oak public school

Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat:बसंत पंचमी कब है.विद्या की देवी सरस्वती पूजा के लिए क्या है शुभ मुहूर्त

बसंत पंचमी का त्योहार इस साल किस तारीख़ को मनाया जाएगा.साथ ही विद्या की देवी माँ सरस्वती की पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है.आइए जानते हैं. Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat And Date

Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat:बसंत पंचमी कब है.विद्या की देवी सरस्वती पूजा के लिए क्या है शुभ मुहूर्त
Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat

Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat:सनातन हिन्दू धर्म में बसंत पंचमी का त्योहार भी बहुत महत्वपूर्ण स्थान रखता है. इस दिन ज्ञान औऱ विद्या की देवी माँ सरस्वती की विशेष पूजा का बड़ा महत्व है. स्कूल कॉलेजों में इस दिन सरस्वती पूजा हवन आदि के कार्यक्रम होते हैं. घरों में भी इस अवसर पर पूजा पाठ किया जाता है. इस साल बसंत पंचमी (Basant Panchami 2022 Date ) का पर्व 5 फ़रवरी को मनाया जाएगा.

बसंत पंचमी पर शुभ मुहूर्त.. (Basant Panchami 2022 Shubh Muhurat)

बसंत पंचमी का पर्व माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाया जाता है. इस साल यह पर्व 5 फ़रवरी को मनाया जाएगा. वैसे तो पूरे दिन ही सरस्वती पूजा की जा सकती है.लेकिन किसी भी पूजा का एक शुभ मुहूर्त होता है.वैसे पंचमी तिथि 05 फरवरी को सुबह 03 बजकर 48 मिनट पर शुरू हो जाएगी और समापन 06 फरवरी की सुबह 03 बजकर 46 मिनट पर होगा.लेकिन देवी सरस्वती की पूज के लिए सुबह 7 बजकर 07 मिनट से लेकर दोपहर 12 बजकर 35 मिनट के बीच का समय सबसे शुभ रहेगा.बसंत पचंमी की पूजा का शुभ मुहूर्त 05 फरवरी की दोपहर 12 बजकर 13 मिनट से लेकर 12 बजकर 57 मिनट तक है.

बसंत पंचमी का महत्व.. (Basant Panchami Ka Mahtav)

Read More:  Magh Gupt Navratri 2024: जानिए कब से शुरू हो रही माघ 'गुप्त नवरात्रि'? कौन सी दस महाविद्याओं की उपासना का है महत्व, किस तरह से की जाती है मां की उपासना

बसंत पंचमी को श्रीपंचमी भी कहा जाता है.यह मां सरस्वती की पूजा का दिन है. शिक्षा प्रारंभ करने या किसी नई कला की शुरूआत करने के लिए बसंत पंचमी का दिन शुभ (Basant Panchami Shubh Muhurat 2022) माना जाता है.इस दिन कई लोग गृह प्रवेश भी करते हैं. ऐसा कहा जाता है कि इस दिन कामदेव अपनी पत्नी रति के साथ पृथ्वी पर आते हैं. इसलिए जो पति-पत्नी इस दिन भगवान कामदेव और देवी रति की पूजा करते हैं तो उनके वैवाहिक जीवन में कभी अड़चनें नहीं आती हैं.

Read More: Barsana Latth Maar Holi: बरसाना की लट्ठमार होली क्यों प्रसिद्ध है ! क्यों खेली जाती है लट्ठमार होली, जानिए इस परंपरा को

Tags:

युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।

Latest News

Fatehpur UP News: फतेहपुर में पकड़ा गया अंतर्जनपदीय टप्पेबाज गैंग ! काली बुलेरो से ज्वैलरी शॉप को करते थे टार्गेट Fatehpur UP News: फतेहपुर में पकड़ा गया अंतर्जनपदीय टप्पेबाज गैंग ! काली बुलेरो से ज्वैलरी शॉप को करते थे टार्गेट
उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के फतेहपुर (Fatehpur) में पुलिस ने ऐसे शातिर अंतर्जनपदीय गैंग को पकड़ा है जो टप्पेबाजी करते...
Fatehpur News: जब निषादराज के लिए करुणा निधान बन उठ गए सहस्त्र हांथ ! विलख रहे पिता के नेत्र से निकल रही थी अविरल धारा
Google Pixel 8 A Smartphone: गूगल पिक्सल लवर्स के लिए खुशखबरी ! अगले महीने फीचर्स से भरपूर, लॉन्च हो सकता है यह नया स्मार्टफोन
Upsc Vishal Dubey Success Story: हवलदार पिता का सपना पूरा कर बेटा बनेगा आईपीएस अफसर
Kanpur Accident News: फतेहपुर से कानपुर बारादेवी देवी जा रही पिकप हादसे का शिकार ! तीन लोगों की मौत, बड़ी संख्या में लोग घायल
Fatehpur IAS Success Story: फतेहपुर के दो होनहारों ने बढ़ाया जिले का मान ! क्रैक की यूपीएससी परीक्षा
Prayagraj Crime In Hindi: प्रयागराज के बंद कमरे में महिला पुरूष कांस्टेबल के शव ! पुलिस महकमे में हड़कंप, आखिर क्या हुआ

Follow Us