×
विज्ञापन

CM Yogi News: जेल में बंद मुख्तार अंसारी के खिलाफ़ जारी है योगी की कार्यवाही अब 24 करोड़ की सम्पत्ति हुई कुर्क

विज्ञापन

यूपी की बाँदा जेल में बंद बाहुबली नेता मुख़्तार अंसारी के खिलाफ योगी सरकार की ताबड़तोड़ कार्यवाही जारी है।अब उसकी मऊ ज़िले में स्थिति क़रीब 24 करोड़ की सम्पत्ति को सरकार ने कुर्क कर दिया है. cm yogi news mukhtar ansari in banda jail

CM Yogi News: यूपी में गुंडे मवालियों औऱ अपराधियों के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अभियान लगातार जारी है।बाँदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी के खिलाफ़ योगी सरकार की कार्यवाही लगातार जारी है।अपराध द्वारा अर्जित की गई उसकी सम्पत्ति को लगातार नष्ट करने औऱ कुर्क करने की कार्यवाही सरकार द्वारा की जा रही है।ताज़ा मामला मऊ जनपद का है।जहाँ प्रशासन ने उसकी कई एकड़ भूमि को ज़ब्त कर लिया है।uttar pradesh cm yogi news mukhtar ansari s property worth 24 crores seized

विज्ञापन
विज्ञापन

जानकारी के अनुसार सदर कोतवाल डीके श्रीवास्तव ने सीज की जाने वाली प्रॉपर्टी को लेकर बताया कि अंसारी पर गैंगस्टर एक्ट 14(1) के तहत एफआईआर दर्ज है। इस केस की विवेचना के दौरान यह जानकारी हासिल हुई कि अंसारी ने जुर्म की दुनिया से अर्जित किए गए धन के दम पर अपनी मां के नाम से करोड़ों की प्रॉपर्टी खरीदी है।

जानकारी यह भी मिली कि उसने कुल 24 करोड़ की प्रॉपर्टी अपनी मां के नाम पर खरीदी थी। इस संपत्ति को वसीयत के जरिए मुख्तार के बेटों अब्बास और उमर के नाम पर कर दिया गया था। इस संपत्ति के स्रोत की जांच में यह बात सामने आई कि यह सब प्रॉपर्टी मुख्तार ने अवैध तरीकों से अर्जित की गई थी।

उल्लेखनीय है कि मुख्तार अंसारी योगी सरकार से डरकर पंजाब जेल में बंद हो गया था।लेकिन यूपी सरकार से यूपी लाने के लिए लगातार प्रयासरत थी।और कुछ महीनों पहले यूपी सरकार मुख्तार अंसारी को यूपी लाने में सफल हो गई।इस समय मुख्तार बाँदा जेल में बन्द है। cm yogi news

ये भी पढ़ें- CM Yogi News: दिल्ली में योगी औऱ शाह की मुलाक़ात दिया 'समाधान'

ये भी पढ़ें- UP News: योगी सरकार में हावी ठाकुरवाद बाँदा कृषि विवि में नियुक्त हुए 15 प्रोफेसरों में से 11 ठाकुर

ये भी पढ़ें- UP News: योगी सरकार में हावी ठाकुरवाद बाँदा कृषि विवि में नियुक्त हुए 15 प्रोफेसरों में से 11 ठाकुर


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।