×
विज्ञापन

फर्रुखाबाद:युगान्तर प्रवाह की ख़बर का असर..सट्टेबाजों पर ताबड़तोड़ कार्यवाही..लाखों की बरामदगी एक गिरफ्तार.!

विज्ञापन

यूपी के फर्रुखाबाद में एक बड़े सट्टेबाज को लाखों की नगदी सहित पुलिस ने गिरफ्तार किया है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

फर्रुखाबाद:आईपीएल शुरू होते ही सट्टेबाजी का काला कारोबार जोर पकड़ लेता है।हर मैच पर शहरों में लाखों के वारे न्यारे होतें हैं।यूपी के फर्रुखाबाद में पुलिस ने सट्टा के अवैध कारोबार से जुड़े लोगों के ऊपर सिंकजा कसना शुरू कर दिया है। farrukhabad news

ये भी पढ़ें-हाथरस कांड:फतेहपुर में कांग्रेसियों ने फूंका योगी सरकार का पुतला.दर्ज हुआ मुकदमा.!

बीते दिनों युगान्तर प्रवाह ने फर्रुखाबाद में शहर कोतवाली क्षेत्र में हो रहे सट्टे की ख़बर को खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।इतना ही नहीं हमने बताया था कि एक भाजपा नेता का क़रीबी इस जरायम में प्रमुख रूप से शामिल है। farrukhabad ipl news

युगान्तर प्रवाह की ख़बर के बाद प्रशासन जागा औऱ गुरुवार को कोतवाली पुलिस व एसओजी की टीम ने एक कथित हिन्दू नेता विक्रांत अवस्थी के घर पर छापेमारी कर दी।पुलिस को यहाँ से पंद्रह लाख से ज़्यादा की नगदी, नोट गिनने की मशीन,सट्टे की पर्चियां व अन्य सम्बंधित सामान मिला है।

ये भी पढ़ें-यूपी की ब्यूरोक्रेसी से जुड़ी बहुत बड़ी ख़बर..अवनीश अवस्थी हटाए गए.!

जानकारी के अनुसार कोतवाली क्षेत्र के रायदीप चंद निवासी विक्रांत अवस्थी के घर पर पुलिस नें दबिश दी तो भाई विकास अवस्थी ने पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने का प्रयास करने लगा।पुलिस से इस दौरान आरोपियों की नोंक झोंक भी हुई।लगभग डेढ़ घंटे तक पुलिस विक्रांत के घर में छापेमारी करती रही।

ये भी पढ़ें-UP:रायबरेली में लूट के बाद माँ बेटी की हत्या.!

पुलिस को मौक़े से भारी तादात में नोटों के बंडल, नोट गिनने वाली मशीन व सट्टे से जुड़ी वस्तुएं बरामद हुईं।पुलिस ने विक्रांत के भाई विकास अवस्थी को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल मिश्र ने बताया कि रायदीप चंद मोहल्ला निवासी राहुल अवस्थी के घर पर छापेमारी की गई है।सूचना मिली थी कि ये सट्टा करवा रहा है।वहाँ से सट्टे की पर्चियां, नोट गिनने की मशीन व कुल 15 लाख 28 हज़ार 570 रुपए बरामद हुए हैं।विकास अवस्थी को गिरफ्तार कर लिया गया है।अन्य लोगों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी हैं।जल्द उनको भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।