oak public school

सावन विशेष: क्या आप जानतें हैं सावन के शनिवार का महत्व सभी समस्याओं का होगा समाधान बस कर लें आज के दिन यह काम

सावन के महीने का महत्व तो आप जानतें ही होंगे, इस महीने के सोमवार भी बहुत महत्वपूर्ण होतें हैं लेकिन क्या आप यह जानतें हैं सावन के शनिवार का भी बड़ा महत्व है,पढ़ें ये रिपोर्ट. Sawan shanivar sampat shanivar

सावन विशेष: क्या आप जानतें हैं सावन के शनिवार का महत्व सभी समस्याओं का होगा समाधान बस कर लें आज के दिन यह काम
सावन में शनिदेव की पूजा

Sawan Special: सावन का महीना भगवान शंकर का महीना कहा जाता है।सावन के सोमवार का भी बड़ा महत्व है।पूरे सावन भर शिव मंदिरों में पूजा दर्शन के लिए भारी भीड़ उमड़ती है ख़ासकर सोमवार के दिन विशेष रूप से भगवान शंकर का दर्शन, पूजन औऱ उपासना श्रद्धालुओं द्वारा की जाती है। लेकिन ज्योतिष औऱ अध्यात्म के जानकार बताते हैं कि सोमवार के अलावा सावन के शनिवार का भी बहुत महत्व है।इस महीने शनि देव की पूजा औऱ उपासना करने से सभी तरह की समस्याओं से छुटकारा मिलता है।Sawan ke shanivar ka mahatv

कहते हैं कि सावन का महीना जल तत्व का महीना होता है और इसमें वायु तत्व की कमी हो जाती है।इस वजह से मन, पाचन तंत्र और स्नायु तंत्र की समस्याएं लगातार व्यक्ति को परेशान करती रहती हैं।वायु तत्व और उसके स्वामी शनि को मजबूत करके हम स्वास्थ्य और मन की समस्याओं से मुक्ति पा सकते हैं।

क्या करें औऱ कैसे करें..

सावन के हर शनिवार को उपासना करने से व्यक्ति को अपार धन और संपत्ति की प्राप्ति हो सकती है।इसी लिए सावन के हर शनिवार को संपत शनिवार भी कहते हैं।कहा जाता है कि अगर शनि के लिए केवल सावन में उपासना की जाए तो वर्ष भर शनि की उपासना की जरूरत नहीं पड़ती है।शनिवार को सायंकाल पीपल के वृक्ष के निकट जाएं वहां पर एक सरसों के तेल का बड़ा सा दीपक जलाएं,पहले शिव जी के मंत्रों का जाप करें,फिर शनिदेव के मंत्रों का जाप करें,इसके बाद किसी निर्धन व्यक्ति को भोजन कराएं या भोजन करने के लिए धन दें,शिव जी और शनिदेव से कृपा करने की प्रार्थना करें।

Read More: Sant Ravidas Jayanti: 'मन चंगा तो कठौती में गंगा', जानिए संत रविदास कौन थे ! क्यों मनाई जाती है रविदास जयंती?

इसके साथ ही शनिवार की शाम को नीम की लकड़ी पर काले तिल से "ॐ शं शनैश्चराय स्वाहा" मंत्र बोलते हुए 108 बार आहुति देकर हवन करें। हवन के बाद काली चीज़ों का दान करें।

Read More: Sakat Chauth Kab hai (2024): कब रखा जाएगा 'सकट चौथ' व्रत ! जानिए क्या है इस व्रत का पौराणिक महत्व

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Hanuman Jayanti 2024 Kab Hai: हनुमान जयंती कब हैं? इस बार बन रहा है अद्भुद संयोग, जानिए राम नवमी से क्या है संबंध Hanuman Jayanti 2024 Kab Hai: हनुमान जयंती कब हैं? इस बार बन रहा है अद्भुद संयोग, जानिए राम नवमी से क्या है संबंध
Hanuman Jayanti 2024 Kab Hai: हनुमान जी को भगवान शिव यानी रुद्र का 11वां अवतार कहा जाता है. साल 2024...
Political Kavita: आने वाले हैं शिकारी मेरे गांव में Lyrics In Hindi ! Aane Wale Hai Shikari Mere Ganv Me
Fatehpur News: मजदूर के घर जन्मी सफलता ! आंक्षा ने बदली पेशानी की रेखाएं
Fatehpur News Today: फतेहपुर में करंट की चपेट में आने से दो मजदूरों की मौत, चार घायल, FCI गोदाम में पड़ रही थी स्लैब
UP Board Result 2024 Intermediate Topper: यूपी बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा में सीतापुर के शुभम वर्मा टॉपर ! फतेहपुर को मिला तीसरा स्थान
UP Board Result 2024 High School Topper: यूपी बोर्ड हाईस्कूल की परीक्षा में ये रहे टॉपर ! फतेहपुर में इन्होंने मारी बाजी
Fatehpur Local News: मौत बांट रहे हैं फतेहपुर के नर्सिंग होम ! धृतराष्ट्र बना स्वास्थ्य विभाग

Follow Us