×
विज्ञापन

lockdown:फिल्मों का विलेन,प्रवासी मजदूरों का बना हीरो..क्यों हो रही है इतनी तारीफ़..!

विज्ञापन

एक्टर सोनू सूद ट्वीटर पर लगातार टॉप ट्रेंड कर रहे हैं कोई उन्हें मजदूरों का मसीहा कह रहा है तो कोई भगवान और देवता..आख़िर मजदूरों के देवता बनने की कहानी है क्या..जानते हैं युगान्तर प्रवाह की इस रिपोर्ट में..

डेस्क:फिल्मों में अक्सर विलेन का किरदार निभाने वाले अभिनेता सोनू सूद कोरोना काल के इस लॉकडाउन में गरीबों के हीरो बनकर उभरे हैं।सोशल मीडिया में उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की जमकर सराहना हो रही है।ट्वीटर पर #SonuSood लगातार ट्रेंड कर रहा है।

ये भी पढ़े-UP:अपनी माँ संग सड़क पर प्रवासियों की मदद करने पहुँची अखिलेश यादव की बेटी..!

दरअसल बीते कुछ दिनों से सोनू मुम्बई में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर वापस भेजने काफ़ी मदद कर रहे हैं।उनके खाने पीने से लेकर उनके लिए बसों का भी इंतजाम कर रहे हैं।

यूपी सरकार से अनुमति लेकर सोनू बड़ी संख्या में मजदूरों को बसों से उनके ग्रह जिलों में पहुँचा रहे हैं।इसके पहले उन्होंने कर्नाटक के मजदूरों को को भी भेजने के लिए कई बसों का इंतजाम कराया था।

ये भी पढ़े-फतेहपुर:ढ़ाई महीने बाद नसीब हुआ एक पिता को बेटे का शव..गाँव में होगा अंतिम संस्कार..!

ट्वीटर पर भी लगातार प्रवासी टैग करते हुए सोनू से मदद की गुहार लगा रहे हैं जिसके बाद सोनू उनको भी मदद का भरोसा देकर घर पहचाने का काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, "ये मेरे लिए एक बेहद भावुक सफ़र रहा है।सड़कों पर पैदल चलकर अपने घर जाते मज़दूरों को देखकर मुझे बहुत कष्ट होता है।मैं तब तक उन्हें घर पहुंचाने में मदद करता रहूंगा जब तक आख़िरी मज़दूर अपने परिवार से न मिल जाए।"

ये भी पढ़े-कोरोना:अमेरिका और इटली के बाद इस देश पर हुआ है कोरोना का तगड़ा हमला..पहुँचा नम्बर दो पर..सड़कों पर पड़ी हैं लाशें..!

इससे पहले उन्होंने पंजाब के डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 1,500 पीपीई किट भी दान किया था।इतना ही नहीं उन्होंने मुंबई का अपना होटल स्वास्थ्यकर्मियों को रहने के लिए भी दिया है।सोनू सूद रमज़ान के महीने में भिवंडी इलाके में हज़ारों ग़रीबों और प्रवासी मज़दूरों को खाना भी खिला रहे हैं।

ये भी पढ़े-यूपी में लागू हुआ एस्मा क़ानून आख़िर है क्या..!

सोनू सूद की इस दरियादिली के चलते वह सोशल मीडिया में छाए हुए हैं।लगातार लोग उनकी तारीफ़ कर रहे हैं।
इतना ही नहीं, लोग उन्हें 'भगवान' तक बता रहे हैं और महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री बनाने की मांग भी कर रहे हैं।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।