oak public school

cVIGIL Full Form In Hindi: सीविजिल का फुल फॉर्म क्या है ? लोकसभा चुनाव में कैसे करें इसका उपयोग

cVIGIL App Full Form In Hindi

लोकसभा चुनाव (Loksabha Elections) को स्वतंत्र व निष्पक्ष कराए जाने को लेकर केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने एक ऐसा c-VIGIL एप लांच (Launch) किया है. जिससे चुनाव के दरमियां यदि कोई भी आचार संहिता का उल्लंघन करता है तो इस एप के जरिये आम नागरिक घर बैठे आसानी से शिकायत कर सकता है. इस शिकायत का समाधान सम्बन्धित रिटर्निंग ऑफिसर की निगरानी में 100 मिनट के अंदर कर उसे अपडेट कर दिया जाएगा.

cVIGIL Full Form In Hindi: सीविजिल का फुल फॉर्म क्या है ? लोकसभा चुनाव में कैसे करें इसका उपयोग
सिविजिल एप लांच, Image credit original source

क्या है सी-विजिल का फुल फार्म?

सबसे खास बात यह कि आख़िर सिविजिल एप (C-vigil App) का फुल फॉर्म (Full Form) क्या होता है. आपको बताना चाहेंगे इस c-VIGIL का फुल फॉर्म, Citizen Vigilance App है. मतलब हिंदी में इसे नागरिक सतर्कता एप कहते हैं. अर्थात नागरिक सतर्कता एक जागरूक नागरिक जो लोकतंत्र की प्रक्रिया का प्रहरी हो, सीधी व आसान भाषा में अगर कहे तो यह एक ऐसा एप है जिसे आम नागरिक प्रयोग करते हुए चुनाव में फैली अव्यवस्थाओं की शिकायत ऊपर तक पहुंचा सकते हैं. जिससे लोकतंत्र की रक्षा की जा सकती है.

केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने एप किया लांच

लोकसभा चुनाव का पहला चरण 19 अप्रैल से शुरू होगा. 4 जून को नतीजे आएंगे. उससे पहले देश में आदर्श आचार संहिता लगी हुई है. केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने सिविजिल एप लांच किया है. चुनाव को लेकर कड़े नियम इस एप के जरिये बना रहा है, इसके साथ ही आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले लोगों पर कड़ी कार्रवाई भी इस ऐप के जरिए की जाएगी. दरअसल केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने सीविजिल (c-Vigil) नाम का एक ऐप लॉन्च किया है जिसके जरिए आम आदमी भी इस ऐप को अपने मोबाइल पर डाउनलोड करते हुए चुनाव को लेकर किसी भी तरह की शिकायत आसानी से इस ऐप के जरिए कर सकते हैं. जिस पर 100 मिनट के अंदर समस्या का समाधान करते हुए अपडेट किया जाएगा.

c_vigil_app_launch
सिविजिल एप, image credit original source
यह एप किस तरह करेगा काम

खास तौर पर लोकसभा चुनाव में स्वतंत्र और निष्पक्ष रूप से मतदान सुनिश्चित कराए जाने के लिए केंद्रीय निर्वाचन आयोग ने सीविजिल एप (c-vigil app) कर दिया है. इस एप के जरिए चुनाव के दरमियां लगी हुई आदर्श आचार संहिता का यदि कोई उल्लंघन करते हुए पाया जाता है तो आम नागरिक अपने मोबाइल पर उस व्यक्ति या आचार संहिता का उल्लंघन करने वाली सामग्रियों वाली शिकायत को इस एप पर डाल सकते हैं.

यह एप सभी स्मार्टफोन एंड्रायड व ios पर कार्य करेगा. आचार संहिता के दौरान किसी भी तरह के चुनाव में हुई अव्यवस्था या कोई भी ऐसा कार्य जो आचार संहिता के उल्लंघन में आता है इसकी शिकायत को इस एप के जरिए भेज सकते हैं. इसके बाद भेजने वाले का नाम भी गुप्त रखा जाएगा और उसके द्वारा की गई इस शिकायत का समाधान भी 100 मिनट के अंदर कर दिया जाएगा.

