गोरखपुर न्यूज़

उत्तर-प्रदेश  कानपुर 

Who Is Navendu Mishra: कानपुर के 34 साल के नवेंदु मिश्रा ने ब्रिटेन में गाड़ दिया झंडा ! सर्वाधिक मतों से जीतकर बने सांसद

Who Is Navendu Mishra: कानपुर के 34 साल के नवेंदु मिश्रा ने ब्रिटेन में गाड़ दिया झंडा ! सर्वाधिक मतों से जीतकर बने सांसद उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) के मूल निवासी नवेंदु मिश्रा (Navendu Mishra) ने ब्रिटेन (Britain) की लेबर पार्टी (Labor Party) से सांसदीय (MP) का चुनाव लड़ते हुए सर्वाधिक मतों से जीत दर्ज की है. जानिए भारतीय मूल के ब्रिटिश नागरिक नवेंदु मिश्रा के बारे में
Read More...
उत्तर-प्रदेश  क्राइम 

Unnao DSP Kripashankar Kanojiya: वाह रे CO साहब इश्कबाजी में बन गए सिपाही ! महिला कांस्टेबल के साथ होटल में धरे गए

Unnao DSP Kripashankar Kanojiya: वाह रे CO साहब इश्कबाजी में बन गए सिपाही ! महिला कांस्टेबल के साथ होटल में धरे गए उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) में बीघापुर CO के पद पर तैनात रहे प्रमोटी पीपीएस अधिकारी कृपाशंकर कनौजिया (Kripa Shankar Kanojia) को उनके पद से हटा कर वापस से पीएसी में सिपाही के मूल पद वापस भेज दिया गया है. तीन साल पहले मीडिया की सुर्खियां बने सीओ साहब कानपुर (Kanpur) के एक होटल में महिला सिपाही के साथ रंगे हाथों पकड़े गए थे.
Read More...
उत्तर-प्रदेश  क्राइम 

Gorakhpur Crime In Hindi: कलयुगी पिता ने हैवानियत की हद की पार ! अश्लील वीडियो दिखाकर बेटी के साथ करता रहा दरिंदगी, मना करने पर पीड़िता को किया घायल अब मौके से हुआ फरार

Gorakhpur Crime In Hindi: कलयुगी पिता ने हैवानियत की हद की पार ! अश्लील वीडियो दिखाकर बेटी के साथ करता  रहा दरिंदगी, मना करने पर पीड़िता को किया घायल अब मौके से हुआ फरार यूपी के गोरखपुर (Gorakhpur) से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने बेटी और पिता के रिश्ते को शर्मसार (Relationships Put to Same) कर दिया है. दरअसल यहां पर पीड़ित बेटी ने अपने पिता के खिलाफ दुष्कर्म (Raped) का आरोप लगाया है यही नहीं इस हैवान पिता ने अपनी पत्नी और बेटे को जान से मारने की धमकी भी दी है. फिलहाल पीड़िता की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी पिता के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के लिए तलाश में जुट गई है.
Read More...
अध्यात्म 

Gorakhpur Jharkhandi Mahadev Temple : जानिए इस शिव मंदिर को क्यों कहा जाता है झारखंडी महादेव,क्या है इस मंदिर का अनोखा रहस्य

Gorakhpur Jharkhandi Mahadev Temple : जानिए इस शिव मंदिर को क्यों कहा जाता है झारखंडी महादेव,क्या है इस मंदिर का अनोखा रहस्य उत्तर प्रदेश के गोरखपुर-देवरिया हाइवे से करीब 6 किलोमीटर दूर रहस्यमयी शिव मंदिर है.प्राचीन काल में यहां घना जंगल हुआ करता था.झाड़-झाँकड़ के बीच स्वयंभू शिवलिंग होने के कारण नाम पड़ा झारखंडी महादेव शिव मंदिर..यह मन्दिर आस्था का केंद्र है.यहां विशाल पीपल का पेड़ शेषनाग आकृति में है.ऐसी मान्यता है कि शिवलिंग पर जल से अभिषेक करने से मनोकामना पूर्ण होती है.
Read More...