×
विज्ञापन

UP:पब जी मोबाइल गेम बना छात्र की मौत का कारण..!

विज्ञापन

यूपी के हमीरपुर ज़िले में आठवीं में पढ़ने वाले एक छात्र ने फाँसी लगा आत्महत्या कर ली है..पढ़ें पूरी ख़बर युगान्तर प्रवाह पर।

हमीरपुर:मोबाइल में गेम खेलने की लत किस कदर जानलेवा हो सकती है,इसका ताज़ा उदाहरण यूपी के हमीरपुर जिले में देखने को मिला है।जहाँ एक छात्र ने घर मे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

बताया जा रहा है कि परिजनों ने ऑन लाइन पढ़ाई के लिए छात्र को मोबाइल लेकर दिया था जिसमे वह पब्जी गेम खेलने लगा और उसकी टास्क पूरी न करने के चलते डिप्रेशन में आ गया और फ़िर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है और मौत के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ें-कानपुर-अपरहण हत्या कांड:कई अफसरों पर गिरी गाज़..!

जानकारी के अनुसार राठ कोतवाली क्षेत्र के इटैलिया बाज़ा गाँव निवासी धनीराम राजपूत के 15 वर्षीय पुत्र यशेन्द्र जो कि आठवीं का छात्र था उसने घर मे फाँसी लगा ली है। मृतक छात्र के चाचा रामकिशन राजपूत ने बताया कि, उसके भतीजे यशेन्द्र के माता पिता राठ स्थित मकान में रहते हैं। तथा उन्होंने शाम को यशेन्द्र को फोन किया तो उसका फोन नही उठा। जिसके बाद उन्होंने फोन से पड़ोस में रहने वाले एक युवक को यशेन्द्र से बात कराने के लिए कहा इसके बाद जब उक्त युवक यशेन्द्र के घर पहुंचा तो अंदर से दरवाजा बंद था जो कि, काफी खटखटाने के बाद भी नही खुल सका जिसके बाद उक्त युवक पाइप से चढ़कर घर के अंदर गया तो देखा कि, यशेन्द्र वहां फाँसी पर झूल रहा था। बताया कि, मृतक यशेन्द्र कक्षा आठवीं का छात्र था जो कि, महोबा के जवाहर नवोदय विद्यालय में पढ़ता था।बताया जा रहा है कि परिजनों ने ऑन लाइन पढ़ाई के लिए छात्र को मोबाइल लेकर दिया था जिसमे वह पब्जी गेम खेलने लगा और उसकी टास्क पूरी न करने के चलते डिप्रेशन में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है,फिलहाल पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है और मौत के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

अपर पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार ने घटना के बाबत बताया कि परिजनों द्वारा थाने में सूचना दी गई थी।मौक़े पर पहुँची पुलिस ने शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।पूरे प्रकरण की गहनता से जाँच की जा रही है।


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।