Read More: Train Ticket Transfer: रेलवे की टिकट को कैंसिल किए बिना दूसरे को करें ट्रांसफर ! जान लीजिए पूरा तरीका

ऐसे करें एप को डाऊनलोड

अब बात आती है कि सीविजिल एप मोबाइल पर किस तरह से डाउनलोड कर सकते हैं तो इसके लिए आप प्ले स्टोर पर जाकर सी विजिल एप डाउनलोड किया जा सकता है यह हर स्मार्टफोन पर आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है. जिसमें आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत लाइव फोटो और लाइव वीडियो अपलोड कर वह शिकायत दर्ज कर सकते हैं. याद रहे इसमें आप अपनी व्यक्तिगत शिकायत नहीं दर्ज कर सकते हैं. यह एप केवल आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायतों के लिए बनाया गया है.

Read More: Election Commissioner Appointed: खाली पड़े चुनाव आयुक्त के दोनों पदों पर हुई नियुक्ति ! ये दो सीनियर अफसर हुए देश के नए चुनाव आयुक्त

शिकायतकर्ता की बनी रहेगी गोपनीयता

इसके साथ ही यदि कोई नागरिक इस एप पर आचार संहिता से उल्लंघन करने वालों की कोई कंप्लेंट दर्ज करता है तो जरूरी नहीं है कि वह इस एप पर अपना मोबाइल और नाम दें आप अपनी पहचान छुपा कर भी शिकायत कर सकते हैं. यदि अगर शिकायतकर्ता नाम और मोबाइल नंबर देता है तो वह इस ऐप के माध्यम से की गई शिकायत की निगरानी भी कर सकता है. यही नहीं आपके द्वारा की गई शिकायत का समाधान 100 मिनट के बाद हो जाएगा.

Read More: CAA Ka Rule Kya Hai In Hindi: केंद्र सरकार का बड़ा फैसला ! CAA का नोटिफिकेशन किया जारी, जानिए क्या है नागरिकता संशोधन अधिनियम?

शिकायत करने के बाद 100 मिनट में समाधान

जब शिकायत इस एप पर दर्ज हो जाती है तो आपको थोड़ा इंतजार यानी करीब 100 मिनट का इंतजार करना होगा जिसके बाद सम्बन्धित शिकायत कंट्रोल रूम जाती है. फिर रिटर्निंग ऑफिसर के द्वारा शिकायत स्थल का निरीक्षण कर उसे ऑनलाइन एप पर अपडेट कर दिया जाता है. चुनाव से संबंधित सिविजिल एप में धनराशि वितरण, गिफ्ट-कूपन वितरण, शराब वितरण से संबंधित शिकायतों के अतिरिक्त बिना अनुमति के पोस्टर लगाना, बैनर लगवाना, बिना अनुमति बैठक करना, बिना अनुमति के प्रचार में गाड़ी लगाना या धार्मिक और उन्मादी भाषण बाजी से संबंधित शिकायत है यहां दर्ज कराई जा सकती है.

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन
यदि आप भी गूगल पिक्सल स्मार्टफोन (Google Pixel Smartphone) के लवर हैं तो यह खबर आपके लिए है जी हां...
Upsc Vishal Dubey Success Story: हवलदार पिता का सपना पूरा कर बेटा बनेगा आईपीएस अफसर
Kanpur Accident News: फतेहपुर से कानपुर बारादेवी देवी जा रही पिकप हादसे का शिकार ! तीन लोगों की मौत, बड़ी संख्या में लोग घायल
Fatehpur IAS Success Story: फतेहपुर के दो होनहारों ने बढ़ाया जिले का मान ! क्रैक की यूपीएससी परीक्षा
Prayagraj Crime In Hindi: प्रयागराज के बंद कमरे में महिला पुरूष कांस्टेबल के शव ! पुलिस महकमे में हड़कंप, आखिर क्या हुआ
Upsc Topper Donuru Ananya Reddy Success story: यूपीएससी में ऑल इंडिया रैंक 3 हासिल करने वाली डोनुरू अनन्या रेड्डी की सफलता की कहानी ! क्रिकेटर विराट कोहली से है प्रभावित
Upsc Pawan Kumar Success Story: आर्थिक स्थिति से लड़ते हुए छप्पर में रहने वाले किसान के बेटे पवन कुमार ने UPSC में मारी बाजी ! परिवार में छाई खुशी

Follow Us