oak public school

Akbarpur Loksabha Devendra Singh Bhole: बीजेपी ने अनुभव को दी प्राथमिकता ! जानिए कौन हैं देवेंद्र सिंह भोले, जिन्हें अकबरपुर लोकसभा से तीसरी दफा बनाया गया प्रत्याशी

Kanpur Dehat News

बीजेपी (Bjp) ने लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है. अकबपरपुर लोकसभा (Akbarpur Loksabha) से कयास लगाए जा रहे थे कि अबकी दफा नया चेहरा सामने आएगा. कई दावेदारों का नाम चल रहा था. ऐसी सभी अटकलों पर विराम लग गया. वो कहते है न अनुभव और तज़ुर्र्बा बहुत काम आता है जिसे यहां प्राथमिकता दी गयी. आख़िरकार देवेंद्र सिंह भोले (Devendra Singh Bhole) पर तीसरी दफा पार्टी ने भरोसा जताकर एकबार फिर टिकट दिया है.

Akbarpur Loksabha Devendra Singh Bhole: बीजेपी ने अनुभव को दी प्राथमिकता ! जानिए कौन हैं देवेंद्र सिंह भोले, जिन्हें अकबरपुर लोकसभा से तीसरी दफा बनाया गया प्रत्याशी
देवेंद्र सिंह भोले, प्रत्याशी अकबरपुर लोकसभा, image credit original source

तीसरी दफा देवेंद्र सिंह भोले को टिकट

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव को देखते हुए उत्तर प्रदेश की 51 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है. अकबरपुर लोकसभा से कयास लगाए जा रहे थे कि इस बार पार्टी किसी नए चेहरे पर विचार कर सकती है. लेकिन पार्टी ने फिर से एक बार तजुर्बा और अनुभव को प्राथमिकता दी और तीसरी दफ़ा देवेंद्र सिंह भोले को फिर से टिकट देकर सभी अटकलों पर विराम लगा दिया. पार्टी की नजर में देवेंद्र सिंह भोले काफी पुराना और क्षेत्र का प्रसिद्ध चेहरा है और क्षेत्र में उनकी सक्रियता व लोकप्रियता काफी है. इन सभी बातों को समझते हुए उनपर पार्टी ने तीसरी दफा भरोसा जताया है.

akbarpur_loksabha_candidate_devendra_bhole
एलान के बाद आनंदेश्वर मन्दिर में दर्शन करते देवेंद्र भोले, image credit original source

कौन हैं देवेंद्र सिंह भोले?

अकबरपुर लोकसभा से दो बार से बीजेपी सांसद देवेंद्र भोले और अब तीसरी दफा उन्हें इसी लोकसभा के लिए टिकट दिया गया है. भोले का जन्म वर्ष 1954 में मधवापुर गांव इटावा जिले में हुआ था. वर्तमान में यह गांव औरैया जिले में आता है. 1988-1992 तक झींझक में भोले ब्लॉक प्रमुख रहे. फिर बीजेपी से डेरापुर विधानसभा क्षेत्र से 1991 में चुनाव लड़े थे और जीते. 1996 में वे विधानसभा पहुंचे जहां वे स्वास्थ्य राज्य मंत्री बने. अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र काफी बड़ा है. आपको बताते चले इस सीट पर कई दावेदार अपनी दावेदारी ठोंक रहे थे.

दो बार से इसी संसदीय सीट से हैं सांसद

सूत्रों की माने तो युवा चेहरा अभिजीत सिंह सांगा का नाम तेजी से उठ रहा था, लेकिन देवेंद्र सिंह भोले सब पर भारी पड़ते हुए नजर आए. आखिरकार एक बार फिर से लोकसभा का टिकट पाने में भोले सफल हुए. भोले यहां से 2014 और 2019 लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं. आरएसएस से शुरुआत से भोले का जुड़ाव रहा है. खास तौर पर वह यह भी बताया जा रहा है कि सीएम योगी आदित्यनाथ के काफी करीबी माने जाते हैं. 

देवेंद्र सिंह भोले लगातार लोकसभा टिकट को लेकर मंच पर कई दफा आश्वस्त भी दिखाई दिये. उन्होंने कई बार कहा पार्टी मुझे टिकट मेरे काम को देखकर देगी और टिकट का ऐलान होने के बाद वे खुश हैं. एलान होते ही भोले आनंदेश्वर और पनकी मन्दिर मत्था टेकने पहुंच गए. जहाँ प्रभू के दर्शन कर आशीर्वाद लिया.

