×
विज्ञापन

हाथरस कांड:चौतरफ़ा घिरी योगी सरकार..अब बीजेपी की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने भी खड़े किए सवाल..जानें उन्होंने क्या कुछ कहा है.!

विज्ञापन

हाथरस कांड पर योगी सरकार चौतरफ़ा घिर गई है..अब वरिष्ठ नेता उमा भारती ने भी योगी सरकार पर गम्भीर सवाल खड़े किए हैं..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

डेस्क:योगी सरकार हाथरस कांड पर बुरी तरह घिर गई है।पूरे देश में हाथरस की गुड़िया के लिए न्याय की मांग की जा रही है।दिल्ली के जंतर मंतर सहित देश के कई शहरों में जबरदस्त प्रदर्शन हो रहें हैं।हाथरस में पीड़िता के गाँव को पूरी तरह से पुलिस छावनी में बदल दिया गया है।मीडिया पर पाबंदी लगा दी गई है।पीड़ित परिवार से मिलने नहीं दिया जा रहा है उससे सरकार की और भी ज़्यादा छीछालेदर हो गई है। hathras case uma bharti statement

ये भी पढ़ें-यूपी की ब्यूरोक्रेसी से जुड़ी बहुत बड़ी ख़बर..अवनीश अवस्थी हटाए गए.!

इस बीच भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने भी एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए अपनी ही पार्टी की सरकार पर हाथरस मामले में सवालिया निशान लगाएं हैं।

क्या लिखा है उमा भारती ने..

उमा भारती ने लिखा है कि-"आदरणीय योगी आदित्यनाथ जी आपको जानकारी होगी ही की मै कोरोना पॉज़िटिव पाने से AIIMS ऋषिकेश में कोरोना वार्ड में भरती हूँ,

आज मेरा 7 वा दिन है और इसलिये मै अयोध्या मामले पर विशेष सीबीआइ कोर्ट में पेश भी नही हो पायी । यद्यपि मै किसी से मिल नही सकती , फ़ोन नही कर सकती लेकिन टीवी है जिससे की समाचार मिलते है।

मैंने हाथरस की घटना के बारे में देखा । पहले तो मुझे लगा की मै ना बोलूँ क्यूँकि आप इस सम्बंध में ठीक ही कार्यवाही कर रहे होंगे । किन्तु जिस प्रकार से पुलिस ने गाव की एवं पीड़ित परिवार की घेराबंदी की है उसके कितने भी तर्क हो लेकिन इससे विभिन्न आशंकाये जन्मती है।

वह एक दलित परिवार की बिटिया थी । बड़ी जल्दबाज़ी में पुलिस ने उसकी अंत्येष्टि की और अब परिवार एवं गाव की पुलिस के द्वारा घेराबंदी कर दी गयी है ।

मेरी जानकारी में ऐसा कोई नियम नही है की एसआइटी जाँच में परिवार किसीसे मिल भी ना पाये । इससे तो एसाईटी की जाँच ही संदेह के दायरे में आ जायेगी ।

५)हमने अभी राम मंदिर का शिलान्यास किया है तथा आगे देश में रामराज्य लाने क़ा दावा किया है किन्तु इस घटना पर पुलिस की कार्यवाही से आपकी, यूपी सरकार की , तथा भाजपा की छवि पे आँच आयी है ।

आप एक बहुत ही साफ़ सुधरी छवि के शासक है । मेरा आपसे अनुरोध है कि आप मीडियाकर्मियों को एवं अन्य राजनीतिक दलो के लोगों को पीड़ित परिवार से मिलने दीजिये।

मै कोरोना वार्ड में बहुत बैचेन हू । अगर मैं कोरोना पॉज़िटिव ना होती तो मैं भी उस गाव मै उस परिवार के साथ बैठी होती । AIIMS ऋषिकेश से छुट्टी होने पर मै हाथरस में उस पीड़ित परिवार से ज़रूर मिलूँगी।

मै भाजपा में आपसे वरिष्ठ एवं आपकी बड़ी बहन हू । मेरा आग्रह है की आप मेरे सुझाव को अमान्य मत करियेगा।"


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।