×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: ठेकेदार मनीष तिवारी का गाँव में हुआ अंतिम संस्कार विधायक से पिता ने की न्याय की फ़रियाद

विज्ञापन

ठेकेदार मनीष तिवारी का शव शनिवार शाम फतेहपुर पहुँचा।अंतिम संस्कार पैतृक गांव खागा ब्राह्मणपुर में हुआ. Fatehpur contractor manish tiwari news

Fatehpur UP News: श्रद्धा कॉन्ट्रेक्शन कम्पनी के मालिक मनीष तिवारी का शव शनिवार शाम फतेहपुर पहुँचा।शव का अंतिम संस्कार पैतृक गाँव खागा क्षेत्र के ब्राह्मणपुर में उनकी ट्रांसफार्मर फ़ैक्ट्री की ज़मीन पर हुआ।इस दौरान खागा विधायक कृष्णा पासवान सहित भारी संख्या में क्षेत्र के नेता व लोग उपस्थित रहे।

मृतक मनीष तिवारी के पिता उमाशंकर तिवारी ने खागा विधायक से न्याय की फ़रियाद लगाई उन्होंने कहा कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले।दोषी चाहे जो भी हो उसको सजा मिलनी चाहिए तभी मेरे बेटे की आत्मा को शांति मिलेगी। Fatehpur contractor manish tiwari murder case latest news

विज्ञापन
विज्ञापन

अज्ञात के खिलाफ़ दर्ज है एफआईआर..

घटना के अगले दिन मनीष तिवारी के पिता की तरफ़ से सदर कोतवाली में अज्ञात हमलावरों के खिलाफ़ मुकदमा दर्ज कराया गया था।पुलिस कई लोगों से पूछताछ कर चुकी है।लेकिन अब तक घटना की वजह औऱ हमलावरों का सुराग़ नहीं लग पाया है।शुक्रवार रात ठेकेदार की कानपुर के अस्पताल में मौत हो गई है।जिसके बाद पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर एफआईआर को हत्या में तरमीम करेगी।

अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुआ साला..

उल्लेखनीय है कि मृतक मनीष तिवारी के ऊपर अज्ञात हमलावरों द्वारा जानलेवा हमला किया गया था।वह 4 जून की रात पुलिस को मरणासन्न हालत में पत्थरकटा चौराहे पर मिले थे।घटना वाली रात मनीष के साथ उनका साला अनुज शुक्ला औऱ साथी गौरव अग्निहोत्री मौजूद थे।लेकिन यह दोनों पुलिस को कुछ भी साफ़ साफ़ नहीं बता पाए हैं।पुलिस के शक की सुई साले पर आकर टिक गई है।

बताया जा रहा है कि साला अनुज फ़रार हो गया है।वह शनिवार को मनीष के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हुआ।

news-details

मौके पर मौजूद खागा विधायक कृष्णा पासवान।

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: अस्पताल में भर्ती ठेकेदार मनीष तिवारी की मौत हफ़्ते भर पहले हुआ था जानलेवा हमला

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: ठेकेदार मनीष तिवारी पर हुए जानलेवा हमले मामले में दर्ज हुई एफआईआर


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।