Read More: Samajwadi Party Candidate List 2024: सपा ने लोकसभा चुनाव के लिए जारी की पहली लिस्ट ! अन्नू टंडन उन्नाव से प्रत्यासी

राजनीतिक सफर है ऐसा

बात की जाए देवेंद्र सिंह भोले की तो उनका राजनीतिक सफर कुछ इस तरह का है. वे किसान के घर से भी आते हैं. 1991 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा पहली बार भाजपा की टिकट पर देवेंद्र सिंह भोले ने जीत दर्ज की थी. इसके बाद वह 1996 में विधानसभा पहुंचे जहां वह स्वास्थ्य राज्य मंत्री भी रहे. वर्ष 2014 मोदी लहर में उन्हें फिर से टिकट मिला और उन्हें यह टिकट अकबरपुर लोकसभा से दिया गया. यहां पर उन्होंने बसपा प्रत्याशी अनिल शुक्ला वारसी को हराकर जीत दर्ज की थी.

Read More: Kanpur Congress Posters News: कानपुर में राहुल गांधी की न्याय यात्रा के दौरान चर्चा में आये पोस्टर्स ! पोस्टर में राहुल गांधी को भगवान श्री कृष्ण और अजय राय बने अर्जुन

फिर पार्टी ने 2019 में इन पर भरोसा जताया यहां पर भी देवेंद्र सिंह भोले ने बसपा की निशा सचान को बंपर वोटो से हराकर जीत दर्ज की और एक बार फिर से पार्टी ने तीसरी दफा इन पर भरोसा जताया है. दरअसल क्षत्रिय कार्ड को देखते हुए बीजेपी ने कहीं न कहीं फिर इन पर भरोसा जताया है. क्षेत्र में सक्रियता और लोकप्रियता के चलते ही इन्हें टिकट दिया गया. यदि इनकी जगह किसी और चेहरे को टिकट मिलता तो कहीं न कहीं आपसी मनमुटाव की संभावना थी जो बीजेपी नहीं चाहती इसलिए पुराने और अनुभवी चेहरे को ही प्रत्याशी बनाया है.

Read More: Govinda Joins Shiv Sena: फ़िल्म स्टार गोविंदा एकनाथ शिंदे शिवसेना पार्टी में हुए शामिल ! क्या लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur IAS Success Story: फतेहपुर के दो होनहारों ने बढ़ाया जिले का मान ! क्रैक की यूपीएससी परीक्षा Fatehpur IAS Success Story: फतेहपुर के दो होनहारों ने बढ़ाया जिले का मान ! क्रैक की यूपीएससी परीक्षा
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) के रहने वाले दो होनहारों ने यूपीएससी (UPSC Results 2023) परीक्षा पास करते...
Prayagraj Crime In Hindi: प्रयागराज के बंद कमरे में महिला पुरूष कांस्टेबल के शव ! पुलिस महकमे में हड़कंप, आखिर क्या हुआ
Upsc Topper Donuru Ananya Reddy Success story: यूपीएससी में ऑल इंडिया रैंक 3 हासिल करने वाली डोनुरू अनन्या रेड्डी की सफलता की कहानी ! क्रिकेटर विराट कोहली से है प्रभावित
Upsc Pawan Kumar Success Story: आर्थिक स्थिति से लड़ते हुए छप्पर में रहने वाले किसान के बेटे पवन कुमार ने UPSC में मारी बाजी ! परिवार में छाई खुशी
Bhaye Pragat Kripala Din Dayala Likhit Me: रामनवमी में पढ़ें श्री राम जन्म की स्तुति 'भए प्रगट कृपाला दीनदयाला' लिखित में
Fatehpur Local News: फतेहपुर में खंडित की गईं मंदिर की प्रतिमाएं ! तनाव बढ़ता देख पहुंची पुलिस
UPSC Topper Animesh Pradhan Success Story: यूपीएससी में द्वितीय स्थान पाने वाले अनिमेष प्रधान का संघर्षों से भरा रहा है जीवन ! माता-पिता की मौत के बाद भी नहीं टूटने दी हिम्मत

Follow Us