×
विज्ञापन

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का निधन..सात दिनों का राजकीय शोक..!

विज्ञापन

भारत के पूर्व राष्ट्रपति व भारत रत्न से सम्मानित प्रणव मुखर्जी का सोमवार शाम क़रीब पौने 6 बजे निधन हो गया..पढ़ें युगान्तर प्रवाह की एक रिपोर्ट...

नई दिल्ली:बीते कुछ  हफ़्तों से अस्पताल में भर्ती भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का 84 वर्ष की उम्र में सोमवार शाम  दिल्ली में सेना के आर एंड आर अस्पताल में निधन हो गया।उनके निधन की सूचना से पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई है।केंद्र सरकार ने सात दिनों के राजकीय शोक का ऐलान किया है। pranab mukharji

ये भी पढ़ें-up:पुलिस की पिटाई से दलित युवक की मौत..कोतवाली में हंगामा..!

वे मस्तिष्क में रक्त के एक थक्के के ऑपरेशन के लिए अस्पताल गए थे जहाँ उनकी कोरोना जाँच भी हुई थी जिसमें वह पॉज़िटिव पाए गए थे।अपने कोरोना पाज़िटिव होने की ख़बर उन्होंने 10 अगस्त को स्वयं ट्वीट कर दी थी। pranav mukharji death

मस्तिष्क के ऑपरेशन के बाद पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी कोमा में चले गए थे।तब से वह अस्पताल में लाइफ़ सपोर्ट सिस्टम पर थे।अस्पताल द्वारा हर रोज़ उनका मेडिकल बुलटेन जारी किया जाता था।

ये भी पढ़ें-लखनऊ डबल मर्डर:हाईस्कूल की छात्रा है हत्यारोपी बेटी..पूछताछ में किया चौंकाने वाला खुलासा.!

सोमवार को शाम पौने छह बजे के क़रीब राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे और पूर्व सांसद अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट करके उनकी मौत की पुष्टि की। pranav mukharji

देश के वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करके पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर दुख जताया है।

पीएम मोदी ने भी ट्वीट करके पूर्व राष्ट्रपति मुखर्जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए लिखा है कि- "भारत रत्न श्री प्रणब मुखर्जी के निधन पर भारत शोकाकुल है।हमारे राष्ट्र के विकास के पथ पर उन्होंने एक अमिट छाप छोड़ी है। एक विद्वान, ऊंचे कद के राजनेता जिन्हें सभी समुदायों और राजनीतिक वर्गों में सराहा गया।"


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।