Janmashtami Kab Hai 2023: श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है? इस वर्ष बन रहा है दुर्लभ योगवती संयोग ! जाने शुभ मुहूर्त और तिथि

Shri Krishna Janmashtami 2023: श्री कृष्ण जन्माष्टमी प्रत्येक वर्ष भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है. इस साल जन्माष्टमी 6 सितम्बर को मनाई जायेगी. इस बार कई सालों बाद योगवती श्री कृष्ण जन्माष्टमी का संयोग बन रहा है. जानिए पंडित ईश्वर दीक्षित के अनुसार शुभ मुहूर्त और समय

Janmashtami Kab Hai 2023: श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है? इस वर्ष बन रहा है दुर्लभ योगवती संयोग ! जाने शुभ मुहूर्त और तिथि
श्री कृष्ण जन्माष्टमी कब है 2023 जाने शुभ मुहूर्त : फोटो साभार गूगल

हाईलाइट्स

  • 6 सितंबर 2023 को मनाई जायेगी श्री कृष्ण जन्माष्टमी, बन रहा है योगवती श्री कृष्ण जन्माष्टमी का संयोग
  • 6 सितम्बर 2023 दिन बुधवार रोहणी नक्षत्र और अष्टमी का दुर्लभ संयोग
  • इस जन्माष्टमी में व्रत उपवास और दान करने से पूरी होगी मनोकामना, मथुरा वृंदावन में 7 को है जन्मोत्सव

Janmashtami 2023 Kab Hai: भारत सहित विदेशों में भी कृष्ण जन्माष्टमी बड़े धूम धाम से मनाई जाती है. प्रत्येक वर्ष भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को ये पर्व मनाया जाता है. इस वर्ष 6 सितंबर को दुर्लभ संयोगों के साथ अष्टमी तिथि प्रारंभ हो रही हैं.

बुधवार का दिन रोहणी नक्षत्र और अष्टमी तिथि का योगवती संयोग बन रहा है. मथुरा वृंदावन में इस पर्व को जन्मोत्सव के रूप में 7 सितम्बर को मनाया जायेगा. मान्यता है कि इस दुर्लभ संयोग में सच्चे मन से किया गया व्रत, दान, तप से भगवान कृष्ण प्रसन्न होकर भक्तों के सारे कष्ट दूर कर देते हैं.

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 6 या 7 सितंबर किस दिन है (Janmashtami 2023 Kab Hai)

वसुदेव माता देवकी के आठवें पुत्र भगवान श्री कृष्ण का जन्म मथुरा के कारागार में हुआ था. जिस समय भगवान का प्राकट्य हुआ उस समय भाद्रपद मास की अष्टमी तिथि और रोहणी नक्षत्र था साथ ही बुधवार का दिन था. पौराणिक मान्यताओं के आधार पर 6 सितंबर को कान्हा का 5250 जन्मोत्सव मनाया जायेगा.

Read More: Makar Sankranti Ganga Snan: सर्दी पर भारी आस्था ! मकर संक्रांति को लेकर घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

भारतीय सेना में धर्मगुरु पंडित ईश्वर दीक्षित ने बताया की ऋषिकेश पंचांग के अनुसार 6 सितंबर को दोपहर 2 बजकर 39 मिनट से रोहणी नक्षत्र प्रारम्भ हो रहा है और उसी दिन शाम को 7 बजकर 58 मिनट से अष्टमी तिथि लग रही है. 6 सितम्बर को बुधवार का शुभ दिन है इसलिए कई वर्षों के बाद योगवती श्री कृष्ण जन्माष्टमी का संयोग बन रहा है जो अत्यंत शुभ और दुर्लभ है.

Read More: Premanand Ji Maharaj Biography: कौन हैं प्रेमानन्द जी महाराज? 13 वर्ष की उम्र में ही छोड़ दिया था घर, जानिए महाराज जी कैसे पहुंचे काशी से वृंदावन

इस दिन गृहस्त आश्रम वाले व्यक्तियों के लिए प्रातः कालीन से व्रत उपवास करना शुभ फलदायक है. वहीं 7 सितंबर को दोपहर 3 बजकर 07 मिनट पर रोहणी नक्षत्र का समापन हो रहा है और शाम 7 बजकर 52 मिनट पर अष्टमी तिथि भी समाप्त हो रही है. 7 तारीख को साधु संत और मंदिरों में श्री कृष्ण जन्मोत्सव के रूप में मनाया जायेगा.

Read More: Rajeshwaranand Biography In Hindi: कथावाचक राजेश्वरानंद जी के अंदर छिपी थी अद्भुत प्रतिभा ! रामकथा कहते तो सब हो उठते आनंदित, जानिए कौन थे राजेश्वरानंद जी (रामायणी)?

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी और जन्मोत्सव में क्या है अंतर (Janmashtami 2023)

भगवान श्री कृष्ण के प्राकट्य रूप को विश्व भर में दो रूपों में मानने का प्रावधान है. पंडित ईश्वर दीक्षित के अनुसार भाद्र पद मास की अष्टमी तिथि को गृहस्थ जीवन वाले श्री कृष्ण जन्माष्टमी के रूप में मनाते हैं वहीं साधु संत और मथुरा वृंदावन में इसे जन्म के दूसरे दिन जन्मोत्सव के रूप में मनाने का प्रावधान है इसलिए हमेशा से लोग इसे दो दिवस में मनाते चले आ रहे हैं.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Jani Jani Pila De Pani Viral Video: जानी जानी पीला दे पानी गाने वाला कौन है बुजुर्ग ! सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो Jani Jani Pila De Pani Viral Video: जानी जानी पीला दे पानी गाने वाला कौन है बुजुर्ग ! सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो
सोशल मीडिया (Social Media) पर इन दिनों एक वीडियो तेजी से वायरल (Viral) हो रहा है. जिस तरह से एक...
Hathras Crime In Hindi: शादी समारोह में बारातियों पर फूल बरसाने आई नाबालिग के साथ तंदूर में लगे कर्मचारियों ने की हैवानियत ! पीड़िता सदमे में
Noida News: टेस्ट ड्राइव के बहाने 'थार' लेकर फरार हुआ शातिर चोर ! पुलिस ने रणनीति बनाते हुए धर दबोचा
Jhansi Wedding News: घर से संपन्न होने के बावजूद नई नवेली दुल्हन को बैलगाड़ी पर विदा कर ले जा रहा दूल्हा ! कारण जानकर हैरान रह जाएंगे आप
Modi Ka Parivar: पहले लालू का पीएम मोदी पर प्रहार ! फिर मोदी का लालू पर पलटवार, 2024 में कितना भारी पड़ेगा 'मोदी का परिवार' ?
Vote For Note Case: 'वोट के बदले नोट' मामले पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला ! सांसदों और विधायकों को नहीं मिलेगी कानूनी छूट, रिश्वत लेने पर चलेगा मुकदमा
Premanand Maharaj ji: भक्त ने सवाल किया महाराज मृत्यु भोज करना चाहिए या नहीं ! प्रेमानन्द महाराज जी ने बताई ये बात

Follow Us