Makar Sankranti Ganga Snan: सर्दी पर भारी आस्था ! मकर संक्रांति को लेकर घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

मकर संक्रांति में आस्था की डुबकी

देशभर में मकर संक्रांति (Makar Sankranti) का पर्व बड़े ही उत्साह से मनाया जा रहा है. हिंदू धर्म में सूर्य भगवान जब मकर राशि में प्रवेश करते हैं. तब यह त्योहार मनाया जाता हैं. उन्हीं में से एक मकर संक्रांति का पर्व भी है. मकर संक्रांति के दिन गंगा और पवित्र नदियों में स्नान करने से सारे पाप धुल जाते हैं. देश भर के तमाम प्रसिद्ध गंगा घाटों पर सुबह ब्रह्ममुहूर्त से ही श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा रहे हैं.

Makar Sankranti Ganga Snan: सर्दी पर भारी आस्था ! मकर संक्रांति को लेकर घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़
आस्था की डुबकी, फोटो साभार सोशल मीडिया

मकर संक्रांति पर आस्था की डुबकी लगाते श्रद्धालु

मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के पावन पर्व को लेकर श्रद्धालुओं (Devotees) में काफी उत्साह भी देखा जा रहा है. भीषण ठंड (Severe Cold) और कोहरे के बीच सुबह 4 बजे से ही घाटों पर श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा रहे है. सुरक्षा के लिहाज से घाटों पर पुलिस का कड़ा पहरा है तो वहीं श्रद्धालुओं के साथ किसी भी अनहोनी को रोकने के लिए गोताखोरों की टीम भी मुस्तैद की गई है. प्रयागराज के संगम व वाराणसी के घाटों पर श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है.

मकर संक्रांति पर क्यों किया जाता है गंगा स्नान

मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के अवसर पर ब्रह्म मुहूर्त (Brahma Muhurt) से ही पवित्र नदियों में स्नान शुरू हो जाता है. इस दिन गंगा स्नान का बहुत बड़ा महत्व है. मकर संक्रांति के दिन स्नान करने से सभी पाप मिट जाते हैं और पुण्य की प्राप्ति भी होती है. शास्त्रों में ऐसा कहा गया है की गंगा स्नान करने से मोक्ष मिलता है. विष्णु पुराण में भी बताया गया है कि राजा भागीरथ अपने पूर्वजों के उद्धार के लिए मां गंगा को अपने कठोर तप से पृथ्वी पर बुलाया था तब मां गंगा ब्रह्मा जी के कमंडल से निकलकर भगवान शिव की जटाओं में होती हुई हिमालय से पृथ्वी पर आई थी सूर्योदय से पहले स्नान करने से दस हजार गौ दान का फल भी मिलता है.

दान का महत्व

मकर संक्रांति पर स्नान करने के बाद पितरों का तर्पण और दान (Donate) करना चाहिए. इससे आपको अपने पितरों का आशीर्वाद भी मिलेगा जिससे आपका जीवन और भी ज्यादा सुखमय हो जाएगा मकर संक्रांति के स्नान के बाद गेहूं, गुण तिल, गर्म कपड़े, अनाज आदि का दान करना चाहिए. कहते हैं कि आज के दिन किए गए दान का 100 गुना वापस पुण्य मिलता है.

घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

गंगा स्नान (Ganga Snan) के लिए सुबह से ही वाराणसी (Varansi), प्रयागराज (Prayagraj) और हरिद्वार (Haridwar) के घाटों पर श्रद्धालुओं (Devotees)का जन सैलाब उमड़ पड़ा. सुबह से लेकर अभी तक इन घाटों पर भारी संख्या में श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा चुके हैं. इस दौरान चारों तरफ घाटों पर केवल जय गंगा मैया उद्घोष के जयकारे लग रहे हैं.

Read More: Akshay Tritiya 2024: आज है अक्षय तृतीया का पावन पर्व ! दान-पुण्य और सोना खरीदने का है बड़ा महत्व

सुरक्षा की दृष्टि से भी घाट के चारों तरफ पुलिस का कड़ा पहरा है प्रशासन की ओर से जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं. जिससे अराजक तत्वों पर नजर रखी जा सके. साथ ही श्रद्धालुओं के साथ किसी तरह की कोई अनहोनी ना हो इसके लिए गोताखोरों की टीम भी चप्पे चप्पे पर तैनात की गई है.

Read More: Narsimha Jayanti 2024: कब है नरसिंह जयंती ! भक्त प्रह्लाद की रक्षा और राक्षस हिरण्यकश्यप के अत्याचारों का अंत करने के लिए भगवान ने धारण किया नरसिंह अवतार

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व Somnath Jyotirlinga Story: सावन स्पेशल-करिए प्रथम ज्योतिर्लिंग के दर्शन, चंद्रदेव से जुड़ा है सोमनाथ ज्योतिर्लिंग का पौराणिक महत्व
Somnath jyotirlinga Story: ज्योर्लिगप्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों में से गुजरात के सोमनाथ मंदिर की अद्भुत महिमा है. कई बार आक्रमण करके...
Fatehpur News: फतेहपुर में क्यों हो रही है हिंदू महापंचायत ! हजारों की संख्या में पहुंचने का अनुमान
Bindki Accident News: फतेहपुर के बिंदकी में दर्दनाक हादसा ! बाइक सवार दो लोगों की मौत
Fatehpur Brajesh Pathak: फतेहपुर पहुंचे डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक क्यों भड़क उठे ! एक दिन का काटा वेतन
फतेहपुर थाना न्यूज़: मां-बेटे ने मिलकर पिता को लगाया 50 लाख का चूना ! तिकड़म जान कर रह जाएंगे भौचक्के
Fatehpur News: फतेहपुर में ससुराल गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौ'त ! परिजनों ने लगाया ह'त्या का आरोप
UPSC EPFO APFC Result 2024: फतेहपुर की विप्लवी बनी असिस्टेंट कमिश्नर ! गांव में ख़ुशी की लहर, जानिए लोगों ने क्या कहा

Follow Us