oak public school

Mahashivratri Kab Hai 2024: कब हैं 'महाशिवरात्रि' का महापर्व? क्या है इसके पीछे की कहानी, जानिए पौराणिक महत्व

महाशिव रात्रि

हिंदू धर्म में भगवान शिव की पूजा (Worship Lord Shiva) बेहद शुभ व फलदायी मानी गई है. देश व दुनिया भर में भोलेनाथ के बहुत ही प्राचीन और प्रसिद्ध मंदिर हैं. फाल्गुन की शुरुआत हो चुकी है महाशिवरात्रि (Mahashivratri) का पर्व नजदीक आ रहा है. यह पर्व फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को महापर्व के रूप में मनाया जाता है. इस साल महाशिवरात्रि का पर्व 8 मार्च को है. विधि-विधान से शिव जी का पूजन और व्रत करना फलदायी माना गया है.

Mahashivratri Kab Hai 2024: कब हैं 'महाशिवरात्रि' का महापर्व? क्या है इसके पीछे की कहानी, जानिए पौराणिक महत्व
महाशिवरात्रि 2024, image credit original source

महापर्व के रूप में मनाया जाता है महाशिवरात्रि पर्व

महाशिवरात्रि (Mahashivratri) को महापर्व कहा जाता है. हर साल फाल्गुन मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाया जाता है. देश भर में महाशिवरात्रि बड़े ही धूमधाम से मनाए जाने की परम्परा चली आ रही है. कांवड़ियों ने शिवालयों की ओर निकलना शुरू कर दिया है. चलिए आपको इस आर्टिकल के जरिए बताएंगे कि महाशिवरात्रि कब पड़ रही है, यह क्यों मनाई जाती है साथ ही शुभ मुहूर्त क्या है और इसके पीछे की पौराणिक कथा और महत्व क्या है.

mahashivratri_2024_worship_shiva_importance
महाशिवरात्रि, image credit original source

8 मार्च को मनाई जाएगी महाशिवरात्रि

हिंदू धर्म में व पौराणिक कथाओं और मान्यताओं के अनुसार महाशिवरात्रि का पर्व बेहद शुभ और महत्वपूर्ण माना गया है. शंकर भगवान की विधि-विधान से पूजा करने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है. महाशिवरात्रि को लेकर यह भी कहा जाता है कि इस दिन भोलेनाथ और माता पार्वती का विवाह हुआ था तभी से यह त्यौहार के रूप में देश और दुनिया भर में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है.

इसे शिव और शक्ति के मिलन का प्रतीक माना गया है. महाशिवरात्रि में हरहर महादेव के जयकारों से शिवालयों में भक्तों का हुजूम देर रात से ही उमड़ पड़ता है. महाशिवरात्रि में तिथि को लेकर काफी कंफ्यूजन बनी हुई है तो आपके इस कंफ्यूजन को दूर करने के लिए हम बता दे कि इस बार महाशिवरात्रि 8 मार्च को मनाई जाएगी. हालांकि इस बार 8 मार्च 2024 को रात 9:57 पर शुरू होगी जो अगले दिन 9 मार्च 2024 कुछ शाम 6:15 पर समाप्त होगी. शिवरात्रि पूजा रात में ही की जाती है.

सर्वार्थ सिद्धि योग महाशिवरात्रि पर

महाशिवरात्रि शुभ योग भी लेकर आ रहा है इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग समेत 4 शुभ एक साथ बना रहे हैं. इस दिन व्रत बेहद फलदाई माना जा रहा है. भगवान शिव की पूजा और आराधना और व्रत करने से आपके जीवन में आने वाले सभी संकट और समस्या दूर हो जाती हैं और मनवांछित फल भी प्राप्त होता है. आपको बता दे की शिवरात्रि वैसे तो हर महीने पड़ती है जिसे मानसिक शिवरात्रि कहा जाता है लेकिन फाल्गुन मास की ये शिवरात्रि जिसे महाशिवरात्रि कहा जाता है बेहद महत्वपूर्ण मानी गई है. शिवरात्रि के दिन भक्तों को भोलेनाथ का जलाभिषेक करना चाहिए और बेलपत्र, शक्कर, शहद, दूध, दही, धतूरा, गंगाजल अर्पित करना काफी शुभ माना जाता है.

Read More: Barsana Latth Maar Holi: बरसाना की लट्ठमार होली क्यों प्रसिद्ध है ! क्यों खेली जाती है लट्ठमार होली, जानिए इस परंपरा को

महाशिवरात्रि को लेकर पौराणिक महत्व

महाशिवरात्रि को लेकर कई कथाएं प्रचलित है जिसमें बताया जाता है कि भगवान शिव एक बार लिंग के रूप में अवतरित हुए थे और इसका पूजन स्वयं ब्रह्मा जी और विष्णु जी ने किया था, वही एक कथा यह भी सामने आती है कि इस दिन माता पार्वती और शंकर जी का विवाह हुआ था इसे भक्त शंकर-पार्वती के विवाह के रूप में भी मनाते हैं. जगह-जगह भव्य शोभा यात्राएं भी निकल जाती है. देखिए यह भी कथा सामने आती है कि भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए माता पार्वती ने घनघोर तपस्या की थी इसके बाद उन्हें भगवान शिव की प्राप्ति हुई.

Read More: Kanpur Vaishno Devi Mandir: जम्मू-कटरा की तर्ज पर इस शहर के वैष्णो देवी मंदिर में भी दर्शन के लिए लेना पड़ता है सकरी गुफा का सहारा

ऐसे करें पूजन

महाशिवरात्रि व्रत व पूजन बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. पूजन विधि के लिए आप सबसे पहले सुबह-सुबह उठकर गंगा स्नान करके मंदिर की साफ-सफाई करें इसके बाद शिवलिंग में चंदन का लेप लगाकर पंचामृत से शिवलिंग को स्नान कराएं. दीप और कपूर जलाएं. पूजा करते समय ॐ नमः शिवाय मंत्र का जप जरुर करें उसके बाद बेलपत्र और पुष्प अर्पित करें.

Read More: Jaya Ekadashi (2024) Kab Hai: कब है जया एकादशी ! शुभ मुहूर्त के साथ जानिए जया एकादशी की व्रत कथा का महत्व

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur News Today: फतेहपुर में करंट की चपेट में आने से दो मजदूरों की मौत, चार घायल, FCI गोदाम में पड़ रही थी स्लैब Fatehpur News Today: फतेहपुर में करंट की चपेट में आने से दो मजदूरों की मौत, चार घायल, FCI गोदाम में पड़ रही थी स्लैब
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में FCI गोदाम में स्लैब डालते समय मिक्सर मशीन में उतरी करंट से...
UP Board Result 2024 Intermediate Topper: यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में सीतापुर के शुभम वर्मा टॉपर ! फतेहपुर को मिला तीसरा स्थान
UP Board Result 2024 High School Topper: यूपी बोर्ड हाईस्कूल की परीक्षा में ये रहे टॉपर ! फतेहपुर में इन्होंने मारी बाजी
Fatehpur Local News: मौत बांट रहे हैं फतेहपुर के नर्सिंग होम ! धृतराष्ट्र बना स्वास्थ्य विभाग
Fatehpur UP News: फतेहपुर में पकड़ा गया अंतर्जनपदीय टप्पेबाज गैंग ! काली बुलेरो से ज्वैलरी शॉप को करते थे टार्गेट
Fatehpur News: जब निषादराज के लिए करुणा निधान बन उठ गए सहस्त्र हांथ ! विलख रहे पिता के नेत्र से निकल रही थी अविरल धारा
Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन

Follow Us