×
विज्ञापन

UP:सस्पेंड हो चुके वसूलीबाज एसपी के विरुद्ध अब दर्ज हुई एफआईआर..!

विज्ञापन

हाल ही में सस्पेंड किए गए महोबा के तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार पर भ्रष्टाचार के मामले में महोबा में ही एफआईआर दर्ज हुई है..पढ़ें पूरी ख़बर युगान्तर प्रवाह पर..

लखनऊ:महोबा के एसपी रहे आईपीएस अधिकारी मणिलाल पाटीदार भ्रष्टाचार के मामले में बुरी तरह घिर गए हैं।बीते दिन निलंबित किए जाने के बाद अब महोबा में ही उनके विरुद्ध लखनऊ की एक कंपनी ने भ्रष्टाचार के ही मामले में एफआईआर दर्ज कराई है।दूसरी ओर अपनी कार में घायल अवस्था में मिले क्रेशर संचालक इन्द्रकांत त्रिपाठी की हालत गंभीर है उनका इलाज़ कानपुर के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। ips manilal patidar

ये भी पढ़ें-UP:धड़ाधड़ गिर रहे कप्तानों के विकेट.प्रयागराज के बाद इस ज़िले के एसपी हुए सस्पेंड.!

लखनऊ की पीपी पांडेय इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी के निदेश नितीश कुमार पांडेय ने तहरीर देकर निलंबित पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार, तत्कालीन निरीक्षक चरखारी राकेश कुमार सरोज व तत्कालीन एसओ खरेला उपनिरीक्षक राजू सिंह पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। एसपी के निर्देश पर निलंबित एसपी मणिलाल पाटीदार, इंस्पेक्टर व दारोगा के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।आरोप है कि कंपनी की गाड़ियों को पकड़कर जबरन चालन किया गया और प्रोग्राम मैनेजर पर तत्कालीन एसपी को पैसा देने का दबाव बनाया गया था।

क्या है पूरा मामला..

महोबा के निलंबित एसपी मणिलाल पाटीदार उस वक्त चर्चा में आए जब महोबा के एक क्रेशर कारोबारी इन्द्रकांत त्रिपाठी ने अपना एक वीडियो जारी किया जिसमें उन्होंने बताया कि एसपी मणिलाल पाटीदार प्रति माह 6 लाख रुपए की मांग कर रहे हैं और न देने पर फ़र्जी मुकदमों में फँसाने की धमकी दे रहें है।कारोबारी ने एसपी से अपनी जान का खतरा बताते हुए कहा कि मेरी हत्या हो सकती है और मेरी हत्या के जिम्मेदार एसपी मणिलाल पाटीदार ही होंगे। ips manilal patidar fir 

ये भी पढ़ें-UP:देर रात आईपीएस अफ़सरों के तबादले..हमीरपुर, उन्नाव समेत आठ जिलों के कप्तान बदले..!

इन्द्रकांत ने इस बाबत डीजीपी कार्यालय और सीएम कार्यालय में पत्र भी भेजा।पूरे मामले का शासन ने संज्ञान लिया इस बीच इन्द्रकांत त्रिपाठी पर हमला हो गया उनको गोली मारी गई और वह गम्भीर हालत में अपनी गाड़ी में मिले।सीएम योगी ने इस घटना के बाद भ्रष्टाचार के मामले में संलिप्तता जाने पर एसपी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था। mahoba sp manilal patidar fir


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।