×
विज्ञापन

कौन हैं शुभेंदु अधिकारी जिनको भाजपा ने बनाया है ममता बनर्जी के खिलाफ उम्मीदवार

विज्ञापन

बीजेपी ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के लिए प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी कर दी है, इस लिस्ट में एक नाम शुभेंदु अधिकारी का है जिन्हें भाजपा ने ममता बनर्जी के खिलाफ नंदीग्राम से टिकट दिया है.पढ़ें युगान्तर प्रवाह की रिपोर्ट.

डेस्क:पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों में पूरे देश की नज़र लगी है।इस बार के चुनाव में भाजपा ने ममता बनर्जी के खिलाफ पूरी ताकत झोंक रखी है।चुनाव की घोषणा होने के बाद पार्टियों द्वारा प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया जा रहा है।शनिवार को भाजपा ने भी अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है।हालांकि इस लिस्ट में बीजेपी ने अभी पहले औऱ दूसरे चरण के चुनाव के लिए ही उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है।Shubhendu adhikari

इस लिस्ट में एक नाम शुभेंदु अधिकारी का भी है जिनको बीजेपी ने नन्दीग्राम विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है यहीं से शुभेंदु वर्तमान में विधायक भी हैं।यह सीट सबसे अधिक हाई प्रोफाइल है क्योंकि ममता बनर्जी भी यहीं से चुनावी मैदान में उतरी हैं।इस लिए यह मुकाबला काफ़ी दिलचस्प होता नज़र आ रहा है।

कौन है शुभेंदु अधिकारी..

शुभेंदु अधिकारी ममता बनर्जी सरकार में नम्बर दो वाली स्थिति में थे उन्हें ममता बनर्जी के सबसे ख़ास सिपहसालार में एक माना जाता था लेकिन कुछ महीनों पहले ही अधिकारी ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस से बागी होकर भाजपा में शामिल हुए हैं।

शुभेंदु अधिकारी को जनाधार वाले एक प्रभावशाली नेता के तौर पर जाना जाता है।शुभेंदु अधिकारी ने कांथी पीके कॉलेज से स्नातक किया और यहीं से राजनीतिक जीवन में कदम रखा था।वे 1989 में छात्र परिषद के प्रतिनिधि चुने गए। शुभेंदु 36 साल की उम्र में पहली बार 2006 में कांथी दक्षिण सीट से विधायक चुने गए।

इसके बाद वे इसी साल कांथी नगर पालिका के चेयरमैन भी बने। शुभेंदु 2009 और 2014 में तुमलुक लोकसभा सीट से जीतकर संसद पहुंचे।उन्होंने 2016 में नंदीग्राम विधानसभा सीट से जीत दर्ज की।जिसके बाद ममता ने उन्हें अपनी सरकार में मंत्री भी बनाया।

शुभेंदु अधिकारी ममता सरकार में परिवहन, जल संसाधन और विकास विभाग तथा सिंचाई एवं जलमार्ग विभाग मंत्री भी रहे। शुभेंदु पूर्वी मिदनापुर जिले के प्रभावशाली राजनीतिक परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

शुभेंदु के पिता शिशिर अधिकारी तृणमूल कांग्रेस के संस्थापक सदस्यों में रहे। वे 1982 में कांग्रेस के टिकट पर कांथी दक्षिण सीट से विधायक भी रहे।शिशिर अधिकारी तुमलुक लोकसभा सीट से सांसद हैं। वे मनमोहन सिंह सरकार में ग्रामीण विकास राज्य मंत्री भी रहे। शुभेंदु के भाई दिव्येंदु अधिकारी कांथी लोकसभा सीट से सांसद हैं।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।