डियां

Follow Us