Republic Day 2024: 15 अगस्त और 26 जनवरी पर झंडा फहराने के अंतर को जानिए

15 अगस्त और 26 जनवरी पर झंडा क्यों फहराया जाता है

देश 75 वां गणतंत्र दिवस शुक्रवार को मनाएगा (Country Celebrate 75th Republic Day On Friday). देश में 26 जनवरी की धूम मची हुई है. नई दिल्ली में इस दिन राजपथ (Rajpath) (कर्तव्य पथ) पर झंडा फहराया (Flag Unfurling) जाता है. 15 अगस्त और 26 जनवरी दोनों राष्ट्रीय पर्व पर झंडे फहराने के नियम अलग-अलग बताए गए हैं. हो सकता है यह बात बहुत लोगों को न पता हो.

Republic Day 2024: 15 अगस्त और 26 जनवरी पर झंडा फहराने के अंतर को जानिए
राष्ट्रीय ध्वज, फोटो साभार सोशल मीडिया

देश में गणतंत्र दिवस की धूम

15 अगस्त 1947 को हमारा देश आजाद (Freedom) हुआ था. तीन वर्ष बाद यानी 26 जनवरी 1950 को हमारा संविधान लागू (Constitution Implemented) हुआ था. तबसे 26 जनवरी को भी झंडा फहराया (Flag Unfurling) जाता है. नई दिल्ली के राजपथ में इस दिन वायुसेना, थल सेना, और नौसेना की परेड होती है, विभिन्न राज्यों की सांस्कृतिक और पारम्परिक झाकियां निकलती हैं.

रायसीना हिल्स से राष्ट्रपति (President) का आगमन होता है वह झंडा फहराते हैं. क्या आपको 15 अगस्त और 26 जनवरी के झंडे फहराने के नियमों के बारे में पता है. दोनों राष्ट्रीय पर्वो (National Festivals) में झंडे फहराने के नियम अलग बताए गए है. हालांकि बहुत से लोग इतना ही जानते होंगे कि जैसे 15 अगस्त में झंडा फहराया जाता है वैसे ही 26 जनवरी में भी, चलिये आपको दोनों के बीच के अंतर को आपको इस आर्टिकल के जरिये बताएंगे.

जानिए 15 अगस्त व 26 जनवरी झंडे फहराने में दोनों में अंतर

दरअसल 15 अगस्त और 26 जनवरी दोनों राष्ट्रीय पर्व हैं, दोनों मौकों पर झंडा फहराया जाता है बस कुछ नियम अलग (Rules Different) है. पहले तो यह सभी जानते हैं कि 15 अगस्त को लाल किले से प्रधानमंत्री ध्वजारोहण करते हैं, 26 जनवरी को राजपथ से राष्ट्रपति ध्वज फहराते हैं. बात की जाए 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) की तो इस दिन तिरंगा ऊपर खींचा जाता हैं और इसे खोलकर फहराते हैं.

इसके पीछे इतिहास यह है कि ब्रिटिश सरकार ने अपना झंडा उतारकर भारतीय झंडे को ऊपर चढ़ाकर फहराया था, इसे ध्वजारोहण (Flag Hosting) कहते हैं. गौर करिएगा 26 जनवरी के दिन झंडा पहले से ही ऊपर की ओर बंधा रहता है फिर उसे केवल खोलकर फहराया जाता है. दोनों में यही अंतर है. इसे ध्वजारोहण नहीं बल्कि झंडा फहराना (Flag Unfurling) कहा जाता है. जिसे राष्ट्रपति फहराते हैं.

Read More: Mohammad Shami Arjun Award: विश्वकप 2023 में अद्वितीय प्रदर्शन करने वाले भारतीय तेज़ गेंदबाज मो.शमी को 'अर्जुन अवॉर्ड' से राष्ट्रपति ने किया सम्मानित ! बैडमिंटन में चिराग व सात्विक को खेल रत्न अवॉर्ड, देखें पूरी लिस्ट

क्या है इस बार गणतंत्र दिवस की थीम?

गणतंत्र दिवस 2024 परेड की थीम 'विकसित भारत' और 'भारत - लोकतंत्र की मातृका' है, 26 जनवरी 2024 यानी शुक्रवार को राजपथ पर भव्य परेड दिखाई देगी. यही नहीं इस बार मुख्य अतिथि के रूप में फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मैंक्रा (President Of France) उपस्थित रहेंगे. इसदिन राजपथ से सैन्य ताकत व सांस्कृतिक झांकियों की झलक दिखाई देती है. देश के वीर जवानों को महामहिम परमवीर चक्र, अशोक चक्र और वीर चक्र से सम्मानित करते हैं. यही नहीं गणतंत्र दिवस का जश्न 29 जनवरी को बीटिंग रिट्रीट समारोह तक चलता है.

Read More: Girl Parenting Tips: बेटियों की बेहतर परवरिश के लिए पैरेंट्स इन बातों का रखें ख्याल ! होगा नाज़

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी UP Board Exam Paper Leak: 12 वीं पेपर लीक मामले में बोर्ड की बड़ी कार्रवाई ! स्कूल की मान्यता निरस्त, 2 गिरफ्तार,1 की तलाश जारी
पेपर लीक का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब यूपी बोर्ड परीक्षा में पेपर लीक का मामला...
Anant Ambani-Radhika Pre Wedding: अनन्त अम्बानी-राधिका की प्री वेडिंग सेरेमनी में दुनिया भर से दिग्गजों का आना हुआ शुरू ! जानिए कौन-कौन हस्तियां हो रही इस भव्य समारोह में शामिल
Banshidhar Tobacco Company IT Raid: तम्बाकू कम्पनी के कानपुर समेत कई ठिकानों पर IT की रेड ! दिल्ली-गुजरात में भी छापेमारी, क्या-क्या मिला?
Mahashivratri 2024: कब हैं 'महाशिवरात्रि' का महापर्व? क्यों मनाई जाती है महाशिवरात्रि ! जानिये पौराणिक महत्व
March Muhurat 2024: विवाह-गृह प्रवेश व मुंडन संस्कार के जान लीजिए मार्च माह के शुभ मुहूर्त और तिथि
Fatehpur Sadar Asptal: मैं मना करती रही और वो हथौड़ी चलाता रहा ! डॉक्टर की करतूत बताते हुए भावुक हो गई सिस्टर इनचार्ज
Cardiac Arrest Treatment: कार्डियक अरेस्ट आने पर नहीं मिलता है जान बचाने का मौका ! इसलिए हो जाइए सचेत

Follow Us