×
विज्ञापन

विकास दुबे कांड:ख़ुशी दुबे को जेल में रखना पुलिस को पड़ेगा भारी..यह है वजह.!

विज्ञापन

एनकाउंटर के मारे गए विकास दुबे के साथी अमर दुबे की पत्नी खुशी दुबे इस वक्त जेल में है..लेकिन खुशी की गिरफ्तारी पुलिस के लिए मुश्किलें पैदा कर सकती है..पढ़ें पूरी खबर युगान्तर प्रवाह पर..

कानपुर:विकास दुबे मामले में हर रोज नए नए खुलासे हो रहें हैं।बिकरु गाँव में घटी रूह कंपा देने वाली घटना के बाद विकास दुबे के ख़ास गुर्गे अमर दुबे को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था।उसकी पत्नी ख़ुशी दुबे को भी घटना के बाद गिरफ्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया था।ख़ुशी और अमर की शादी बिकरु कांड के दो रोज पहले ही हुई थी।ख़ुशी के गिरफ्तारी को लेकर पुलिस पर लगातार गम्भीर आरोप लग रहें हैं।ख़ुशी की उम्र को लेकर भी सवाल उठे थे।

ये भी पढ़ें-फतेहपुर:जोरदार बारिश में ढ़हा मकान..माँ बेटी की मौत..दो बच्चे घायल..!

अब इस मामले में जो खुलासा हुआ है वह पुलिस की मुसीबतें बढ़ा सकता है।कानपुर देहात के किशोर न्याय बोर्ड ने ख़ुशी दुबे को नाबालिग माना है।घटना के वक़्त ख़ुशी की उम्र 16 साल 10 महीने और 12 दिन थी।ऐसे में खुशी को गिरफ़्तार कर सीधे जेल में रखना कानूनी रूप से ग़लत है।

ये भी पढ़ें-कोरोना:फतेहपुर में दो दर्जन नए पाज़िटिव..एक्टिव केसों की संख्या तीन सौ के क़रीब.!

खुशी दुबे के वकील का कहना है कि पुलिस ने तथ्यों को छिपाकर ग़लत तरीक़े से गिरफ्तारी की है।हमने कोर्ट में ख़ुशी के नाबालिग होने के सबूत कोर्ट में पेश किए थे जिसकी जाँच कोर्ट ने किशोर न्याय बोर्ड को सौंपी थी।वक़ील ने कहा कि अब हम कोर्ट में ख़ुशी की जमानत के लिए अप्लाई करेंगे। amar dubey khushi dube news

उल्लेखनीय है कि खुशी और अमर की शादी बिकरु कांड से दो दिन पहले ही हुई थी।घटना के तुरंत बाद पुलिस ने ख़ुशी को गिरफ्तार कर लिया था।फ़िलहाल ख़ुशी जेल में ही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।