oak public school

Bhutiya Railway Station In India: भारत के ऐसे पांच भूतिया रेलवे स्टेशन जहां पर जाने से कतराते हैं लोग, जानिए कहां हैं ये स्टेशन्स?

भूतिया रेलवे स्टेशन

भारत का रेल नेटवर्क काफी बड़ा है जो देश के कई राज्यों को जोड़ने का काम भी करता है. यही कारण है कि रेलवे में रोजाना लाखों लोग सफर करते हैं तो वहीं देश में कुछ ऐसे भी रेलवे स्टेशन (Railway Stations) है जो दिखने में काफी डरावने (Horrific) हैं जहां जाने में लोग काफी कतराते हैं आज हम आपको देश के पांच ऐसे डरावने स्टेशनों (5 Haunted Railway Stations) के बारे में बताएंगे जो काफी डरावने हैं.

Bhutiya Railway Station In India: भारत के ऐसे पांच भूतिया रेलवे स्टेशन जहां पर जाने से कतराते हैं लोग, जानिए कहां हैं ये स्टेशन्स?
भूतिया रेलवे स्टेशन, Image Credit Original Source

5 भूतिया स्टेशन्स जहां लगता है देखकर डर

रेलवे में रोजाना लाखों लोग ट्रेन में सफर (Travelling Lacks Of Peoples In Train) करते हैं तो वहीं भारत में तकरीबन 8000 रेलवे स्टेशन हैं, जो किसी न किसी वजह से चर्चाओं में भी बने रहते हैं. इसके अलावा कुछ ऐसे भी रेलवे स्टेशन है जिन्हें भूतिया रेलवे स्टेशन (Haunted Railway Station) भी कहा जाता है. जहां जाने में लोग कतराते हैं भारत के अलग-अलग राज्यों में मौजूद यह पांच रेलवे स्टेशन की कहानी हम आपको सुनाने जा रहे हैं. हमारा मकसद आपको डराना नहीं बल्कि जानकारी देना है तो चलिए शुरू करते हैं इन भूतिया रेलवे स्टेशनों की जहां पर जाने में लोगों को डर लगता है.

haundeted_station
5 भूतिया रेलवे स्टेशन, Image Credit Original Source

मुलुंड रेलवे स्टेशन

माया नगरी मुंबई (Mumbai) में मौजूद यह स्टेशन मुलुंड जिसे भूतिया रेलवे स्टेशन (Haunted Railway Station) भी कहा जाता है यहां पर आने वाले लोगों का ऐसा मानना है कि शाम होते ही यहां पर अजीब तरह की चीखने और चिल्लाने की आवाज सुनाई देती है यहां के लोगों का ऐसा मानना है कि रेलवे स्टेशन के आसपास दुर्घटना में जिनकी मौत हुई है उन्हीं की रूह यहां पर लोगों को डराने का काम करती है.

चित्तूर रेलवे स्टेशन

वैसे तो भारत के दक्षिणी राज्य आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) को देश के प्रसिद्ध कई मंदिरों के लिए जाना जाता है लेकिन यहां का चित्तूर रेलवे स्टेशन (Chittoor Railway Station) अपनी भूतिया कहानी के लिए भी प्रसिद्ध है. ऐसा कहा जाता है कि इस स्टेशन पर एक सीआरपीएफ जवान जब ट्रेन से स्टेशन पर उतरा तो यहां पर एक  जवान और टीटीई ने उसके साथ जमकर मारपीट की थी ज्यादा मार पड़ने की वजह से उसकी मौत हो गई थी अकस्मात हुई उस जवान की मौत के बाद स्टेशन के आसपास कई अजीब तरह की घटनाएं घटित होने लगी. तभी से ऐसा लोगों का मानना है कि जवान की मौत के बाद ही इस तरह की घटनाएं हो रही है तब से लेकर आज तक इस स्टेशन को भूतिया स्टेशन भी कहा जाता है.

