×
विज्ञापन

Janmashtami 2021 Date: 29 या 30 अगस्त किस दिन मनाई जाएगी जन्माष्ठमी

विज्ञापन

जन्माष्ठमी का त्योहार इस साल किस दिन मनाया जाएगा।बहुत से लोग इसे जानना चाहते हैं।क्योंकि जन्माष्ठमी की तिथि को लेकर हर साल लोग भ्रमित रहते हैं.तो आइए जानते हैं इस साल जन्माष्ठमी किस तारीख़ को मनाई जाएगी. Janmashtami 2021 Date Janmashtami 2021 vrat kab Hai

Janmashtami 2021 Date:हिन्दू धर्म का पवित्र व्रत एवं त्योहार हर साल भाद्र माह के कृष्ण पक्ष की अष्ठमी तिथि को मनाया जाता है।हर साल तिथि औऱ नक्षत्र को लेकर लोगों के मन में संशय रहता है।जिसके चलते तिथि औऱ नक्षत्र को देखते हुए हर साल जन्माष्ठमी दो दिन मनाई जाती रही है।एक दिन स्मार्त पंथ को मानने वाले औऱ एक दिन वैष्णव पंथ को मानने वाले लोग व्रत एवं जन्मोत्सव मनाते थे। Vaishnav Janmashtami 2021 Date Shree krishna janmashtami 2021 kab Hai

विज्ञापन
विज्ञापन

लेकिन इस साल जन्माष्ठमी पर ऐसा शुभ संयोग बन रहा है कि जन्माष्ठमी एक ही दिन मनाई जाएगी। यानी 30 अगस्त दिन सोमवार को इस बार जन्माष्ठमी मनाई जाएगी।क्योंकि इसी दिन अष्ठमी तिथि औऱ रोहणी नक्षत्र का संयोग है।औऱ हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार श्री कृष्ण का जन्म भाद्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्ठमी तिथि को रोहणी नक्षत्र में हुआ था। Janmashtami 2021 Date Janmashtami 2021 Kab Hai

जन्माष्ठमी शुभ मुहूर्त. Janmashtami 2021 Shubh Muhurt

जन्माष्ठमी पर हिन्दू धर्मावलंबियों द्वारा पूरा दिन व्रत रखा जाता है।और मध्य रात्रि में श्री कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाता है।वैसे तो पूरा दिन भगवान श्री कृष्ण का स्मरण करते हुए पूजा अर्चना की जाती है।लेकिन जन्माष्ठमी की विशेष पूजा रात्रि में होती है।इस बार पूजा का शुभ मुहूर्त 30 अगस्त की रात 11 बजकर 59 मिनट से देर रात 12 बजकर 44 मिनट तक रहेगा। Janmashtami 2021 Date Janmashtami 2021 Kab Hai

रात्रि में श्री कृष्ण के बाल स्वरूप की पूजा करते हुए उन्हें माखन मिश्री का भोग अवश्य लगाएं।पंचामृत से लड्डू गोपाल को स्न्नान कराएं औऱ पंजीरी, फल,मेवा आदि का प्रसाद चढ़ाते हुए इसे अपने स्वजनों को बांटे। Janmashtami 2021 vrat kab hai

ये भी पढ़ें- Janmashtami 30 August 2021:इस साल जन्माष्ठमी पर बन रहा है द्वापर वाला संयोग क्या कहतें हैं ज्योतिषाचार्य

ये भी पढ़ें- Janmashtami 2021 Puja Time Vidhi:अपनी राशि के अनुसार करें इस बार श्रीकृष्ण जन्माष्ठमी पर पूजा होगा लाभ ही लाभ


युगान्तर प्रवाह एक निष्पक्ष पत्रकारिता का संस्थान है इसे बचाए रखने के लिए हमारा सहयोग करें। पेमेंट करने के लिए वेबसाइट में दी गई यूपीआई आईडी को कॉपी करें।