×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: ठेकेदार मनीष तिवारी हत्याकांड- एक आरोपी गिरफ्तार साले की तलाश में जुटी पुलिस

विज्ञापन

मनीष तिवारी हत्याकांड में आरोपी बनाए साथी गौरव अग्निहोत्री को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, वहीं मुख्य आरोपी ठेकेदार का साला अनुज उर्फ़ पप्पू शुक्ला अभी भी फ़रार है. Fatehpur Manish Tiwari Latest News

Fatehpur UP News: बिजली ठेकेदार मनीष तिवारी की हत्या मामले में आरोपी गौरव अग्निहोत्री निवासी राजऊ थाना रसूलाबाद कानपुर देहात को कोतवाली पुलिस ने रविवार को लोधीगंज बाईपास से गिरफ्तार कर लिया है।दूसरा आरोपी मनीष का साला अनुज उर्फ़ पप्पू शुक्ला निवासी गदाई खागा अभी भी फ़रार बताया जा रहा है। Fatehpur Manish Tiwari

विज्ञापन
विज्ञापन

हत्या की जड़ में हो सकतें हैं कई चौंकाने वाले राज..

गिरफ्तार हुए साथी गौरव अग्निहोत्री ने पुलिस को  बताया है कि नशे की हालत में मनीष और उसके साले अनुज व मेरे बीच तीन जून की रात मारपीट हुई थी।इसी दौरान अनुज ने हॉकी से मनीष के सिर पर प्रहार कर दिया।मारपीट रुपयों पैसों के लेनदेन को लेकर हुई थी।पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हुई हॉकी को भी बरामद कर लिया है।फ़िलहाल पुलिस इसे ग़ैरइरादतन हत्या मानकर चली है।लेकिन इस मामले में जब पुलिस मनीष के साले अनुज शुक्ला को गिरफ्तार कर कड़ाई से पूछताछ करेगी तो हत्या की असल वजह के पीछे कई अन्य चौकानें वाले खुलासे हो सकतें हैं!

उल्लेखनीय है कि कांट्रेक्टर मनीष तिवारी बीते 3 जून की रात पत्थरकटा चौराहे पर मरणासन्न हालत में पुलिस को मिले थे उनके ऊपर जानलेवा हमला हुआ था। और ग्यारह जून की रात कानपुर के एक निजी अस्पताल में उनकी मौत हो गई थी।पिता उमाशंकर तिवारी ने पाँच जून को मामले में एफआईआर दर्ज कराई थी।मनीष के मौत के बाद पिता की ओर पुलिस को बीते दिन प्रार्थना पत्र दिया गया जिसमें हमले वाली रात मनीष के साथ मौजूद रहे साले अनुज शुक्ला औऱ साथी गौरव अग्निहोत्री पर हत्या की आशंका व्यक्त की है।जिसके बाद पुलिस ने दोनों को दर्ज एफआईआर में नामजद किया। Fatehpur Manish Tiwari Murder News

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: ठेकेदार मनीष तिवारी हत्याकांड- पिता ने साले औऱ साथी पर लगाए आरोप

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: परिजनों ने जिसे मोनिका समझ कर दिया अंतिम संस्कार वह मथुरा में जिंदा मिली


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।