×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: अस्पताल में भर्ती ठेकेदार मनीष तिवारी की मौत हफ़्ते भर पहले हुआ था जानलेवा हमला

विज्ञापन

श्रद्धा कॉन्ट्रेक्शन के मालिक मनीष तिवारी को बचाया नहीं जा सका।शुक्रवार रात उनकी मौत हो गई।मनीष का कानपुर के एक निजी हॉस्पिटल में इलाज़ चल रहा था।मनीष के ऊपर हफ़्ते भर पहले जानलेवा हमला हुआ था जिसके बाद उन्हें भर्ती कराया गया था. Fatehpur UP News contractor manish tiwari death in kanpur hospital

Fatehpur UP News:कानपुर के एक निजी अस्पताल में बीते एक हफ़्ते से भर्ती ठेकेदार मनीष तिवारी बचाए नहीं जा सके।उन्होंने शुक्रवार रात अस्पताल में दम तोड़ दिया।शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद उनका अंतिम संस्कार होगा।Manish Tiwari Contractor murder news

उल्लेखनीय है कि मनीष तिवारी बीते 4 जून की रात खून से लथपथ हालत में पत्थरकटा चौराहे पर पुलिस को मिले थे।पुलिस जिला अस्पताल लेकर पहुँचीं थी जहाँ से परिजन कानपुर के मधुराज अस्पताल ले गए थे।वहीं उनका इलाज़ जारी था।

विज्ञापन
विज्ञापन

हुआ था जानलेवा हमला..

खागा कोतवाली क्षेत्र के ब्राह्मणपुर गाँव निवासी मनीष तिवारी वर्तमान में शहर के शकुन नगर मोहल्ले में रहते थे।मनीष ज़िले के एक बड़े ठेकेदार थे।श्रद्धा कॉन्ट्रेक्शन नाम की कम्पनी चलाते थे।पहले बिजली विभाग में ठेकेदारी औऱ वर्तमान में हाईवे चौड़ीकरण का काम कर रही पीएनसी कम्पनी में ठेकेदारी कर रहे थे।Fatehpur Shradha Construction and Supplier

बीते 4 जून की रात वह मरणासन्न हालत में पुलिस को पत्थरकटा चौराहे पर मिले थे।उनके ऊपर जानलेवा हमला हुआ था।बताया जाता है कि उस रात मनीष के साथ उनके साले अनुज शुक्ला औऱ एक साथी गौरव अग्निहोत्री भी मौजूद थे।

इस मामले में मनीष तिवारी के पिता उमाशंकर तिवारी की तरफ़ से सदर कोतवाली में अज्ञात हमलावरों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई गई थी।पुलिस कई लोगों से पूछताछ कर हमलावरों की तलाश में जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: ठेकेदार मनीष तिवारी पर हुए जानलेवा हमले मामले में दर्ज हुई एफआईआर

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: नौ जून को आनी थी बारात लड़की पहले ही ग़ायब हो गई


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।