×
विज्ञापन

Fatehpur UP News: गंगा स्न्नान करने गए मामा भांजे डूबे 18 घण्टे से तलाश जारी

विज्ञापन

यूपी के फतेहपुर ज़िले में शुक्रवार देर शाम दो लोग भिटौरा पक्के घाट पर स्न्नान करने के दौरान डूब गए. खबर लिखे जाने तक क़रीब 18 घण्टे का समय बीत चुका है लेकिन दोनों की बॉडी अब तक नहीं मिल सकी है. Fatehpur Up News Ganga River drowned two people nag panchami day

Fatehpur UP News: उफ़नाती गंगा औऱ यमुना नदियों में स्न्नान करने वालों की जरा सी असावधानी जान पर बन जाती है।फतेहपुर में ही हर साल बड़ी संख्या में लोग इन नदियों में डूबकर अपनी जान गंवातें हैं।ताज़ा मामला भृगुधाम भिटौरा गंगा घाट का है। Fatehpur Bhitaura Ganga Ghat Latest News

विज्ञापन
विज्ञापन

हुसैनगंज थाना (Husainganj Thana News ) अंर्तगत आने वाले इस घाट पर बड़ी संख्या में लोग स्न्नान करने करने के लिए पहुँचतें हैं ख़ासकर पर्वों पर यहाँ अधिक भीड़ जुटती है।शुक्रवार को नाग पंचमी का पर्व था।स्न्नान करने के लिए भिटौरा निवासी राधा देवी पत्नी गंगा प्रसाद पांडेय अपने बेटे शिवम (15) औऱ मौसेरे भाई शिवशंकर द्विवेदी निवासी गलेहरा थाना धाता के साथ गई हुई थीं।Fatehpur Latest News

शिवम औऱ शिवशंकर दोनों गंगा में एक साथ स्न्नान कर रहे थे। उसी दौरान शिवम गहरे पानी में डूबने लगा उसको बचाने के लिए शिवशंकर भी आगे चले गए।लेकिन दोनों उफ़नाती गंगा में डूब गए घाट किनारे बैठी राधा देवी दोनों को डूबता देख शोर मचाने लगी आस पास के लोग मौक़े पर इकठ्ठा हुए।सूचना पर भिटौरा पुलिस चौकी औऱ हुसैनगंज थाना पुलिस मौक़े पर पहुँची।गोताखोरों की मदद से दोनों को ढूढ़ने का प्रयास किया गया। लेकिन शुक्रवार को रात तक चली खोजबीन के बाद भी कुछ पता नहीं चल सका। उफ़ानाती गंगा में देर रात हवा तेज चलने के चलते खोज बन्द हो गई थी। सुबह से फ़िर तलाश जारी है।Fatehpur Today News

हुसैनगंज थाना अध्यक्ष रणजीत बहादुर सिंह ने बताया कि जाल डलवाया गया है।गोताखारों की मदद से तलाश जारी है।लेकिन अब तक पता नहीं चल पाया है।

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: ग्राम प्रधान पति समेत तीन पर दर्ज हुआ अपरहण औऱ हत्या का मुकदमा

ये भी पढ़ें- Fatehpur UP News: सावन के पहले सोमवार के दिन दो परिवारों में मातम गंगा में डूबे दोस्त


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।