नैनी रेलवे स्टेशन

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में संगम नगरी इलाहाबाद जो अब वर्तमान में प्रयागराज के नाम से भी जाना जाता है इस धर्म नगरी का एक रेलवे स्टेशन जिसे नैनी रेलवे स्टेशन (Naini Railway Station) कहा जाता है भूतिया रेलवे स्टेशनों की सूची में इसका नाम इसलिए जोड़ा जाता है क्योंकि यह बात उन दिनों की है जब देश में अंग्रेजी हुकूमत शासन किया करती थी, उस दौरान अंग्रेजों ने बड़े ही बेरहमी से इस स्टेशन पर कई भारतीयों को मौत के घाट उतार दिया था तब से यहां के लोगों का ऐसा मानना है कि उन सभी भारतीयों की आत्माएं आज भी रेलवे स्टेशन के आसपास दिखने के साथ-साथ अजीब तरह की आवाजे आती है.

Read More: Snakes Venom Demand: सांप के जहर की क्यों बढ़ रही है डिमांड ! आखिरकार नशेड़ी के शरीर में 3 से 4 सप्ताह तक कैसे रहता है इसका असर, जानिए इस रिपोर्ट के जरिए

बड़ोग रेलवे स्टेशन

हिल स्टेशन और टूरिज्म के लिए प्रसिद्ध हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) जैसे खूबसूरत शहर में भी एक भूतिया रेलवे स्टेशन मौजूद है यह स्टेशन कालका शिमला रोड पर बना हुआ है यह स्टेशन देखने में जितना सुंदर है तो इससे जुड़ी कहानी उतनी ही डरावनी है ऐसा बताया जाता है कि यहां पर अंग्रेजी हुकूमत के इंजीनियर कर्नल बड़ोग काम करते थे लेकिन अपनी निजी कारणों की वजह से उन्होंने यहां पर आत्महत्या कर ली थी तब से उनकी आत्मा यहीं पर रहकर लोगों को दिखती और परेशान करती है.

Read More: Damoh Bandakpur News: भोलेनाथ के सामने माथा टेकते ही बुजुर्ग महिला के निकले प्राण ! लोगों ने कहा बाबा जागेश्वर नाथ साथ ले गए

बेगुन कोदर रेलवे स्टेशन

अपनी सिंपलीसिटी के लिए मशहूर पश्चिम बंगाल जहां पर आज भी लोग घूमने जाते हैं यहां पर भी एक भूतिया रेलवे स्टेशन है जो बंगाल के पुरुलिया जिले में है यहां पर यात्रा करने के दौरान कई यात्रियों ने सफेद साड़ी वाली महिला का भूत दिखने की बात कही है यही नहीं इस रेलवे स्टेशन से जुड़ी और भी कई ऐसी कहानी है जिस वजह से यहां पर लोग जाने में कतराते हैं यही कारण है कि इस रेलवे स्टेशन को 42 सालों तक बंद कर दिया गया था लेकिन फिर साल 2009 में इसे वापस खोल दिया गया है लेकिन आज भी लोगों के बीच इसका डर बरकरार है.

Read More: CAA Ka Rule Kya Hai In Hindi: केंद्र सरकार का बड़ा फैसला ! CAA का नोटिफिकेशन किया जारी, जानिए क्या है नागरिकता संशोधन अधिनियम?

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

UP Board Result 2024 Intermediate Topper: यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में सीतापुर के शुभम वर्मा टॉपर ! फतेहपुर को मिला तीसरा स्थान UP Board Result 2024 Intermediate Topper: यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में सीतापुर के शुभम वर्मा टॉपर ! फतेहपुर को मिला तीसरा स्थान
उत्तर प्रदेश बोर्ड (UP Board) साल 2024 का इंटरमीडिएट परीक्षा परिणाम घोषित कर दिया गया है. सीतापुर (Sitapur) के शुभम...
UP Board Result 2024 High School Topper: यूपी बोर्ड हाईस्कूल की परीक्षा में ये रहे टॉपर ! फतेहपुर में इन्होंने मारी बाजी
Fatehpur Local News: मौत बांट रहे हैं फतेहपुर के नर्सिंग होम ! धृतराष्ट्र बना स्वास्थ्य विभाग
Fatehpur UP News: फतेहपुर में पकड़ा गया अंतर्जनपदीय टप्पेबाज गैंग ! काली बुलेरो से ज्वैलरी शॉप को करते थे टार्गेट
Fatehpur News: जब निषादराज के लिए करुणा निधान बन उठ गए सहस्त्र हांथ ! विलख रहे पिता के नेत्र से निकल रही थी अविरल धारा
Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन
Upsc Vishal Dubey Success Story: हवलदार पिता का सपना पूरा कर बेटा बनेगा आईपीएस अफसर

Follow Us